ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather AQI Today: सुबह सर्दी के साथ बढ़ी ठिठुरन, हवाएं अब भी प्रदूषित; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: सुबह सर्दी के साथ बढ़ी ठिठुरन, हवाएं अब भी प्रदूषित; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: दो दिन बारिश के बाद मौसम एकदम पलट गया है। सर्दी के साथ गलन भी बढ़ी है। तड़के और देर रात ठिठुरन का एहसास हो रहा है। वहीं प्रदूषण में कमी तो आई लेकिन अब भी हवाएं अच्छी नहीं हैं।

UP Weather AQI Today: सुबह सर्दी के साथ बढ़ी ठिठुरन, हवाएं अब भी प्रदूषित; जानें अपने शहर का हाल
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊWed, 29 Nov 2023 08:12 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather AQI Today: दो दिन की बूंदाबांदी के बाद हवाओं की गुणवत्ता में काफी सुधार आया है। कई शहरों की हवा पहले से कम प्रदूषित महसूस हो रही है। कुछ शहरों में हवा थोड़ी बेहतर है। हालांकि अब भी दिल्ली से सटे इलाकों में प्रदूषण फैला है। वेस्ट यूपी के मेरठ शहर में 300 के पार एक्यूआई के साथ हवा अब भी खराब स्थिति में है। वहीं लखनऊ में भी 300 के पार एक्यूआई दर्ज किया गया है। अन्य शहरों जैसे आगरा, बुलंदशहर, गाजियाबाद, नोएडा में भी 200 के पार एक्यूआई दर्ज किया गया है। 

कई शहरों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 100 माइक्रोग्राम पर मीटर क्यूब के ऊपर भी रिकार्ड की गई है। कई इलाकों की हवाएं खराब मानी जा सकती हैं। लेकिन बारिश के बाद से इनमें थोड़ा सुधार है। हालांकि अब भी इन इलाकों में हवाएं सांस लेने लायक हैं। साफ हवा की बात करें वृंदावन और वाराणसी की ही हवाएं केवल 100 के नीचे एक्यूआई के साथ हैं। इन्हें ठीक बताया जा रहा है। अच्छी हवाएं अभी भी यूपी के किसी शहर में दर्ज नहीं की गई हैं। 

छाए रहेंगे बादल
मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार को भी बादल छाए रहेंगे। दोपहर या शाम के बाद बूंदाबांदी के भी आसार हैं। 30 नवंबर से सुबह कोहरा और धुंध छाई रह सकती है। तीन दिसंबर से सुबह घना कोहरा छाने के संकेत हैं। हालांकि दोपहर में आसमान साफ रहेगा। तेज धूप निकलेगी। कोहरे के कारण देर रात हाइवे पर गाड़ी चलाना मुश्किल भरा हो सकता है। एक्सप्रेस-वे और हाइवे पर सुबह और देर रात दृश्यता कम हो सकती है। साल के आखिरी महीने की शुरूआत हल्के कोहरे से हो सकती है। मौसम विभाग ने यही आसार जताए हैं। हालांकि इसके साथ धुंध का भी असर रहेगा। 

यहां देखें बुधवार को सुबह छह बजे क्‍या रहा आपके शहर का एक्‍यूआई-

शहर स्थान AQI हवा कैसी है
आगरा मनोहरपुर 110 अच्छी नहीं है
  रोहता 91 ठीक है
  संजय पैलेस 263 खराब है
  आवास विकास कॉलोनी 97 ठीक है
  शाहजहां गार्डेन 96 ठीक है
  शास्त्रीपुरम 133 अच्छी नहीं है
बागपत कलेक्टर ऑफिस डाटा नहीं है  
  सरदार पटेल इंटर कॉलेज 177 अच्छी नहीं है
बरेली सिविल लाइंस 111 अच्छी नहीं है
  राजेंद्र नगर 108 अच्छी नहीं है
बुलंदशहर यमुनापुरम 219 खराब है
फिरोजाबाद नगला भाऊ 143 अच्छी नहीं है
  विभब नगर 155 अच्छी नहीं है
गाजियाबाद इंदिरापुरम 171 अच्छी नहीं है
  लोनी 240 खराब है
  संजय नगर 222 खराब है
  वसुंधरा 244 खराब है
गोरखपुर मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय 109 अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क 3 249 खराब है
  नॉलेज पार्क 5 264 खराब है
हापुड़ आनंद विहार 224 खराब है
झांसी शिवाजी नगर 106 अच्छी नहीं है
कानपुर किदवई नगर 179 अच्छी नहीं है
  आईआईटी डाटा नहीं है  
  कल्याणपुर 219 खराब है
  नेहरू नगर डाटा नहीं है  
खुर्जा कालिंदी कुंज 88 ठीक है
लखनऊ आंबेडकर यूनिवर्सिटी 222 खराब है
  सेंट्रल स्कूल 240 खराब है
  गोमती नगर 284 खराब है
  कुकरैल 216 खराब है
  लालबाग 340 बहुत खराब है
  तालकटोरा 275 खराब है
मेरठ गंगा नगर 290 खराब है
  जय भीम नगर 289 खराब है
  पल्लवपुरम 360 बहुत खराब है
मुरादाबाद बुद्धि विहार 108 अच्छी नहीं है
  इको हर्बल पार्क 134 अच्छी नहीं है
  रोजगार कार्यालय 135 अच्छी नहीं है
  जिगर कॉलोनी 101 अच्छी नहीं है
  कांशीराम नगर 116 अच्छी नहीं है
  लाजपत नगर डाटा नहीं है  
  ट्रांसपोर्ट नगर 130 अच्छी नहीं है
मुजफ्फरनगर नई मंडी 253 खराब है
नोएडा सेक्टर 125 218 खराब है
  सेक्टर 62 254 खराब है
  सेक्टर 1 245 खराब है
  सेक्टर 116 246 खराब है
प्रयागराज झूंसी 272 खराब है
  मोतीलाल नेहरू एनआईटी 265 खराब है
  नगर निगम 210 खराब है
वाराणसी अर्दली बाजार 91 ठीक है
  भेलपुर 86 ठीक है
  बीएचयू 81 ठीक है
  मलदहिया 94 ठीक है
वृंदावन ओमेक्स इटर्निटी 97 ठीक है
नोट- AQI के किस रेंज का आपके लिए क्या मतलब है नीचे का टेबल चेक कर लें
       
AQI का रेंज हवा का हाल स्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50 अच्छी है बहुत कम असर
51-100 ठीक है संवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200 अच्छी नहीं है फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300 खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400 बहुत खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500 खतरनाक है स्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें