ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather AQI Today: रात-दिन का पारा गिरते ही बढ़ी सर्दी, गाजियाबाद का एक्यूआई 400 पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: रात-दिन का पारा गिरते ही बढ़ी सर्दी, गाजियाबाद का एक्यूआई 400 पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: रात-दिन का पारा गिरते ही कई इलाकों में सर्दी बढ़ गई है। लोगों के स्वेटर निकल आए हैं। गाजियाबाद की हवा बेहद खतरनाक हो गई है। एक्यूआई 400 पार पहुंचा। जानें अपने शहर का हाल।

UP Weather AQI Today: रात-दिन का पारा गिरते ही बढ़ी सर्दी, गाजियाबाद का एक्यूआई 400 पार; जानें अपने शहर का हाल
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊSun, 26 Nov 2023 07:55 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather AQI Today: अब न दीपावली है न आतिशबाजी। पटाखों से निकला धुआं भी 12 दिनों में खत्म हो चुका है। फिर भी यूपी के सभी प्रमुख शहरों की हवाएं खराब हैं। कुछ पुअर जोन में चल रहे हैं। कारण है सिर्फ निर्माण स्थलों पर उड़ने वाली धूल, सफाई के गलत तरीके, गुपचुप कोयला-लकड़ी जलाना और वाहनों से निकलने वाला कार्बन मोनो आक्साइड।

यूपी के प्रमुख शहरों की बात करें तो इनमें से गाजियाबाद की हवा पुअर जोन में है। 400 पार एक्यूआई के साथ गाजियाबाद की हवा खतरनाक दर्ज की गई है। सबसे ज्यादा सूक्ष्म कण और धूल की मार है। वहीं कई शहर हैं जो अब भी सबसे ज्यादा प्रदूषित हैं। कई शहरों की हवाएं 300 पार एक्यूआई के साथ बेहद खराब स्थिति में हैं। साथ ही जहां एक्यूआई 200 से अधिक रहा वहां खराब स्थिति में हवाएं दर्ज हुईं। मानकों से कई गुना ज्यादा धूल और सूक्ष्म कणों की मौजूदगी हवा में मिली। साथ में वाहनों से निकलने वाला कार्बन मोनो आक्साइड भी प्रमुख रूप से है। 

प्रदूषण इतना है कि सड़कों पर निकलने के कुछ ही मिनट बाद आखें जलने लगती हैं। लोग खांसने लगते हैं। इसके पीछे सरकारी निर्माण सबसे आगे हैं। जल निगम, मेट्रो रेल कार्पोरेशन, रेलवे, नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, जल निगम जैसे विभाग मुख्य रूप से जिम्मेदार हैं। इनके निर्माण साइटों के आसपास धूल कणों की अधिकता है। शहरी इलाकों में बढ़ते प्रदूषण के पीछे खुदाई, टूटी सड़कें, गलत तरीके से होने वाली सफाई ही बड़ा कारण सामने आई है।

रात-दिन का पारा गिरते ही आई सर्दी, निकले स्वेटर
बर्फबारी के बाद हल्की सर्द हवाएं चलीं तो दिन में सर्दी आ गई। दिन में कई लोग स्वेटर पहने नजर आए। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। मौसम विभाग का कहना है कि अब दिन में भी सर्दी रहेगी। 48 घंटों में कोहरा पड़ सकता है। अधिकतम तापमान 28 डिग्री और न्यूनतम पारा 13.5 डिग्री दर्ज हुआ। 14 दिन बाद तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई। आमतौर पर मौसम साफ रहेगा। सुबह के समय कोहरा या धुंध छाए रहने की संभावना है।

यहां देखें रविवार को सुबह छह बजे क्‍या रहा आपके शहर का एक्‍यूआई-

शहर स्थान AQI हवा कैसी है
आगरा मनोहरपुर 142 अच्छी नहीं है
  रोहता 146 अच्छी नहीं है
  संजय पैलेस 299 खराब है
  आवास विकास कॉलोनी 146 अच्छी नहीं है
  शाहजहां गार्डेन डाटा नहीं है अच्छी नहीं है
  शास्त्रीपुरम 220 खराब है
बागपत कलेक्टर ऑफिस डाटा नहीं है  
  सरदार पटेल इंटर कॉलेज 296 खराब है
बरेली सिविल लाइंस 157 अच्छी नहीं है
  राजेंद्र नगर 193 अच्छी नहीं है
बुलंदशहर यमुनापुरम 233 खराब है
फिरोजाबाद नगला भाऊ डाटा नहीं है  
  विभब नगर 194 अच्छी नहीं है
गाजियाबाद इंदिरापुरम 280 खराब है
  लोनी 412 खतरनाक है
  संजय नगर 317 बहुत खराब है
  वसुंधरा 349 बहुत खराब है
गोरखपुर मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय 134 अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क 3 284 खराब है
  नॉलेज पार्क 5 364 बहुत खराब है
हापुड़ आनंद विहार 298 खराब है
झांसी शिवाजी नगर 101 अच्छी नहीं है
कानपुर किदवई नगर 161 अच्छी नहीं है
  आईआईटी डाटा नहीं है  
  कल्याणपुर 166 अच्छी नहीं है
  नेहरू नगर 224 खराब है
खुर्जा कालिंदी कुंज 190 अच्छी नहीं है
लखनऊ आंबेडकर यूनिवर्सिटी 204 खराब है
  सेंट्रल स्कूल 310 बहुत खराब है
  गोमती नगर 262 खराब है
  कुकरैल 199 अच्छी नहीं है
  लालबाग 334 बहुत खराब है
  तालकटोरा 222 खराब है
मेरठ गंगा नगर 307 बहुत खराब है
  जय भीम नगर 332 बहुत खराब है
  पल्लवपुरम 392 बहुत खराब है
मुरादाबाद बुद्धि विहार 171 अच्छी नहीं है
  इको हर्बल पार्क 221 खराब है
  रोजगार कार्यालय 200 अच्छी नहीं है
  जिगर कॉलोनी 184 अच्छी नहीं है
  कांशीराम नगर 277 खराब है
  लाजपत नगर डाटा नहीं है  
  ट्रांसपोर्ट नगर 201 खराब है
मुजफ्फरनगर नई मंडी 239 खराब है
नोएडा सेक्टर 125 349 बहुत खराब है
  सेक्टर 62 375 बहुत खराब है
  सेक्टर 1 330 बहुत खराब है
  सेक्टर 116 346 बहुत खराब है
प्रयागराज झूंसी 213 खराब है
  मोतीलाल नेहरू एनआईटी 192 अच्छी नहीं है
  नगर निगम 179 अच्छी नहीं है
वाराणसी अर्दली बाजार 102 अच्छी नहीं है
  भेलपुर 109 अच्छी नहीं है
  बीएचयू 83 ठीक है
  मलदहिया 126 अच्छी नहीं है
वृंदावन ओमेक्स इटर्निटी 241 खराब है
नोट- AQI के किस रेंज का आपके लिए क्या मतलब है नीचे का टेबल चेक कर लें
AQI का रेंज हवा का हाल स्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50 अच्छी है बहुत कम असर
51-100 ठीक है संवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200 अच्छी नहीं है फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300 खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400 बहुत खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500 खतरनाक है स्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें