ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather AQI Today: बारिश का अलर्ट, बढ़ेगी ठंड, प्रदूषण में नहीं आ रही कमी; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: बारिश का अलर्ट, बढ़ेगी ठंड, प्रदूषण में नहीं आ रही कमी; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: यूपी के कई शहरों में कोहरे के साथ बारिश का अलर्ट है। इससे पारा गिरने और ठंड बढ़ने की संभावना है। प्रदूषण में भी कमी नहीं आई है। हवाएं जहरीली हो रही हैं। जानें अपने शहर का हाल।

UP Weather AQI Today: बारिश का अलर्ट, बढ़ेगी ठंड, प्रदूषण में नहीं आ रही कमी; जानें अपने शहर का हाल
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊSat, 02 Dec 2023 08:11 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather AQI Today: उत्तर प्रदेश गन्ना शोध परिषद के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक के अनुमान के मुताबिक, मौसम में तब्दीली होने के आसार हैं। अगले तीन दिन आसमान को बादल घेरे रह सकते हैं। इस वजह से धूप भी मुश्किल से ही देखने को मिलेगी। बताया कि धूप न निकलने की वजह से ठंड में इजाफा हो सकता है। अनुमान के अनुसार, अधिकतम औसत तापमान 25 और न्यूनतम औसत तापमान 13 डिग्री तक लुढ़क सकता है। ऐसे में बच्चों, बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। साथ ही दिल के मरीजों को भी सावधान रहने की जरूरत है। सांस के मरीजों को भी होशियार रहना होगा।

यूपी के शहरों में दोपहर से शाम तक हवाएं बेहद जहरीली हो रही हैं। एक सर्वे के अनुसार, सुबह के समय जहां पीएम-10 98.18 रिकार्ड किया गया। वहीं दोपहर से शाम तक यह 257 से पार पहुंच गया। पीएम 2.5 के मामले में यह आंकड़े 53.79 से 72.66 के रूप में बदले। ब्लैक कार्बन 4.53 से 4.90 पहुंच गया। इस कारण कई शहरों का एक्यूआई अब भी 300 के पार है। वहीं ज्यादातर शहर 100 से 200 और 200 से 300 के बीच के एक्यूआई में फंसे हैं। लगभग हर शहर की हवा जहरीली है।

रात में प्रदूषण का स्तर काफी कम रहता है
हवा में जहरीले कणों के कारण से खतरनाक प्रभाव लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। रात में यातायात और व्यावसायिक गतिविधि कम होने से प्रदूषण का स्तर कम रहता है, लेकिन दिन में यह बढ़ जाता है। दोपहर और शाम को पीएम 10 का स्तर तीन सौ के पास पहुंच जाता है। ब्लैक कार्बन 24 घंटे लोगों को बीमार बना रहा है।

नजर नहीं आ रहा गांव का प्रदूषण
प्रदेश में 75 जिले हैं लेकिन केवल 26 शहरों में 84 ऑपरेटिंग मॉनिटरिंग स्टेशन हैं। इनमें से अधिकांश स्टेशन, आवासीय या औद्योगिक, शहरी क्षेत्रों में स्थित हैं। अर्धशहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे शहरों में मॉनिटरिंग हो नहीं रही है। इसी का परिणाम है कि गांव-कस्बों के प्रदूषण तक नजर नहीं पहुंच रही है। वायु प्रदूषण की स्थिति सिर्फ एनसीआर और बड़े शहरों में ही नहीं है। बल्कि छोटे कस्बे और गांव-देहात की हवा भी खराब है। विभाग द्वारा कराए गए सर्वे में यह स्थिति सामने आयी है। दिन चढ़ते ही हवा बेहद जहरीली होने लगती है। आवासीय और यातायात भीड़ वाले क्षेत्र, भारी यातायात के निकट प्रदूषण का स्तर काफी अधिक मिला। पार्टिकुलेट मैटर (पीएम) और ब्लैक कार्बन खतरनाक स्तर पर मिले हैं। ऐसे इलाकों के रहने वाले लोगों स्वास्थ्य पर असर पड़ता है।

यहां देखें शनिवार को सुबह छह बजे क्‍या रहा आपके शहर का एक्‍यूआई-

शहर स्थान AQI हवा कैसी है
आगरा मनोहरपुर 52 ठीक है
  रोहता 63 ठीक है
  संजय पैलेस 91 ठीक है
  आवास विकास कॉलोनी 52 ठीक है
  शाहजहां गार्डेन 66 ठीक है
  शास्त्रीपुरम 104 अच्छी नहीं है
बागपत कलेक्टर ऑफिस डाटा नहीं है  
  सरदार पटेल इंटर कॉलेज 288 खराब है
बरेली सिविल लाइंस 142 अच्छी नहीं है
  राजेंद्र नगर 134 अच्छी नहीं है
बुलंदशहर यमुनापुरम 224 खराब है
फिरोजाबाद नगला भाऊ 55 ठीक है
  विभब नगर 89 ठीक है
गाजियाबाद इंदिरापुरम 259 खराब है
  लोनी 341 बहुत खराब है
  संजय नगर 294 खराब है
  वसुंधरा 329 बहुत खराब है
गोरखपुर मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय 107 अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क 3 311 बहुत खराब है
  नॉलेज पार्क 5 351 बहुत खराब है
हापुड़ आनंद विहार 297 खराब है
झांसी शिवाजी नगर 80 ठीक है
कानपुर किदवई नगर 119 अच्छी नहीं है
  आईआईटी डाटा नहीं है  
  कल्याणपुर 122 अच्छी नहीं है
  नेहरू नगर 224 खराब है
खुर्जा कालिंदी कुंज डाटा नहीं है  
लखनऊ आंबेडकर यूनिवर्सिटी 73 ठीक है
  सेंट्रल स्कूल 140 अच्छी नहीं है
  गोमती नगर 174 अच्छी नहीं है
  कुकरैल 102 अच्छी नहीं है
  लालबाग 247 खराब है
  तालकटोरा 159 अच्छी नहीं है
मेरठ गंगा नगर 303 बहुत खराब है
  जय भीम नगर 304 बहुत खराब है
  पल्लवपुरम 365 बहुत खराब है
मुरादाबाद बुद्धि विहार 117 अच्छी नहीं है
  इको हर्बल पार्क 191 अच्छी नहीं है
  रोजगार कार्यालय 167 अच्छी नहीं है
  जिगर कॉलोनी 127 अच्छी नहीं है
  कांशीराम नगर 155 अच्छी नहीं है
  लाजपत नगर डाटा नहीं है  
  ट्रांसपोर्ट नगर 159 अच्छी नहीं है
मुजफ्फरनगर नई मंडी 295 खराब है
नोएडा सेक्टर 125 331 बहुत खराब है
  सेक्टर 62 डाटा नहीं है  
  सेक्टर 1 338 बहुत खराब है
  सेक्टर 116 348 बहुत खराब है
प्रयागराज झूंसी 101 अच्छी नहीं है
  मोतीलाल नेहरू एनआईटी 69 ठीक है
  नगर निगम 93 ठीक है
वाराणसी अर्दली बाजार 61 ठीक है
  भेलपुर 91 ठीक है
  बीएचयू 48 अच्छी है
  मलदहिया 82 ठीक है
वृंदावन ओमेक्स इटर्निटी 69 ठीक है
नोट- AQI के किस रेंज का आपके लिए क्या मतलब है नीचे का टेबल चेक कर लें
       
AQI का रेंज हवा का हाल स्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50 अच्छी है बहुत कम असर
51-100 ठीक है संवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200 अच्छी नहीं है फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300 खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400 बहुत खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500 खतरनाक है स्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें