ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather AQI Today: छठ से पहले बढ़ गई ठंड, इस दिन से कोहरा, मेरठ का एक्यूआई 400 पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: छठ से पहले बढ़ गई ठंड, इस दिन से कोहरा, मेरठ का एक्यूआई 400 पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: छठ पूजा से पहले यूपी में ठंड बढ़ गई है। छठ के दिन तक सभी शहरों में कोहरा भी छाया रहेगा। वहीं हवा जहरीली होती जा रही है। मेरठ का एक्यूआई 400 के पार है। जानें अपने शहर का एक्यूआई।

UP Weather AQI Today: छठ से पहले बढ़ गई ठंड, इस दिन से कोहरा, मेरठ का एक्यूआई 400 पार; जानें अपने शहर का हाल
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊThu, 16 Nov 2023 07:48 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather AQI Today: छठ से पहले ठंड बढ़ गई है। रात का न्यनूतम पारा 14.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 2 डिग्री सेल्सियस कम रहा। वहीं, अधिकतम तापमान 28.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री कम है। रात व सुबह सर्दी बढ़ने से लोग जैकेट और स्वेटर पहनने लगे हैं। घरों में गरम चादर व कम्बल निकल आए हैं।

मौसम वैज्ञानिक का कहना है कि 19 नवम्बर तक सुबह कोहरा और धुंध रहेगी। हालांकि बाद में आसमान साफ हो जाएगा। वहीं 20 व 21 नवम्बर को कोहरा बढ़ेगा। जानकारी के अनुसार अगले एक हफ्ते तक दिन का पारा 28 व 29 डिग्री सेल्सिय रहेगा, जबकि रात का पारा 17 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। शहर के मुकाबले ग्रामीण इलाकों में रात व सुबह के समय सर्दी बढ़ गई है।

वहीं हवा की क्वालिटी की बात करें तो पटाखों के धुएं से बढ़ा प्रदूषण कम नहीं हो रहा है। हालांकि दिवाली के पहले हुई बारिश से हवा सुधरी थी लेकिन दिवाली पर चले पटाखों से एक बार फिर हवा की गुणवत्ता खराब स्तर पर पहुंच गई है। बीते 24 घंटों में मेरठ में वायु प्रदूषण उच्चतम स्तर पर है। एक्यूआई 400 के पार मापा गया है। दिवाली के पहले हुई बारिश से कम हुआ प्रदूषण पटाखों के धुएं से फिर बढ़ गया है। जहां प्रदूषण नियंत्रण के लिए कई इलाकों की फैक्ट्रियां बंद करवाई गई हैं वहीं कई इलाकों में पानी का छिड़काव भी किया गया है। बावजूद इसके प्रदूषण का स्तर नीचे नहीं आ रहा है। 

कई शहरों का एक्यूआई 300 के पार है। सबसे प्रदूषित इलाके दिल्ली से सटे एनसीआर और वेस्ट यूपी के बने हुए हैं। हवा की गुणवत्ता में सुधार के लिए प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कई प्रयास किए हैं। बावजूद इसके स्थितियां नहीं सुधर रही हैं। बोर्ड की ओर से कई संस्थानों को नोटिस दिया गया है। जानकारी के अनुसार कार्रवाई भी की गई लेकिन इस कवायद का कोई खास फर्क हवा की गुणवतता पर नहीं पड़ा है। लगभग सभी शहरों की हवा चिंताजनक स्थिति में है।

यहां देखें गुरुवार को सुबह छह बजे क्‍या रहा आपके शहर का एक्‍यूआई-

शहर स्थान AQI हवा कैसी है
आगरा मनोहरपुर 139 अच्छी नहीं है
  रोहता 157 अच्छी नहीं है
  संजय पैलेस 172 अच्छी नहीं है
  आवास विकास कॉलोनी 190 अच्छी नहीं है
  शाहजहां गार्डेन 228 खराब है
  शास्त्रीपुरम 135 अच्छी नहीं है
बागपत कलेक्टर ऑफिस डाटा नहीं है  
  सरदार पटेल इंटर कॉलेज 381 बहुत खराब है
बरेली सिविल लाइंस 192 अच्छी नहीं है
  राजेंद्र नगर 154 अच्छी नहीं है
बुलंदशहर यमुनापुरम 310 बहुत खराब है
फिरोजाबाद नगला भाऊ 154 अच्छी नहीं है
  विभब नगर 119 अच्छी नहीं है
गाजियाबाद इंदिरापुरम 371 बहुत खराब है
  लोनी 362 बहुत खराब है
  संजय नगर 346 बहुत खराब है
  वसुंधरा 360 बहुत खराब है
गोरखपुर मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय 135 अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क 3 345 बहुत खराब है
  नॉलेज पार्क 5 डाटा नहीं है  
हापुड़ आनंद विहार 298 खराब है
झांसी शिवाजी नगर 204 खराब है
कानपुर किदवई नगर 145 अच्छी नहीं है
  आईआईटी डाटा नहीं है  
  कल्याणपुर 134 अच्छी नहीं है
  नेहरू नगर 147 अच्छी नहीं है
खुर्जा कालिंदी कुंज 132 अच्छी नहीं है
लखनऊ आंबेडकर यूनिवर्सिटी 150 अच्छी नहीं है
  सेंट्रल स्कूल 188 अच्छी नहीं है
  गोमती नगर 148 अच्छी नहीं है
  कुकरैल 133 अच्छी नहीं है
  लालबाग 260 खराब है
  तालकटोरा 227 खराब है
मेरठ गंगा नगर 302 बहुत खराब है
  जय भीम नगर 412 खतरनाक है
  पल्लवपुरम 400 खतरनाक है
मुरादाबाद बुद्धि विहार 172 अच्छी नहीं है
  इको हर्बल पार्क 155 अच्छी नहीं है
  रोजगार कार्यालय 184 अच्छी नहीं है
  जिगर कॉलोनी 130 अच्छी नहीं है
  कांशीराम नगर 216 खराब है
  लाजपत नगर डाटा नहीं है  
  ट्रांसपोर्ट नगर 174 अच्छी नहीं है
मुजफ्फरनगर नई मंडी 223 खराब है
नोएडा सेक्टर 125 341 बहुत खराब है
  सेक्टर 62 362 बहुत खराब है
  सेक्टर 1 353 बहुत खराब है
  सेक्टर 116 डाटा नहीं है  
प्रयागराज झूंसी 139 अच्छी नहीं है
  मोतीलाल नेहरू एनआईटी 204 खराब है
  नगर निगम 220 खराब है
वाराणसी अर्दली बाजार 84 ठीक है
  भेलपुर 99 ठीक है
  बीएचयू 56 ठीक है
  मलदहिया 76 ठीक है
वृंदावन ओमेक्स इटर्निटी डाटा नहीं है  
नोट- AQI के किस रेंज का आपके लिए क्या मतलब है नीचे का टेबल चेक कर लें
AQI का रेंज हवा का हाल स्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50 अच्छी है बहुत कम असर
51-100 ठीक है संवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200 अच्छी नहीं है फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300 खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400 बहुत खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500 खतरनाक है स्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें