ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather AQI Today: धुंध और स्मॉग के साथ छाई कोहरे की चादर, वेस्ट यूपी में एक्‍यूआई 300 पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: धुंध और स्मॉग के साथ छाई कोहरे की चादर, वेस्ट यूपी में एक्‍यूआई 300 पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: दिवाली के बाद से ही हवा में घुला जहर कम नहीं हुआ है। शहरों में धुंध और स्मॉग के साथ कोहरे की चादर भी छा गई है। वेस्ट यूपी में एक्‍यूआई 300 के पार है। जानें अपने शहर का हाल।

UP Weather AQI Today: धुंध और स्मॉग के साथ छाई कोहरे की चादर, वेस्ट यूपी में एक्‍यूआई 300 पार; जानें अपने शहर का हाल
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊWed, 15 Nov 2023 07:48 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather AQI Today: दिवाली पर फोड़े गए पटाखों के कारण अभी तक यूपी के कई शहरों की हवा जहरीली है। दिवाली की रात शहरों की हवा पटाखों के धुएं से जहरीली हो गई। कई शहरों का एक्यूआई 200 के पार है और नीचे नहीं आ रहा है। वहीं कई शहरों की हवा साफ तो हो रही है लेकिन अभी भी एक्यूआई 100 के पार बना हुआ है। इसके अलावा अब ठंड का असर भी बढ़ रहा है। ऐसे में पटाखों के कारण हुए धूल, धुंध, स्मॉग के साथ ही कोहरा भी देखने को मिल रहा है। शहरों में सुबर की शुरुआत एक सफेद चादर से हो रही है जो स्मॉग है या कोहरा ये कह पाना मुश्किल हो रहा है। 

केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के जारी आंकड़ों में हवा की गुणवत्ता का सूचकांक (एक्यूआई) कई इलाकों में खराब (पूअर) दर्ज किया गया। ऐसे में ठंड और खराब हवा के कारण सांस के मरीजों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। शहरों में प्रदूषण का उच्चतम स्तर रात 12 से सुबह चार बजे के बीच ज्यादा हो रहा। बड़ी संख्या में लोग अभी भी पटाखे छुड़ा रहे हैं इससे रात के प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है। 

सुबह से दोपहर तक मास्क लगाकर ही निकलें
विशेषज्ञों का कहना है कि सुबह आठ से लेकर दोपहर 12 बजे तक की हवाएं सबसे ज्यादा खराब हैं। इसी दौरान पीएम 2.5 (सूक्ष्म कण), पीएम 10 (धूल) और कार्बन मोनो आक्साइड की मौजूदगी सर्वाधिक मापी गई है। यानि इस बीच अगर बाहर निकलें तो मास्क लगाना ही ठीक रहेगा। दीपावली के बाद प्रदूषण में मामूली कमी आई है। त्योहारों के मौके पर वाहनों की अधिक आवाजाही से भी प्रदूषण बढ़ रहा है। इससे गले संबंधी दिक्कतें होती हैं। आखों को भी नुकसान पहुंच सकता है।

कई दिनों तक रहेगी उतार चढ़ाव की स्थिति
तापमान में हल्का उतार-चढ़ाव है। दिन का तापमान सामान्य से कम है। हवाएं भी मंद चल रही हैं। इसलिए अभी प्रदूषणकारी तत्व सतह पर बने रहेंगे। तेज धूप खिलने पर यह ऊपर उठते हैं लेकिन नमी बढ़ने पर फिर बैठ जाते हैं। जब तक तेज हवाएं नहीं चलेंगी, तब तक प्रदूषण का स्तर यही बना रह सकता है। सप्ताह भर तक यह स्थिति झेलनी पड़ सकती है। तापमान की बात करें तो न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस मापा जा रहा है।

यहां देखें बुधवार को सुबह छह बजे क्‍या रहा आपके शहर का एक्‍यूआई-

शहर स्थान AQI हवा कैसी है
आगरा मनोहरपुर 131 अच्छी नहीं है
  रोहता 182 अच्छी नहीं है
  संजय पैलेस 86 ठीक है
  आवास विकास कॉलोनी 185 अच्छी नहीं है
  शाहजहां गार्डेन 191 अच्छी नहीं है
  शास्त्रीपुरम 184 अच्छी नहीं है
बागपत कलेक्टर ऑफिस डाटा नहीं है  
  सरदार पटेल इंटर कॉलेज 360 बहुत खराब है
बरेली सिविल लाइंस 153 अच्छी नहीं है
  राजेंद्र नगर 128 अच्छी नहीं है
बुलंदशहर यमुनापुरम 247 खराब है
फिरोजाबाद नगला भाऊ 174 अच्छी नहीं है
  विभब नगर 132 अच्छी नहीं है
गाजियाबाद इंदिरापुरम 367 बहुत खराब है
  लोनी 364 बहुत खराब है
  संजय नगर 339 बहुत खराब है
  वसुंधरा 366 बहुत खराब है
गोरखपुर मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय 178 अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क 3 311 बहुत खराब है
  नॉलेज पार्क 5 डाटा नहीं है  
हापुड़ आनंद विहार 267 खराब है
झांसी शिवाजी नगर 202 खराब है
कानपुर किदवई नगर 145 अच्छी नहीं है
  आईआईटी डाटा नहीं है  
  कल्याणपुर 133 अच्छी नहीं है
  नेहरू नगर 147 अच्छी नहीं है
खुर्जा कालिंदी कुंज 95 ठीक है
लखनऊ आंबेडकर यूनिवर्सिटी 113 अच्छी नहीं है
  सेंट्रल स्कूल 172 अच्छी नहीं है
  गोमती नगर 167 अच्छी नहीं है
  कुकरैल 124 अच्छी नहीं है
  लालबाग 283 खराब है
  तालकटोरा 246 खराब है
मेरठ गंगा नगर 263 खराब है
  जय भीम नगर 380 बहुत खराब है
  पल्लवपुरम 362 बहुत खराब है
मुरादाबाद बुद्धि विहार 142 अच्छी नहीं है
  इको हर्बल पार्क 147 अच्छी नहीं है
  रोजगार कार्यालय 184 अच्छी नहीं है
  जिगर कॉलोनी 145 अच्छी नहीं है
  कांशीराम नगर 183 अच्छी नहीं है
  लाजपत नगर डाटा नहीं है  
  ट्रांसपोर्ट नगर 180 अच्छी नहीं है
मुजफ्फरनगर नई मंडी 275 खराब है
नोएडा सेक्टर 125 332 बहुत खराब है
  सेक्टर 62 369 बहुत खराब है
  सेक्टर 1 331 बहुत खराब है
  सेक्टर 116 315 बहुत खराब है
प्रयागराज झूंसी 186 अच्छी नहीं है
  मोतीलाल नेहरू एनआईटी 207 खराब है
  नगर निगम 213 खराब है
वाराणसी अर्दली बाजार डाटा नहीं है  
  भेलपुर 101 अच्छी नहीं है
  बीएचयू 51 ठीक है
  मलदहिया 89 ठीक है
वृंदावन ओमेक्स इटर्निटी 186 अच्छी नहीं है
नोट- AQI के किस रेंज का आपके लिए क्या मतलब है नीचे का टेबल चेक कर लें
AQI का रेंज हवा का हाल स्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50 अच्छी है बहुत कम असर
51-100 ठीक है संवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200 अच्छी नहीं है फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300 खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400 बहुत खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500 खतरनाक है स्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें