ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather: यूपी में दो दिन तेज हवाओं का अलर्ट, 5 मई को बदलेगा मौसम; मौसम विभाग ने की ये भविष्‍यवाणी 

UP Weather: यूपी में दो दिन तेज हवाओं का अलर्ट, 5 मई को बदलेगा मौसम; मौसम विभाग ने की ये भविष्‍यवाणी 

UP Weather Update: पिछले 3 दिनों से हवा का रुख पूर्व से पश्चिम की ओर था। मंगलवार से यह बदल कर पश्चिम से पूर्व हो गया। पश्चिमी विक्षोभ के पीछे आ रही यह हवा दिन के समय तेज गति पकड़ेगी।

UP Weather: यूपी में दो दिन तेज हवाओं का अलर्ट, 5 मई को बदलेगा मौसम; मौसम विभाग ने की ये भविष्‍यवाणी 
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता,लखनऊWed, 01 May 2024 11:00 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather Update: दो दिन तेज हवाएं परेशान करेंगी, लेकिन प्रचंड गर्मी से मामूली राहत भी देंगी। यानी अधिकतम तापमान 40 डिग्री या इसके नीचे रह सकता है। वहीं, पांच मई को लखनऊ समेत यूपी के कई शहरों में मौसम बदल सकता है। पिछले तीन दिनों से हवा का रुख पूर्व से पश्चिम की ओर था। मंगलवार से यह बदल कर पश्चिम से पूर्व हो गया। पश्चिमी विक्षोभ के पीछे आ रही यह हवा दिन के समय तेज गति पकड़ेगी।

अमौसी स्थित मौसम केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के अनुसार दिन में हवा की रफ्तार 25 से 35 किलोमीटर प्रतिघंटा तक रह सकती है। इससे अधिकतम तापमान पर असर पड़ेगा। हीट वेव की बन रही परिस्थितियों को तेज हवा रोकने का कार्य करेंगी। मौसम वैज्ञानिक के अनुसार देश के पश्चिमी हिस्से में एक विक्षोभ सक्रिय है।

40 के पार गया पारा
मंगलवार को दिन में हवा तेज रही लेकिन धूप की तल्खी भी दोपहर तक बढ़ती गई। नतीजतन जिन सड़कों पर वाहनों की अधिकता रहती थी वे चार बजे तक सूनी दिखीं। दो पहिया पर पीछे बैठने वाले सिर पर गमछा या रूमाल रखकर धूप से बचते दिखे। इस बीच अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

छाछ और पानी के इंतजाम का आदेश 
शहरों में भीषण गर्मी से राहत देने के लिए छाछ और पानी के इंतजाम कराने के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए एनजीओ, सामुदायिक समूहों के साथ व्यक्तिगत रूप से मदद करने वालों का सहयोग लिया जाएगा। प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात ने इस संबंध में शासनादेश जारी करते हुए निकायों को निर्देश भेज दिया है। इसमें कहा गया है कि खुले पार्कों में छाया की समुचित व्यवस्था की जाएगी। सड़कों पर नियमित रूप से पानी का छिड़काव कराया जाएगा।

शहरी क्षेत्रों में नई इमारतों के निर्माण के लिए समुचित कार्ययोजना तैयार की जाएगी। लोगों को लू से बचाने और राहत कार्य के लिए प्रदेश और निकाय स्तर पर नोडल अधिकारी नामित किए जाएंगे। लू से बचाव के लिए क्या करें और क्या न करें, इसके लिए जानकारी दी जाएगी। मोबाइल और वाट्सएप के माध्यम से जागरूक किया जाएगा। स्वास्थ्य केंद्रों व आंगनबाड़ी केंद्रों पर ओआरएस का पैकेट समुचित मात्रा में रखा जाएगा। तीव्र गर्मी को देखते हुए कामगारों के काम के घंटे में बदलाव किया जाएगा।

लोगों को दी जाएगी सूचना 
निकायों में गर्मी से बचाव के लिए ठहराव के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी। अधिक तापमान की स्थिति में लोगों को इसकी सूचना विभिन्न माध्यमों से दी जाएगी। व्यस्त स्थानों पर मौसम के पूर्वानुमानों और तापमान का डिस्प्ले किया जाएगा। निकाय अभियान चलाकर खराब नलकूप को ठीक कराएंगे। पशुओं के लिए आश्रय स्थलों पर समुचित दवा व पानी की व्यवस्था की जाएगी।