DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी के इस स्कूल में शिक्षक लगा रहे हैं झाड़ू, साफ कर रहें शौचालय, जानिए क्या है पूरा मामला

up teacher

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  के निर्देश पर परिषदीय विद्यालय 25 जून से खोल दिए गए ताकि स्कूलों में सफाई आदि कराई जा सके। ज्यादातर विद्यालयों में सफाई कर्मी न होने के कारण स्वच्छता का काम शिक्षक शिक्षिकाओं को खुद करना पड़ रहा है। कोई झाड़ू लगा रहा है तो कोई शौचालय साफ कर रहा है।

मुख्यमंत्री ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक कर निर्देश दिए थे की पहली जुलाई से पहले स्कूल खोले जाएं और यहां सफाई आदि कराई जाए।पहले ही दिन बच्चों को किताबें, शूज और मोज़े आदि मिल सकें। इसी के चलते नगर समेत सभी ब्लॉकों के स्कूल 25 से खोल दिए गए है।

खाडेपुर से स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक समेत पूरे स्टाफ को स्कूल की सफाई के लिए स्वयं लगना पड़ा। यहां एक सफाई कर्मचारी की नियुक्ति है लेकिन उसकी उपस्थिति विद्यालय में नहीं रही।

 स्कूलों से जुड़ी सभी व्यवस्थाओं को पूरा करने के लिए  बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण मणि त्रिपाठी ने प्रधानध्यापको के साथ बैठक कर चेतावनी दी है कि पहली जुलाई से पहले सभी व्यवस्थाएं दुरूस्त न हुई तो पूरे स्टाफ पर कार्यवाही होगी ।  प्रधानाध्यापक  मोहम्मद शाहिद  बताया कि सफाई कर्मचारी ना मिलने से  पूरे स्टाफ को  पिछले तीन दिनों से  सफाई कार्य में  लगना पड़ा है  शौचालय तक  साफ करने की  मजबूरी है।

पति की बाइक से जा रही थी ससुराल,जैसे ही प्रेमी का घर दिखा कूदकर भाग गई

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP teachers are putting broom