ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी में आलोक हत्याकांड के विरोध में लखनऊ-वाराणसी हाइवे पर जाम लगा प्रदर्शन, ये रखी मांग

यूपी में आलोक हत्याकांड के विरोध में लखनऊ-वाराणसी हाइवे पर जाम लगा प्रदर्शन, ये रखी मांग

सुलतानपुर में आलोक हत्याकांड के विरोध में लखनऊ-वाराणसी हाइवे जामकर लोगों ने प्रदर्शन किया। लोगों ने ई-रिक्शा एजेंसी के मालिक को गिरफ्तार करने का दबाव बनाया। पुलिस ने दो अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया।

यूपी में आलोक हत्याकांड के विरोध में लखनऊ-वाराणसी हाइवे पर जाम लगा प्रदर्शन, ये रखी मांग
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,सुल्तानपुरTue, 11 Jun 2024 11:34 AM
ऐप पर पढ़ें

सुलतानपुर में आलोक कोरी हत्याकांड में मंगलवार सुबह नया मोड़ आ गया।परिजनों ने लखनऊ -वाराणसी नेशनल हाइवे जामकर प्रदर्शन शूरू कर दिया है। परिजन ई-रिक्शा एजेंसी संचालक की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। पुलिस ने पिता की तहरीर पर दो अज्ञात के विरुद्ध हत्या का केस दर्जकर चुकी है। नगर कोतवाल श्रीराम पाण्डेय व थानाध्यक्ष धम्मौर दल बल के साथ मौके पर परिजनों को समझाने बुझाने और मान मनौव्वल में जुटे हैं। 

वही परिजनों ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए हैं। सुबह सात बजे से हाइवे पर जाम लगा हुआ है। प्रदर्शन कर रहे लोगों में मृतक के बड़े पिता की बेटी ने बताया कि रविवार को आलोक सारा दिन घर पर था। चार बजे शाम को एजेंसी मालिक का फोन आया कहा आ जाओ। मम्मी पापा खेत में गए थे, छोटी बहन सपना को बताकर गया। 9-10 बजे तक एजेंसी पर था, दो लोग वहां मुंह बंदकर के आए। बोतल भरने तक का कैमरा चालू था उसके बाद कैसे कैमरा बंद हो गया।हमारी मांग है जो बुलाया है उसे पकड़कर के लाए। भाई का मोबाइल भी गायब है।  

छह महीने से पत्नी मायके में रह रही, घर में फांसी पर लटका मिला वकील, मौत बनी राज

धम्मौर थाना के सोमनाभार बिकना गांव में सोमवार को ग्रामीणों को बिना सिर के लाश मिली थी। पुलिस, डॉग स्क्वॉयड और फॉरेंसिक टीम की जांच में शव से करीब दो सौ मीटर दूरी पर युवक का धड़ से अलग सिर भी मिला था। उसकी  पहचान कोतवाली नगर के अफलेपुर निवासी आलोक कुमार के रूप में हुई थी। एडिशनल एसपी अरुण चंद्र, सीओ सिटी शिवम मिश्रा और एसओ तरुण पटेल ने घटनास्थल पर जाकर साक्ष्य जुटाए हैं। 

एएसपी अरुण चंद्र के मुताबकि मृतक के पिता अनिल की तहरीर पर दो अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। परिजनों के मुताबिक आलोक कोतवाली नगर के अमहट में एक ई-रिक्शा एजेंसी पर काम करता था। रविवार रात करीब 9 बजे दो युवक एजेंसी से उसे अपने साथ ले गए थे। देर रात तक जब वह घर नहीं पहुंचा तो उसके पिता ई-रिक्शा एजेंसी पर गए। एजेंसी पर पता चला कि आलोक वहीं बाइक खड़ी करके दो मित्रों के साथ कहीं गया है। वहां से लौटकर उन्होंने काफी खोजबीन की लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। पिता अनिल ने कहा कि कैसे वहां ले जाकर हत्या की गई यह कुछ समझ में नहीं आ रहा है।

पुलिस सर्विलांस की ले रही मदद 
वो दो व्यक्ति कौन थे जो युवक को रात में एजेंसी से साथ लेकर गए थे। पुलिस इसे सर्च कर रही है। सर्विलांस के जरिए पुलिस जल्द ही हत्यारों तक पहुंच सकती है।