ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के इस शहर से बच्चों का 4152 नाम का गैंग, झगड़ों और बर्थडे पार्टी में इन कामों के लिए होते इकट्ठा

यूपी के इस शहर से बच्चों का 4152 नाम का गैंग, झगड़ों और बर्थडे पार्टी में इन कामों के लिए होते इकट्ठा

यूपी के सीतापुर में एक 9वीं के छात्र को 11वीं के छात्रों ने नदी में फेंक दिया। इस मामले में आरोपी एक के पकड़े जाने पर खुलासा हुआ कि शहर में बच्चों का 4152 नाम का गैंग चल रहा है।

यूपी के इस शहर से बच्चों का 4152 नाम का गैंग, झगड़ों और बर्थडे पार्टी में इन कामों के लिए होते इकट्ठा
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,सीतापुरFri, 23 Feb 2024 10:31 AM
ऐप पर पढ़ें

सीतापुर के महमूदाबाद में एक बच्चे को पानी में फेंकने वाले 11वीं के छात्र के पकड़े जाने पर उसने कई खुलासे किए। उसने बताया कि यहां 4152 नाम का किशोरों का एक गैंग चल रहा है। बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया के इस गैंग में एक हजार से अधिक बच्चे मोबाइल नेटवर्क से जुड़े हैं और एमएमएस के जरिए सूचनाओं का आदान प्रदान करते हैं। इस गैंग में 90 फीसदी किशोर हैं। पुलिस को इसका सुराग लगा और वह इसकी छानबीन कर रही है।

नामक गैंग में सक्रिय है। यह गैंग बच्चों के छोटे-छोटे झगड़ों में वर्चस्व दिखाने के लिए काम करता है। कुछ किशोरों को लेकर किसी भी बात के लिए एकजुट हो जाते हैं। धीरे धीरे इसका नेटवर्क और कार्यशैली भी बढ़ रही है। अराजक हो रहे हैं। यह गैंग बीते एक वर्ष से सक्रिय है। जिसके संबंध में अभी तक न तो अभिभावक और न ही शिक्षकों को कोई जानकारी है। पुलिस को भी जानकारी नहीं थी। 

बताया जाता है कि इस गैंग से जुड़े लड़के देर शाम तक स्टंटबाजी, नशा व हुड़दंग के कार्यों को अंजाम दे रहे हैं। बर्थ डे पार्टियों में भी यह एक दूसरे के यहां पहुंच रहे। इससे नेटवर्क बढ़ रहा है। पुलिस के सामने आरोपी छात्र के कबूलनामे के बाद से पुलिस अचम्भे में हैं। समाज के वरिष्ठ जन भी काफी चिंतित हैं। पुलिस इस गैंग के सदस्यों की तेजी से पहचान करने में जुटी है। उसके लिए अलग से टीम बनी है। जल्द ही उनको गिरफ्तार किया जाएगा।

9वीं के छात्र को स्कूल के बच्चों ने नहर में फेंका, दो दिन से तलाश में लगे गोताखोर

नेटवर्क के सक्रिय सदस्यों को पकड़ने की तैयारी
4152 गैंग का नाम सुनकर पुलिस अधिकारी भी चौकन्ना हो गए हैं। बताया जा रहा है इस गैंग के टाप सदस्यों को पकड़ने की तैयारी है इसके लिए विभिन्न थानों में भी सदस्यों की खोजबीन होगी। उसके बाद पुलिस इस गैंग पर ठोस कार्रवाई करेगी। फिलहाल गैंग के सदस्यों की पहचान कराई जा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें