ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी रोडवेज की बसें बिना कंडक्टर नॉन स्टाप दौड़ेंगी, परिवहन विभाग की अनूठे प्रयोग की तैयारी

यूपी रोडवेज की बसें बिना कंडक्टर नॉन स्टाप दौड़ेंगी, परिवहन विभाग की अनूठे प्रयोग की तैयारी

यूपी रोडवेज की बसें बिना कंडक्टर ही नॉन स्टाप दौड़ेंगी। परिवहन विभाग अनूठे प्रयोग की तैयारी कर रहा है। रेलवे में मालगाड़ी विदआउट गार्ड की तरह रोडवेज बसों में यह प्रयोग होने जा रहा है।

यूपी रोडवेज की बसें बिना कंडक्टर नॉन स्टाप दौड़ेंगी, परिवहन विभाग की अनूठे प्रयोग की तैयारी
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,लखनऊThu, 30 Nov 2023 10:52 PM
ऐप पर पढ़ें

वह दिन दूर नहीं जब रेलवे की तरह अब रोडवेज बसों में भी कंडक्टर की ड्यूटी नहीं होगी। रोडवेज बस की कमान पूरी तरह से चालक के हाथ में होगी। वही बस लेकर जाएगा और दूसरी ओर से वापसी में लाएगा। यानी बसें अब बिना कंडक्टर के दौड़ेंगी। एक छोर से तमाम सवारियां भरकर उनके यात्रा टिकट बना दिए जाएंगे। गन्तव्य तक केवल चालक ही बस को ले जाएगा। कोशिश है कि बस को नॉन स्टाप चलाया जाएगा। ताकि चालक को रास्ते भर अन्य यात्रियों के टिकट काटने आदि के झंझट का सामना न करना पड़े।

विभिन्न पदों पर स्टाफ की कमी से जूझते सरकारी विभागों में नई पहल होने लगी है। रेलवे में विभिन्न पद रिक्त है। गार्ड की कमी से जूझते रेलवे में पहले मालगाड़ियों को बिना गार्ड के संचालित किया गया। रेलवे की तर्ज पर अब उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों में अनूठा प्रयोग करने की तैयारी हो रही है। रेलवे में विदआउट गार्ड की तरह अब रोडवेज बसें भी विदआउट कंडक्टर के संचालित होगी। मुरादाबाद रोडवेज विभाग ने इसके संचालन की तैयारी कर ली है।

रोडवेज अधिकारियों की माने तो विभाग ने मंडल में नया प्रयोग करने की ठानी है। विभाग के अनुसार प्रयोग के तौर पर कम दूरी वाली बसों से इसकी शुरुआत होगी। यानी मुरादाबाद से अमरोहा, नूरपुर आदि जगहों के लिए विदआउट कंडक्टर बस चलाई जाएंगी।

मंडल में कंडक्टरों की कमी 
मुरादाबाद मंडल में बस के कंडक्टरों की कमी है। एआरएम के अनुसार पूरे मंडल में कंडक्टर के 476 पद खाली है। मुरादाबाद डिपो में 35 व पीतल नगरी में 103 कंडक्टरों की कमी है। हालांकि नियमित व संविदा पर चालकों की संख्या भरपूर है। पीतल नगरी में 178 व मुरादाबाद डिपो में 186 चालक है। बसों की संख्या बढ़ने पर संविदा के आधार पर चालकों की भर्ती कर ली जाती है। 

मुरादाबाद में रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक मो. परवेज खां के अनुसार रोडवेज बसों को अब कंडक्टर के बिना संचालित करने का प्रस्ताव है। इसके लिए तैयारी की जा रही है। कंडक्टर की कमी को देखते हुए फिलहाल इसे प्रयोग के तौर पर शुरू किया जा रहा है। अभी शार्ट रूट यानी कम दूरी पर रोडवेज बसों में विद आउट कंडक्टर चलाने की योजना है। डिपो से ही बस में सारी सवारियों के टिकट बना लिए जाएंगे। बस को नॉन स्टाप चलाया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें