ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशबालू में दबी मिली थी महिला की लाश, बेरहमी से हुई थी हत्या, दिल गायब

बालू में दबी मिली थी महिला की लाश, बेरहमी से हुई थी हत्या, दिल गायब

यूपी के प्रयागराज में एक महिला की लाश बालू में दबी मिली थी। पुलिस का कहना है कि महिला की बेरहमी से हत्या हुई थी। महिला का दिल गायब है। इस बारे में जांच हो रही है कि दिल कातिलों ने निकाला था या नहीं।

बालू में दबी मिली थी महिला की लाश, बेरहमी से हुई थी हत्या, दिल गायब
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,झूंसीMon, 05 Feb 2024 10:57 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज में झूंसी की एक महिला की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। उसकी एक आंख बाहर आ गई थी, चेहरे की चमड़ी उधड़ी थी और सीना फाड़ दिया गया था। वारदात को अंजाम देने के बाद उसके शव को बालू में दफनाया गया था। रविवार सुबह उसके पति ने शव देखा तो पुलिस को सूचना दी। पोस्टमार्टम में खुलासा हुआ कि महिला का दिल गायब है। इससे सनसनी फैल गई। कातिल ने उसका सीना काटकर दिल निकाल लिया या जंगली जानवर उसके शव को खा गए, इसकी झूंसी पुलिस जांच कर रही है। 

पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। शक के आधार पर दो युवकों को हिरासत में लिया है। झूंसी के भदकार गांव निवासी भारत निषाद ने पुलिस को बताया कि उसकी मां विटोला देवी(45) शनिवार शाम चार बजे सरपत काटने गंगा कछार में गई थी। काफी देर होने पर वह घर नहीं लौटी तो वह मां की तलाश में निकला लेकिन रात तक उसका कुछ पता नहीं चला। रविवार सुबह उसके पिता खोजबीन करने निकले। गांव से दूर कछार में पहुंचे तो बालू में आधा बाहर निकला उसकी मां विटोली देवी का शव दिखा। शरीर का ऊपर का हिस्सा दिख रहा था। 

महिला के कपड़े अस्त व्यस्त थे और शरीर पर गंभीर चोटों के निशान थे। सीना फटा हआ था। माथे पर हमले के निशान थे। झूंसी पुलिस मौके पर पहुंची और फोरेंसिक टीम की मदद से जांच की। खोजी कुत्ते ने भी सुराग की तलाश की हालांकि पुलिस को कुछ ठोस नहीं मिला। झूंसी पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ ही एफआईआर दर्ज की। डॉक्टरों के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम किया। वेजाइनल स्वॉब प्रिजर्व किया गया है।

खाने में मिट्टी और नींद की दवा मिलाकर घरवालों को खिलाती थी नौकरानी, बेटे को बुलाकर करती ये काम

सवाल: हत्या के बाद कातिल ने दिल निकाला या जानवरों ने नोंची लाश 
झूंसी में महिला की हत्या के बाद उसका दिल निकाले जाने की खबर ने सनसनी फैला दी है। सवाल उठने लगा है कि कातिल ने महिला का दिल निकाला या जानवर उसके शव को खा गए। आखिर कोई इतनी बेरहमी से हत्या क्यों करेगा और फिर इंसान का दिल निकाल कर क्या करेगा। चर्चा यह भी है, कहीं अंध विश्वास के चक्कर में तो ऐसा नहीं किया गया। तंत्र-मंत्र और बलि जैसी घटनाओं की भी क्षेत्र में चर्चा है। हालांकि झूंसी पुलिस इन चर्चाओं का खंडन कर रही है।

गंगा के कछार में विटोला देवी की हत्या करने वालों पर खून सवार था। घटनास्थल पर पुलिस को दो हसिया मिले हैं। उन पर खून लगा है। इस बात की आशंका है कि हसिया से ही कातिल ने विटोला देवी की हत्या की। सिर पर वार किया। इसके अलावा उसका सीना फाड़ दिया गया। हत्या के बाद जल्दबाजी में बालू में उसका शव आधा दफनाकर कातिल भाग निकला। आशंका जाहिर की जा रही है कि कातिल ने ही महिला का सीना फाड़ दिया और दिल निकाल लिया। लीवर भी कटा हुआ था।

वहीं इस मामले में पुलिस का तर्क है कि महिला की हत्या जहां हुई, वहीं पास में श्मशान घाट है। रात में जंगली जानवर ने शव को नोचा है। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों का भी बयान दर्ज किया जाएगा। अभी तक आंशका यही है कि जानवर दिल नोच ले गए। इस मामले में लोगों का कहना है कि अगर जानवरों ने शव को नोंचा होता तो आसपास मांस के लोथड़े और भी मिले होते लेकिन ऐसा नहीं था। अब पुलिस इस मामले में जांच में जुटी है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें