ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के इस जिले में होगा तीन रात और दो दिन का पर्यटन ट्रिप, ये जगह होंगी शामिल

यूपी के इस जिले में होगा तीन रात और दो दिन का पर्यटन ट्रिप, ये जगह होंगी शामिल

यूपी के इस शहर के लिए दो दिन और तीन रात का टूर प्लान बनाने के लिए कहा गया है। जल्द ही प्रदेशभर के टूर ऑपरेटरों के साथ जिले में एक बड़ा कांक्लेव होगा। जिसमें जिले के पर्यटन केंद्रों पर चर्चा होगी।

यूपी के इस जिले में होगा तीन रात और दो दिन का पर्यटन ट्रिप, ये जगह होंगी शामिल
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजFri, 08 Mar 2024 12:56 PM
ऐप पर पढ़ें

महाकुम्भ के लिए तैयार हो रहा प्रयागराज जल्द ही बड़े पर्यटन केंद्र के रूप में उभरेगा। प्रदेशभर के टूर ऑपरेटर प्रयागराज के लिए ऐसा प्लान करेंगे, जिससे पर्यटकों का यहां पर ठहराव हो। इसके लिए पर्यटन विभाग ने प्रदेशभर के टूर ऑपरेटरों से संपर्क साधा है। उनसे प्रयागराज के लिए दो दिन और तीन रात का टूर प्लान बनाने के लिए कहा गया है। जल्द ही प्रदेशभर के टूर ऑपरेटरों के साथ जिले में एक बड़ा कांक्लेव होगा। जिसमें जिले के पर्यटन केंद्रों को शामिल करने पर चर्चा होगी।

संगमनगरी में वर्षभर पर्यटकों का आगमन तो होता है, लेकिन यहां पर्यटक ठहरते नहीं हैं। महाकुम्भ के लिए पर्यटन केंद्रों को विकसित करते वक्त इस बात पर सबसे अधिक ध्यान रखा जा रहा है कि यहां पर पर्यटक ठहरें। पर्यटन विभाग ने जिले के प्रमुख पर्यटन केंद्रों के अनुसार एक अनुमान माना है कि अगर कोई पर्यटक दो दिन और तीन रात प्रयागराज में ठहरे तो वह संगम सहित सभी प्रमुख स्थलों में दर्शन व भ्रमण कर सकता है।

लखनऊ से बनारस समेत इन शहरों से होली स्पेशल ट्रेन, जानें शेड्यूल और रूट

ऐसे में प्रदेश भर के सभी बड़े टूर ऑपरेटरों से संपर्क किया गया है। प्रदेश का टूर पैकेज प्लान करते वक्त वो प्रयागराज को भी अपने पैकेज में शामिल करेंगे। मार्च के आखिरी सप्ताह में टूर ऑपरेटरों का यहां पर बड़ा कांक्लेव होगा। जिसमें इस पैकेज में शामिल करने वाले पर्यटन केंद्रों को शामिल किया जाएगा। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह का कहना है कि प्रयागराज को बड़ा पर्यटन केंद्र बनाने के लिए यह पैकेज बनाने की तैयारी है।

ये जिले होंगे शामिल
- अयोध्या-प्रयागराज-चित्रकूट
- अयोध्या - प्रयागराज- विंध्याचल-वाराणसी
- अयोध्या-चित्रकूट-प्रयागराज- विंध्याचल-वाराणसी