ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशRO-ARO Paper Leak: तीनों इंजीनियर अपनी बेबसी के बाद बन गए नकल माफिया, अब जा रहे जेल

RO-ARO Paper Leak: तीनों इंजीनियर अपनी बेबसी के बाद बन गए नकल माफिया, अब जा रहे जेल

आरओ-एआरओ पेपर लीक के तीनों इंजीनियर अपनी बेबसी के बाद नकल माफिया बन गए। एक पीसीएस परीक्षा में सफल नहीं हुआ। तो एक गरीबों की मदद करके कर्ज में डूबा था। तीसरे ने ऑटो मोबाइल की दुकान में लाखों गंवाए थे।

RO-ARO Paper Leak: तीनों इंजीनियर अपनी बेबसी के बाद बन गए नकल माफिया, अब जा रहे जेल
mp scam ex sarpanch will go jail
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजTue, 25 Jun 2024 08:43 AM
ऐप पर पढ़ें

आरओ-एआरओ की परीक्षा का पेपर लीक के आरोप में जेल भेजे गए तीन इंजीनियर साथियों की कहानी भी अजीब है। तीनों ने पुलिस के पूछताछ में स्वीकार किया कि असफलता मिलने पर गलत राह चुन ली और नकल माफिया राजीव नयन से जुड़कर अब सलाखों के पीछे जा रहे हैं। तीनों की कहानी सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई। 

अफसर बनने के लिए प्रश्न पत्र लीक किया 
पुलिस ने बताया कि सुभाष प्रकाश ने बीटेक करने के बाद एमटेक की पढ़ाई। वह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने लगा। बिहार में पीसीएस की परीक्षा और मुख्य परीक्षा पास करने के बाद इंटरव्यू दिया लेकिन चयन नहीं हुआ। इसके बाद वह इंजीनियरिंग कॉलेज में जॉब करने लगा लेकिन उसका अफसर बनने का सपना पूरा नहीं हो सका। अफसर बनने के चक्कर में वह शिक्षा माफिया राजीव नयन के साथ मिलकर आरओ-एआरओ का पेपर लीक कराकर खुद ही इस जाल में फंस गया। 

जेल के सिपाही ने किया RO-ARO पेपर वायरल, भोपाल से अहमदाबाद और फिर आया था यूपी

दिल्ली में इंजीनियर ने ठेलिया लगाई  
इसी के साथ पकड़ा गया विशाल दुबे बीटेक करने के बाद दिल्ली में ठेलिया लगाने लगा। इस बीच एक एनजीओ की मदद से कुम्भ 2019 में उसे काम मिला और वह प्रयागराज आ गया। यहां पर गरीबों को कपड़े वितरित किए लेकिन अगले साल कोरोना के कारण वह बेरोजगार हो गया। इस बीच वह ढाई लाख रुपये का कर्जदार हो गया। वहीं सुनील रघुवंशी को बीटेक के पास भी जॉब नहीं मिली। उसने ऑटो पार्ट्स की दुकान खोली। अपने भाई से कर्ज लेकर दुकान चलाई लेकिन उसको नुकसान हुआ और वह कर्जदार हो गया। आखिर में उसे प्रिंटिंग प्रेस में जॉब मिली तो वह पेपर लीक कराकर शिक्षा माफिया गैंग का सदस्य बन गया।