ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशछह महीने से पत्नी मायके में रह रही, घर में फांसी पर लटका मिला वकील, मौत बनी राज

छह महीने से पत्नी मायके में रह रही, घर में फांसी पर लटका मिला वकील, मौत बनी राज

प्रयागराज में एक वकील ने फांसी लगाकर जान दे दी। उसकी मौत के वक्त पत्नी मायके में थी। पत्नी 6 महीने से वहीं रह रही थी। महिला के मायके और ससुराल वाले एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं।

छह महीने से पत्नी मायके में रह रही, घर में फांसी पर लटका मिला वकील, मौत बनी राज
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजTue, 11 Jun 2024 11:08 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज के रसूलाबाद में पारिवारिक कारणों ने एक वकील ने फांसी लगाकर जान दे दी। उसकी मौत के वक्त पत्नी मायके में थी। महिला के मायके और ससुराल वाले एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाए हैं। शिवकुटी पुलिस ने मौके पर जांच की लेकिन कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। रसूलाबाद निवासी ओम प्रकाश शिक्षा विभाग में नौकरी करते हैं। उनके तीन बेटों में छोटा 28 वर्षीय विवेक यादव विधि की पढ़ाई के बाद जिला कचहरी में वकालत करता था। शादी के बाद पत्नी से किसी बात पर विवाद हुआ और वह मायके चली गई। पुलिस ने बताया कि पिछले छह माह से वह मायके में थी। 

रविवार रात करीब साढ़े दस बजे विवेक अपने ऊपर वाले कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस ने फोरेंसिक टीम की मदद से जांच की। विवेक के बड़े भाई विकास भी आत्महत्या की वजह नहीं बता सके। वहीं थाने में एक तरफ विवेक के परिजनों ने उसकी पत्नी पर प्रताड़ना का आरोप लगाया तो दूसरी ओर विवेक के साले ने ससुरावालों पर मारने का आरोप लगाया। शिवकुटी एसओ संजय गुप्ता ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें: मुझे जेल में ही रहने दो, बाहर नहीं जाना! जमानत की सुनवाई पर अपराधी ने रखी ये मांग, पढ़ें क्यों

पुलिस का कहना है कि मामले में जांच की जा रही है। दोनों ही पक्षों की ओर से आरोप लगाए गए हैं। ऐसे में किस पक्ष की ओर से कार्रवाई होनी है इसपर पोस्टमार्टम और जांच के आधार पर रिपोर्ट तैयार होगी। सुसाइड नोट न मिलने के कारण आत्महत्या के एंगल से अभी जांच नहीं की जा रही है। पहले पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा होगा की वकील को किसी ने मारकर लटकाया या खुद लटके हैं। साथ ही पुलिस ने अन्य लोगों से पूछताछ शुरू कर दी। मामला पारिवारिक विवाद का ही बताया जा रहा है। पत्नी से ही विवाद के कारण वकील लंबे समय से परेशान था और इसी कारण तनाव में भी रहता था।