ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशशादी में दी अंगूठी, टीवी, कार और गिफ्ट की बनाएं लिस्ट, इन्हें देनी होगी डिटेल

शादी में दी अंगूठी, टीवी, कार और गिफ्ट की बनाएं लिस्ट, इन्हें देनी होगी डिटेल

दहेज के खिलाफ अभियान चल रहा है। इसकी जानकारी जिला प्रतिषेध अधिकारी को दे सकते हैं। शादी समारोह में दिए जाने वाले उपहार जैसे टीवी, फ्रिज, सोने के अभूषण, बाइक, कार, एसी आदि की सूची भी तैयार करना होगा।

शादी में दी अंगूठी, टीवी, कार और गिफ्ट की बनाएं लिस्ट, इन्हें देनी होगी डिटेल
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजTue, 25 Jun 2024 11:49 AM
ऐप पर पढ़ें

दहेज लेना और देना तो सामाजिक बुराई है ही। अगर कोई शादी के वक्त इसकी मांग करता है तो लोग इसकी जानकारी जिला प्रतिषेध अधिकारी को दे सकते हैं। इसके साथ ही शादी समारोह में दिए जाने वाले उपहार जैसे टीवी, फ्रिज, सोने के अभूषण, बाइक, कार, एसी आदि की सूची भी तैयार करना होगा। वर व वधू पक्ष यह सूची विभाग को दे सकते हैं। ऐसे में कभी भविष्य में कोई भी विवाद होने पर इसकी कॉपी विभाग से लेकर कोर्ट में जमा की जा सकती है।

दहेज उत्पीड़न के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। अकेले शहर के महिला थाने में ही बीते छह महीनों में 30 मामले दर्ज हो चुके हैं। जबकि कई मामलों का निस्तारण भी कराया गया है। अलग-अलग थाने में दर्ज होने वाले मामले इससे कहीं अधिकं होंगे। आम तौर पर सखी वन स्टॉप केंद्र पर घरेलू हिंसा के मामले तो आते हैं, लेकिन दहेज मांगने के मामले नहीं आते हैं।

ये भी पढ़ें: थानों में रात को नहीं रहेगी महिला पुलिस, इंस्पेक्टर की हरकतों के बाद नियमों में बदलाव

ऐसे में अब प्रदेश सरकार ने विभाग के लिए लोगों से अपील की है कि वो इसकी सूचना तत्काल दें। ताकि ऐसे लोगों पर समय रहते कार्रवाई की जा सके। इसके लिए दहेज मांगने वालों के खिलाफ जिला दहेज प्रतिषेध अधिकारी के मोबाइल नंबर, वन स्टॉप केंद्र के नंबर पर इसकी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।

जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला दहेज प्रतिषेध अधिकारी, सर्वजीत सिंह ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इन नंबरों के आलावा पीड़ित लोग विकास भवन में जिला कर जानकारी दे सकते हैं। दहेज लेने वालों को पांच साल कैद या पांच हजार रुपये जुर्माने का प्रावधान है। प्रदेश सरकार इसे लेकर बेहद जंभीर है।

जिला दहेज प्रतिषेध अधिकारी- 7518024051
वन स्टॉप सेंटर- 181
महिला हेल्पलाइन व चाइल्ड हेल्पलाइन- 1098

Advertisement