ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसैक्सटॉर्शन बना साइबर ठगों का हथियार, एक कॉल और पोर्न वीडियो से कटी जेब, ऐसे बनाया शिकार

सैक्सटॉर्शन बना साइबर ठगों का हथियार, एक कॉल और पोर्न वीडियो से कटी जेब, ऐसे बनाया शिकार

साइबर अपराधी अंजान वीडियो कॉल होश उड़ा रहे। पोर्न वीडियो दिखाकर ठग लोगों की जेब काट रहे हैं। चैटिंग के साथ अश्लील वीडियो रिकॉर्ड कर लोगों को ब्लैकमेल करते हैं। युवा-बुजुर्ग सबसे ज्यादा शिकार हो रहे।

सैक्सटॉर्शन बना साइबर ठगों का हथियार, एक कॉल और पोर्न वीडियो से कटी जेब, ऐसे बनाया शिकार
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजThu, 20 Jun 2024 08:47 AM
ऐप पर पढ़ें

साइबर अपराध में एक नया शब्द सेक्सटार्शन आजकल चर्चा में है। इसका मतलब अश्लील वीडियो कॉल करके ब्लेकमेल करना। जी हां, आजकल साइबर ठग लड़कियों की डीपी लगाकर फेसबुक या इंस्टाग्राम पर दोस्ती करते हैं। इसके बाद व्हाट्स एप पर नंबर लेकर वीडियो कॉल करते हैं। अचानक ही युवती की अश्लील वीडियो स्क्रीन पर दिखने लगती है। सामने वाला वीडियो कॉल रिकार्ड कर लेता है। वीडियो दिखाकर वसूली का खेल चल रहा है। इसमें सबसे ज्यादा युवा और बुजुर्ग फंस रहे हैं।

जानिये कैसे बनाते हैं लोगों को अपना शिकार
शहर के एक चर्चित डॉक्टर को युवती बनकर साइबर ठग ने फेसबुक पर संपर्क किया। फ्रेंड रिकवेस्ट भेजी। व्हाट्स एप नंबर लिया। तीन दिन तक उनके साथ चैटिंग की। इसके बाद रात में अश्लील वीडियो कॉल करने लगा। न्यूड वीडियो कॉल को रिकार्ड करके डॉक्टर से रुपये मांगे। इसके बाद धमकी दी कि उनका वीडियो यूट्यूब पर अपलोड का देगा। यही नहीं, दिल्ली क्राइम ब्रांच के नाम पर उनको धमकी दी गई। डॉक्टर ने कई बार में कुल 10 लाख रुपये साइबर ठग के चार बैंक खातों में जमा कर दिए। ब्लैकमेलिंग की जा रही थी। आखिर में डॉक्टर ने साइबर थाने में मुकदमा दर्ज कराया।

छेड़छाड़ का केस निपटाने को पंचायत ने 40 हजार रुपये लगाई ‘इज्जत’ की कीमत

वीडियो बनाकर किया जागरूक
साइबर सेल के एक्सपर्ट जय प्रकाश ने सेक्सटार्शन से बचाने के लिए स्टिंग ऑपरेशन करके सोशल मीडिया पर वीडियो साझा किया है। वीडियो में दिखाया है कि कैसे साइबर ठग रिकार्डेड पोर्न वीडियो को स्क्रीन पर ऑन करके सामने वाले से अश्लील बात करते हैं। इस जाल में फंसने वाला शर्म के मारे किसी से शिकायत नहीं करता और रुपये भेज जाता है। पुलिस ने शर्म छोड़कर साइबर सेल में शिकायत करने की सलाह दी है। पुलिस का कहना है कि ऐसी गैंग सक्रिय हैं जो लड़कियों का झांसा देकर युवाओं और व्यापारियों को फंसाती है और मोटी रकम वसूलती है।

Advertisement