DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  यूपी : प्रधानों को पहले लगेगा वैक्सीन ताकि गांव वालों के लिए प्रेरक बनें
उत्तर प्रदेश

यूपी : प्रधानों को पहले लगेगा वैक्सीन ताकि गांव वालों के लिए प्रेरक बनें

प्रमुख संवाददाता, लखनऊPublished By: Shivendra Singh
Thu, 17 Jun 2021 09:24 PM
यूपी : प्रधानों को पहले लगेगा वैक्सीन ताकि गांव वालों के लिए प्रेरक बनें

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने गुरुवार को कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम में और तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने कहा है कि नए ग्राम प्रधानों को अभियान चलाकर कोविड-19 वैक्सीन लगाई जाए। प्रधानों को वैक्सीन लगने पर वह गांव वालों के लिए प्रेरक बनेंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वैक्सीनशन के लिए जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश भी दिए हैं।

मुख्य सचिव ने गुरुवार को कोविड-19 वैक्सीन टीकाकरण स्टेट स्टेयरिंग कमेटी फार इम्यूनाइजेशन की बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना का संक्रमण कम हुआ लेकिन अभी समाप्त नहीं हुआ है। लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में बैठकें आयोजित की जाएं, जिसमें जन प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाए।

उन्होंने कहा कि जुलाई में प्रतिदिन 10 लाख व्यक्तियों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसके लिए पर्याप्त संख्या में स्थानों को चिन्हित कर आवश्यक सभी तैयारियां समय से पूरी कर ली जाएं। जनपदों में वैक्सीनेशन केन्द्रों को ऐसी जगह स्थापित किया जाए जहां पर आमजन को पहुंचने में किसी प्रकार की असुविधा ना हो। प्रत्एक वैक्सीनेशन सेन्टर पर पेयजल व शौचालय की व्यवस्था अनिवार्य रूप से होनी चाहिए। वैक्सीनेशन सेन्टर पर पहुंचने का मार्ग खराब हो तो उसे समय रहते दुरुस्त कर लिया जाए। 

रोजगार, ओलंपिक के लिए विदेश जाने वालों को 84 दिन से पहले ही कोविशील्ड की दूसरी डोज
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि गुरुवार 17 जून तक कोविशील्ड वैक्सीन के द्वितीय डोज के लाभार्थी 6.20 लाख एवं कोवैक्सीन के द्वितीय डोज के लाभार्थी 4.73 लाख हैं। प्रदेश में 12 जून तक कोविशील्ड वैक्सीन का वेस्टेज 0.92 प्रतिशत और कोवैक्सीन का वेस्टेज 0.87 प्रतिशत है। वेस्टेज कम करने के लिए सभी जिलों के साथ प्रतिदिन राज्य स्तर पर जूम प्लेटफार्म के माध्यम से समीक्षा की जाती है। ऐसे लाभार्थी जिन्होंने कोविशील्ड वैक्सीन की पहली डोज ग्रहण कर ली है तथा दूसरी डोज (न्यूनतम 84 दिनों के पश्चात) से पूर्व ही उन्हें अन्तर्राष्ट्रीय (जैसे-शैक्षिक उद्देश्य, रोजगार या ओलम्पिक खेल) पर जाना है के लिए जनपद स्तर पर स्थापित सीवीसी में टीकाकरण करा सकते हैं।

संबंधित खबरें