ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशलव अफेयर में नेत्रहीन पति बना रोड़ा तो प्रेमी से करवाई हत्या, सुसाइड दिखाने के लिए किया ड्रामा

लव अफेयर में नेत्रहीन पति बना रोड़ा तो प्रेमी से करवाई हत्या, सुसाइड दिखाने के लिए किया ड्रामा

मेरठ में पशु चिकित्सालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नरेंद्र की हत्या उसकी पत्नी पूनम ने प्रेमी धीरज और उसके दो दोस्तों से कराई थी ताकि मरने के बाद उसकी नौकरी मिल जाए और प्रेमी से शादी कर ले।

लव अफेयर में नेत्रहीन पति बना रोड़ा तो प्रेमी से करवाई हत्या, सुसाइड दिखाने के लिए किया ड्रामा
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,मेरठWed, 08 May 2024 12:10 PM
ऐप पर पढ़ें

मेरठ के जानी में भोला की झाल के पास मृत मिले पशु चिकित्सालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नरेंद्र की मौत की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। खुलासा हुआ कि नरेंद्र का कत्ल उसकी पत्नी पूनम ने प्रेमी धीरज और उसके दो दोस्तों से कराया था ताकि मरने के बाद उसकी नौकरी मिल जाए और प्रेमी से शादी कर ले। सूरजकुंड स्थित पशु चिकित्सालय में दृष्टिहीन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नरेंद्र कुमार परिवार के साथ रहते थे। परिवार में पत्नी पूनम के अलावा दो बच्चे हैं। 22 अप्रैल को नरेंद्र संदिग्ध हालात में लापता हो गए। अगले दिन पत्नी गुमशुदगी दर्ज कराने सिविल लाइन थाने पहुंची और कुछ देर बाद नरेंद्र की मौत की सूचना आ गयी। 

नरेंद्र का शव भोला झाल के पास मिला था। पोस्टमार्टम में पानी में डूबने से मौत होना पाया गया। नरेंद्र के परिवार ने हत्या का शक जताते हुए तहरीर दी और जानी पुलिस ने जांच शुरू कर दी। पहले ही दिन से नरेंद्र की पत्नी पूनम शक के दायरे में थी। पुलिस ने उसके मोबाइल की कॉल डिटेल्स निकाली। 150 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे खंगाल डाले। हत्या के मजबूत साक्ष्य मिलने पर मंगलवार दोपहर पुलिस ने पूनम को गिरफ्तार कर लिया।

5 साल से चल रहा था प्रेम प्रसंग
पूनम मूलरूप से नई बस्ती टीपीनगर की रहने वाली है। वहां रहने वाले धीरज से वह पांच वर्ष से संपर्क में थी। नरेंद्र को उनके रिश्ते पर शक था। पूनम और धीरज ने चांद और अमनदीप नामक दो युवकों को 80 हजार रुपये में हत्या की सुपारी दी। 20 हजार एडवांस भी दिए।

उधार देकर पछताया युवक, जिंदा जलाने की कोशिश! रकम वापस मांगी तो पेट्रोल डालकर लगाई आग

ऐसे की गई हत्या
हत्या से एक दिन पहले नरेंद्र ने पूनम को बताया कि वह कल पेपला में रहने वाली बहन के घर जाएगा। यह बात पूनम ने धीरज को बता दी और वह ई-रिक्शा से नरेंद्र को लेकर भोला झाल पहुंचा। वहां डुबाकर हत्या कर दी। शव बाहर निकाल डाल दिया ताकि लगे सुसाइड किया है।

एसएसपी, रोहित सिंह सजवाण ने कहा कि पशु चिकित्सालय के कर्मचारी नरेंद्र की हत्या उसकी पत्नी पूनम ने कराई थी। 80 हजार में सुपारी दी थी। पुलिस ने पूनम व उसके प्रेमी धीरज सहित चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।