DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › यूपी पंचायत सहायक भर्ती: छह हजार की नौकरी पाने के लिए लगा दिया फर्जी मार्कशीट, अब जाना होगा जेल
उत्तर प्रदेश

यूपी पंचायत सहायक भर्ती: छह हजार की नौकरी पाने के लिए लगा दिया फर्जी मार्कशीट, अब जाना होगा जेल

वरिष्ठ संवाददाता,संतकबीरनगर Published By: Amit Gupta
Wed, 01 Sep 2021 09:12 AM
यूपी पंचायत सहायक भर्ती: छह हजार की नौकरी पाने के लिए लगा दिया फर्जी मार्कशीट, अब जाना होगा जेल

यूपी पंचायत सहायक भर्ती के लिए आए आवेदन पत्रों कही जांच में कई फर्जीवाड़े सामने आ रहे हैँ। अंकपत्रों और जाति प्रमाण पत्रों को सत्यापित करने के दौरान कई फर्जी मार्कशीट मिली हैं। ब्लाक अधिकारियों द्वारा अब फर्जीवाड़ा करने वाले आवेदक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

संतकबीर नगर के एडीओ पंचायत राम सुमिरन ने बताया कि खलीलाबाद ब्लाॅक के भटौरा गांव निवासी सत्यपाल यादव पुत्र चंद्रिका यादव ने प्रार्थना पत्र देकर गांव के ही संजय प्रजापति पुत्र रामनाथ प्रजापति पर फर्जीवाड़ा का आरोप लगाया था। उन्होंने शिकायत पत्र के माध्यम से बताया था कि संजय प्रजापति ने पंचायत सहायक ऑपरेटर पद के आवेदन पत्र के साथ जो शैक्षणिक अंकपत्र लगाए हैं वह फर्जी और जाली हैं। जब मामले की जांच की गई तो शिकायतकर्ता का आरोप सत्य पाया गया। संजय प्रजापति ने आवेदन पत्र के साथ जो हाई स्कूल का अंकपत्र लगाया है वह सन 2016 का है। जिसका अनुक्रमांक 2590566 है। इस अंकपत्र में 600 अंकों में से 510 अंक प्राप्ति दिखाया है। जबकि ऑनलाइन चेक करने पर पता चला कि सन 2016 में इस अनुक्रमांक का प्राप्ति अंक 469 है। ठीक इसी प्रकार इंटरमीडिएट के अंकपत्र सन 2019 का है। जिसका अनुक्रमांक 2381045 है।

इस अंकपत्र को ऑनलाइन जांच करने पर प्राप्ति अंक 295 है, जबकि आवेदन पत्र के साथ उक्त सन व उक्त अनुक्रमांक का जो अंकपत्र लगाया गया है उसमें प्राप्ति अंक 385 है। इस प्रकार जांच करने पर आवेदन पत्र के साथ लगाए गए अंकपत्र फर्जी व जाली पाए गए हैं। एडीओ पंचायत राम सुमिरन ने कहा कि फर्जीवाड़ा करने वाले युवक के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने की दिशा में काम हो रहा है। इसके साथ ही जांच प्रक्रिया और सख्त की जाएगी जिससे कोई भी फर्जीवाड़ा करके योग्य लोगों का अधिकार न छीन सके।

संबंधित खबरें