ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी पंचायत चुनाव: इन गांवों के 20 हजार लोग नहीं डाल पाएंगे वोट, जानिए वजह

यूपी पंचायत चुनाव: इन गांवों के 20 हजार लोग नहीं डाल पाएंगे वोट, जानिए वजह

यूपी के उन्नाव जिले की चार ग्राम पंचायतों के 20 हजार लोग अबकी पंचायत चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं कर सकेंगे। उन्हें वोट देने के लिए अभी दो साल का इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि वह अब नगर...

यूपी पंचायत चुनाव: इन गांवों के 20 हजार लोग नहीं डाल पाएंगे वोट, जानिए वजह
हिन्दुस्तान संवाद,उन्नाव Wed, 17 Feb 2021 09:21 AM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के उन्नाव जिले की चार ग्राम पंचायतों के 20 हजार लोग अबकी पंचायत चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं कर सकेंगे। उन्हें वोट देने के लिए अभी दो साल का इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि वह अब नगर पंचायत के मतदाता हो गए हैं। अचलगंज नगर पंचायत का गठन होने की वजह से तीन गांव इसमें शामिल हो गए हैं। ऐसे में इन गांवों में अबकी पंचायत चुनाव नहीं होगा।

ब्लॉक सिकंदरपुर कर्ण की ग्राम पंचायत मजरा पीपर खेड़ा पहले ही नगर पालिका क्षेत्र शुक्लागंज में शामिल हो गई थी, जिससे ग्राम पंचायतों की संख्या 1043 बची थी। इसके बाद त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए कराए गए परिसीमन में सिकंदरपुर कर्ण की ही ग्राम पंचायत अचलगंज , हड़हा, लोहचा भी नगरीय क्षेत्र में शामिल की गई। इन गांवों में करीब 20 हजार मतदाता थे।

ब्लॉक की तीनों ग्राम पंचायतों को काट कर नगर पंचायत अचलगंज बनाई गई। इसके अलावा सिकंदरपुर कर्ण की कटरीपीपर खेड़ा, पुरवा की टीकरकला तथा कसरौर आंशिक रूप से नगरीय क्षेत्र में शामिल की गईं। टीकरकला तथा कसरौर की आबादी पुरवा नगर पंचायत में शामिल हुई है। नगरीय क्षेत्र बढ़ने का असर क्षेत्र पंचातयों पर भी पड़ा। डीपीआरओ विभाग के अधिकारियों ने बताया कि ब्लॉक सिकंदरपुर कर्ण की 35 और पुरवा की एक क्षेत्र पंचायत सीट की आबादी नगरीय क्षेत्र में चली गई । इस वजह से इन सीटों का अस्तित्व खत्म हो गया। इसके अलावा सिकंदरपुर कर्ण की दो जिला पंचायत सदस्य सीटे भी कम पड़ी हैं। पहले यहां पांच सीटें थी अब दो बची है।