DA Image
8 अप्रैल, 2021|11:32|IST

अगली स्टोरी

आरक्षण लिस्ट जारी होने से पहले ग्राम प्रधान की जातिवार सूची वायरल, जानिए क्या बोले अधिकारी

up panchayat elections see caste-wise reservation for gram pradhan villages reserved mainpuri distri

यूपी पंचायत चुनाव में दो मार्च को आरक्षण सूची जारी होनी है, हालांकि यह फाइनल लिस्ट नहीं होगी। इसमें बदलाव हो सकता है क्याेंकि इस पर आपत्तियां मांगी जाएंगी। उसकी जांच होने के बाद फाइनल लिस्ट बनेगी। शासन की तरफ से जारी शेड्यूल में यह फाइनल सूची 15 मार्च तक जारी होगी। 

वहीं वाराणसी के पिंडरा ब्लॉक में ग्राम प्रधानों की एक जातिवार आरक्षण लिस्ट सोमवार दिन में ही वारयल हो गई। आधिकारिक रूप से आरक्षण सूची जारी होने के एक दिन पहले इसके वायरल होने से अधिकारियों में हड़कंम मच गया। अधिकारियों ने इस वायरल सूची को फर्जी बताया। हालांकि यह सूची सही है या गलत इसकी जानकारी के लिए भावी  प्रत्याशी दिनभर ब्लॉक का चक्कर लगाते रहे। लेकिन किसी के पास से सही जवाब नहीं मिला। वही कुछ लोग इसी सूची के हिसाब से ही प्रत्याशी का चयन करने लग गए। इस सूची के हिसाब से पिंडरा ब्लाक के कई गांवों में उलट फेर होने से तैयारी कर रहे प्रत्याशियों को करारा झटका लगा। इस बारे में  बीडीओ वीके जायसवाल का कहना है  कि वायरल सूची पूरी तरह से फर्जी है। 

एटा जिले में सूची फर्जी, लेकिन आंकड़े सटीक! 
 वाराणसी की तरह एटा जिले में भी कुछ दिन पहले ब्लॉक प्रमुखों के आरक्षण को लेकर सोशल मीडिया पर आरक्षण की सूची वायरल हो गई। अधिकारियों ने इसे वह पूरी तरह से फर्जी बताया है, लेकिन विभाग से जुड़े सूत्रों की मानें तो ब्लॉक प्रमुखों के कारण को लेकर जो आंकड़े उसमें दिए है वह काफी सही बताए जा रहे हैं। यह सूची शासन स्तर से कहीं ना कहीं से लीक हो गई है। इसी से यह पूरे प्रदेश में चल रही है। 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP panchayat election gram pradhan caste-wise reservation list in Varanasi viral on social media officer said this is fake