DA Image
31 अक्तूबर, 2020|10:57|IST

अगली स्टोरी

यूपी पंचायत चुनाव 2020 : प्रशासन ने जारी किए नए दिशा-निर्देश, जानें किस आधार पर बनेगी वोटर लिस्ट

यूपी में पंचायत चुनाव की सरगर्मियां शुरू होने लगी हैं। जहां एक ओर गांव-गांव लोग आंकड़े लगाने लगे हैं। वहीं प्रशासन ने भी अपनी तैयारी शुरू कर दी है। संभल के ब्लॉक बनियाखेड़ा के सभागार में एसडीएम ने बीएलओ और सुपरबाइजरों को कसा और आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उप जिलाधिकारी महेश प्रसाद दीक्षित ने कहा कि पंचायत चुनाव आ रहा है। चुनाव की घोषणा होने से पहले ही बीएलओ और सुपरबाइजर पारदर्शिता के आधार पर सर्वे कर लोगों के वोट बनाएं। गांव की राजनीति में न फंसें। निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के आधार पर कार्य करें। कहीं कोई परेशानी सामने आती है तो तत्काल संबन्धित अधिकारी को जानकारी दें। इस मौके पर रजिस्ट्रार कानूनगो सतीश यादव, एडीओ पंचायत दिग्विजय सिंह ने भी दिशा निर्देश दिए।

26 अपराधी जिला-बदर :

ग्राम पंचायत चुनाव के मद्देनजर जिला प्रशासन ने गुन्नौर क्षेत्र में शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए 26 अपराधियों को किया बदर किया है। अगर इनमें से कोई भी अपराधी क्षेत्र में दिखाई दिया तो पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी। इंस्पेक्टर गुन्नौर संजीव कुमार ने बताया कि ग्राम पंचायत चुनाव के दौरान क्षेत्र में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए यह कार्रवाई की गई है। क्षेत्र के गांव कुहेरा निवासी सुंदर, नेत्रपाल, अमरपाल, सोमवीर , सतपाल, भगवान सिंह, कुमरपाल, गिरीश, बनवारी, राहुल, अमरपाल, हरवेश, गजेंद्रपाल उर्फ राजेंद्रपाल के खिलाफ जिला बदर की कार्रवाई हुई है। वहीं गांव नगला अजमेरी निवासी राजकुमार, अनिल, अखिलेश, गजेंद्र, बुद्धि और गांव लहरा नगला श्याम निवासी शिल्लू, सैमला गुन्नौर निवासी टिल्लू उर्फ डालचंद, नब्बी उर्फ़ नवाब सिंह, पूरन सिंह, पप्पू , सैंजना अरहान निवासी रामखिलाड़ी एवं शाहपुर निवासी किशन वीर उर्फ मुरारी जबकि हीरापुर उर्फ इटऊआ निवासी हरपाल सहित 26 लोगों को छह महीनों के लिए जिला बदर किया गया है।

पंचायत चुनाव में गुंडागर्दी करने वालों पर होगा एक्शन : 

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने को कहा कि सपा मानसिकता वाले अफसरों को चिन्हित किया जाएगा। पंचायत चुनाव में यदि गुंडागर्दी करने का कोई काम किया गया तो इस पर शासन सख्त कार्रवाई करेगा। उन्होंने पंचायत चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं को नुस्खे समझाए।

यहां जिला कार्यालय पर हुई बैठक के दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा कि आगामी वर्ष में पंचायत चुनाव होने वाले हैं। अभी से कार्यकर्ता कमर कस लें। पंचायत के सभी पदों पर पार्टी परचम लहरा सके इसके लिए कार्यकर्ता मतदाता सूची का मूल्यांकन करे और फर्जी मतदाताओं को चिन्हित करके उनका मतदाता सूची से नाम हटवाएं। उन्होंने आरोप लगाया कि सपा ने सत्ता में रहकर धनबल और बाहुबल के बल पर धांधली का काम किया था। अब यह होने वाला नहीं है। पंचायत चुनाव में गुंडागर्दी करने वाले लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगा। उन्होने कहा कि नए मतदाताओं को जोड़ने के लिए घर घर संपर्क करें। चुनाव जीतने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियां बताएं। पार्टी कार्यकर्ताओं को आपसी सामंजस्य बनाकर कार्य करने की सलाह दी। यह भी कहा कि प्रत्याशियों के चयन के समय जातीय समीकरण का विशेष ध्यान दिया जाए। सांसद मुकेश राजपूत ने सरकार की योजनाएं बताईं। जिलाध्यक्ष रूपेश गुप्ता ने कहा कि जिला पंचायत के अंतर्गत सभी वार्ड में संयाजकों की नियुक्ति पार्टी ने तय की है। यह संयोजक अपने क्षेत्रों में चुनाव तैयारियों को लेकर बैठक करेंगे। इस दौरान पंचायत चुनाव प्रभारी हिमांशु गुप्ता ने भी विचार रखे। विधायक अमर सिंह खटिक, दिनेश कटियार, संजीव गुप्ता, अशोक कटियार, भास्कर दत्त द्विवेदी, शिवांग रस्तोगी, ममता सक्सेना आदि की उपस्थिति रही।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP Panchayat Election 2020 latest updates Administration has issued new guidelines know on which basis the voter list will be made gram pradhan election bdc