DA Image
3 अक्तूबर, 2020|9:15|IST

अगली स्टोरी

यूपी पंचायत चुनाव 2020 : तैयार हुआ ग्राम प्रधानों के चुनावी प्रचार के लिए पैकेज, बनने लगे वीडियो

up panchayat chunav 2020 package ready for gram pradhan election campaign social media video poster

यूपी में पंचायत चुनाव की अधिसूचना और औपचारिक घोषणा भले न हुई हो लेकिन गांवों में सरगर्मियां बढ़ने लगी हैं। खेमेबाजी और जोड़तोड़ की कोशिशों की राह तकनीक और सोशल मीडिया ने कुछ हद तक आसान कर दी है। कोरोना काल में किसी से मिलने और किसी के घर जाने का जोखिम भी नहीं। व्यक्तिगत फेसबुक अकाउंट के साथ ही क्षेत्र या संगठन विशेष के नाम पर फेसबुक पेज और व्हाट्सएप ग्रुप के जरिये लोगों को जोड़कर अपने पाले में करने की होड़ मची हुई है। इनमें युवा प्रत्याशी और समर्थक ज्यादा सक्रिय दिख रहे हैं।

भावी प्रत्याशी अभी से तरह-तरह की तरकीबें आजमा रहे हैं। मुख्यमंत्री, सांसद और विधायक से लगायत दबंग चेहरों के साथ खिचवाई फोटो भी पोस्ट कर रहे हैं। इन तस्वीरों का व्हाट्सएप और फेसबुक की प्रोफाइल पिक्चर के तौर पर भी खूब इस्तेमाल हो रहा है। युवा नेता अनमोल प्रताप कहते हैं कि सोशल मीडिया ने प्रचार आसान कर दिया है। अगर आपकी पोस्ट लगातार चल रही है तो क्षेत्र में युवाओं के बीच आपकी पहचान आसानी से बन जाती है।

इन एप का हो रहा इस्तेमाल
सोशल मीडिया के लिए पोस्टर बनाने के लिए प्ले स्टोर पर कई एप उपलब्ध हैं। Photo Editor, Poster Maker, Snapseed, Graphic Design समेत कई अन्य एप का इस्तेमाल जरूरत के मुताबिक किया जा रहा है। पोस्टर तैयार करने वाले युवाओं का कहना है कि सोशल मीडिया के मुकाबले प्रिंट होने वाले पोस्टर की डिमांड कई सौ गुना कम है।

पोस्टर बनाने से पोस्ट करने तक की जिम्मेदारी
सोशल मीडिया के बढ़ते क्रेज के बीच अर्पित मिश्रा, विनायक अग्रहरी और अनुराग शाही सरीखे कई युवा पोस्टर और वीडियो बनाने से लेकर इसे पोस्ट करने तक की जिम्मेदारी ले रहे हैं। डिमांड के मुताबिक रोजाना पोस्टर व वीडियो तैयार कर सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को सिर्फ अपनी तस्वीर और तय रकम देनी होती है। 

पोस्टर का मासिक पैकेज भी
विनायक अग्रहरी बताते हैं कि 50 से 100 रुपये तक में एक पोस्टर बनाते हैं। ज्यादा फोटो इस्तेमाल होने पर कीमत बढ़ जाती है। एक हजार रुपये में पूरे महीने का पैकेज देते हैं। अर्पित ने बताया कि अच्छा पोस्टर बनाने के लिए स्टाइलिश फॉन्ट का खास रोल होता है। इसके लिए एप का 865 रुपये प्रतिवर्ष का पैकेज ले रखा है। इसी तरह और भी खर्च होते हैं। पोस्टर बनाने के साथ ही पूरे महीने पोस्ट करने का पैकेज 1599 से 1999 तक का है।  

ग्राम प्रधान बनवा रहे विकास कार्यों का वीडियो
अर्पित ने बताया कि पंचायत चुनाव के प्रत्याशी पोस्टर के साथ वीडियो भी बनवा रहे हैं। पांच मिनट के सामान्य वाीडियो की कीमत तीन सौ रुपये है। हालांकि कई ग्राम प्रधान अपने विकास कार्यों का वीडियो भी बनवा रहे हैं। इसके लिए उनके गांव में जाकर वीडियो तैयार करना होता है। इसकी कीमत चार हजार रुपये है। अर्पित ने बताया कि उन्होंने हाल ही में खोराबार, बांसगांव और पिपराइच इलाके के कुछ प्रधानों के गांव में वीडियो तैयार किया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP Panchayat chunav 2020 Package ready for gram pradhan election campaign social media video poster