ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशइस शहर में सीएमओ ऑफिस में खुलेगी 'मिनी डिस्पेंसरी', इन सुविधाओं से होंगी लैस

इस शहर में सीएमओ ऑफिस में खुलेगी 'मिनी डिस्पेंसरी', इन सुविधाओं से होंगी लैस

यूपी के मुरादाबाद में पहल की जा रही है। इसके तहत सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं के संचालन के केंद्र सीएमओ दफ्तर में अब मिनी डिस्पेंसरी खोलने की कवायद शुरू हुई है। जिसमें कई दवाओं का इंतजाम होगा।

इस शहर में सीएमओ ऑफिस में खुलेगी 'मिनी डिस्पेंसरी', इन सुविधाओं से होंगी लैस
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,मुरादाबादMon, 19 Feb 2024 02:04 PM
ऐप पर पढ़ें

सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं के संचालन के केंद्र सीएमओ दफ्तर में अब मिनी डिस्पेंसरी खोलने की कवायद शुरू हुई है। जिसमें प्राथमिक चिकित्सा से जुड़ी सभी दवाओं का इंतजाम होगा। मुरादाबाद जनपद के मुख्य डॉ कुलदीप सिंह ने इसकी पहल की है। दवाओं के साथ ही इनके जरिये जरूरतमंद लोगों का इलाज करने की जिम्मेदारी विभाग के चिकित्साधिकारियों को सौंपी जाएगी। मुरादाबाद समेत यूपी के किसी भी जिले के सीएमओ कार्यालय में अभी दवाओं का कोई स्टोर नहीं है। आपात स्थिति में दवाओं की जरूरत होने पर मरीज को जिला अस्पताल भेजने या फिर वहीं से दवा मंगाने का विकल्प होता है। 

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. कुलदीप सिंह ने बताया कि अब कार्यालय में सभी जरूरी दवाओं की व्यवस्था कराई जाएगी और विभाग के ही किसी चिकित्साधिकारी को इसका जिम्मा सौंपा जाएगा। इमरजेंसी में कहीं भी मेडिकल स्टाफ भेजे जाने के लिए अब जिला अस्पताल की तरह ही सीएमओ दफ्तर से भी दवाएं ली जा सकेंगी। कार्यालय में कार्यरत कर्मियों व बाहर से आने वाले लोगों को जरूरत होने पर दवा के साथ प्राथमिक चिकित्सा मिल सकेगी।

बरेली में बसेगी नाथधाम इंटीग्रेटेड टाउनशिप, बीडीए ने तैयार किया प्लान

40 स्टाफ नर्स चयनित, संभालेंगी वेलनेस सेंटर
सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए चल रहीं कोशिशों में से एक और कोशिश कामयाब हुई है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत की जा रही कर्मियों की भर्ती में एएनएम और लैब टेक्नीशियन के बाद अब 40 चयनित स्टाफ नर्स की सूची जारी हुई है। अर्बन हेल्थ कोआर्डिनेटर प्रमोद कुमार ने बताया कि इन स्टाफ नर्सों को हेल्थ वेलनेस सेंटर की कमान सौंपी जाएगी। तैनाती होते ही चयनित स्टाफ नर्स संबंधित वेलनेस सेंटर की जिम्मेदारी संभालेंगे।

रसोइयों को मिलेंगे ड्रेस के पैसे, निदेशक ने लिखा पत्र
मुरादाबाद में तैनात रसोइयों को ड्रेस के लिए पैसे मिलेंगे। इसको लेकर मध्याह्न भोजन प्राधिकरण ( एमडीएमए) की निदेशक ने सूबे के सभी डीएम को पत्र लिखा है। 500 रुपये प्रति रसोइए के हिसाब से पैसे दिए जाएंगे। विद्यालयो में कार्यरत रसोइयों के लिए 18 लाख 20 हजार रुपये का आवंटन किया जाएगा। इस धनराशि का उपयोग 31 मार्च से पहले सुनिश्चित कराना है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें