ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसाथ जिए-साथ मरे! झगड़े के बाद पत्नी ने खाया जहर, पति सड़क हादसे का शिकार, चार बच्चे अनाथ

साथ जिए-साथ मरे! झगड़े के बाद पत्नी ने खाया जहर, पति सड़क हादसे का शिकार, चार बच्चे अनाथ

मुरादाबाद में पत्नी ने विवाद में जहर खाया और होमगार्ड पति की हादसे में मौत हो गई। होमगार्ड पत्नी के इलाज को पैसे लेने जा रहा था। पति की मौत के थोड़ी देर बाद पत्नी ने भी दम तोड़ा। चार बच्चे अनाथ रह गए।

साथ जिए-साथ मरे! झगड़े के बाद पत्नी ने खाया जहर, पति सड़क हादसे का शिकार, चार बच्चे अनाथ
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,मुरादाबादSat, 25 May 2024 10:54 AM
ऐप पर पढ़ें

मुरादाबाद के मझोला क्षेत्र में किराये पर रह रहे होमगार्ड नवल सिंह का गुरुवार शाम पत्नी दीपमाला से झगड़ा हो गया। गुस्साई पत्नी ने जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। होमगार्ड उसके उपचार के लिए रुपये लेने देर रात अपने गांव जा रहा था तभी मूंढापांडे थाना क्षेत्र में हाईवे पर उसे ट्रक ने कुचल दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई। थोड़ी देर बाद अस्पताल में भर्ती पत्नी ने भी दम तोड़ दिया। देर शाम गमगीन माहौल में गांव के श्मशान घाट पर पति-पत्नी का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया।

मूंढापांडे थाना क्षेत्र के गांव मुंडिया भायपुर निवासी नवल सिंह होमगार्ड था। उसकी तैनाती ट्रैफिक पुलिस में टीआई अनुराधा सिंह के साथ हमराह के रूप में चल रही थी। परिवार में पत्नी दीपमाला के अलावा बेटी सुहानी और अंजली और दो बेटे विराट और मितांशु हैं। पुलिस के अनुसार गुरुवार शाम नवल सिंह का उसकी पत्नी दीपमाला से विवाद हो गया। इसके बाद दीपमाला ने जहर खा लिया।

चंद घंटे में पति-पत्नी की मौत से परिवार में कोहराम
दीपमाला की हालत बिगड़ने पर आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां से हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने हायर मेडिकल सेंटर रेफर कर दिया। बाद में उसे कांठ रोड स्थित कॉसमॉस अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसके मायके और ससुराल पक्ष के लोग भी पहुंच गए। वहां पत्नी का उपचार कराने के लिए होमगार्ड पति नवल सिंह भी डटा था। रात करीब 12 बजे नवल सिंह अपनी बाइक लेकर उपचार के लिए पैसे लेने गांव मुड़िया भायपुर के लिए निकल गया। बताया गया कि दिल्ली-लखनऊ हाईवे पर मूंढापांडे थाना क्षेत्र में टोल प्लाजा के पास हरसैनपुर शिवा ढाबे के सामने पहुंचा तभी ट्रक ने उसकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। 

लघु शोध प्रबंध जमा कराने गई छात्रा के साथ छेड़छाड़, प्रोफेसर पर लगा गंभीर इल्‍जाम; छात्रों का हंगामा

हादसे में गंभीर घायल नवल सिंह को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर शव मोर्चरी में रखवा दिया। उधर तड़के करीब साढ़े तीन बजे पत्नी दीपमाला ने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मात्र दो से ढाई घंटे के अंदर दंपति की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस ने शुक्रवार को पोस्टमार्टम कराकर दोनों शव परिजनों को सौंप दिया। गांव मुड़िया भायपुर के श्मशान घाट पर देर शाम दोनों के शव का अंतिम संस्कार किया गया। एसएचओ मूंढापांडे शैलेंद्र कुमार ने बताया कि ट्रक का टायर फटने के कारण हादसा हुआ, जिसमें होमगार्ड की मौत हो गई। हादसे के बाद चालक फरार हो गया। ट्रक को कब्जे में ले लिया गया है।

चार बच्चों से एक झटके में छिन गया पिता का साया और मां का प्यार
हादसे में जान गंवाने वाले होमगार्ड नवल सिंह और जहर खाकर जान देने वाली उसकी पत्नी दीपमाला के कुल चार संतान है। बड़ी बेटी सुहानी (13 वर्ष) उसके बाद दूसरी बेटी अंजली(11 वर्ष) और दो बेटे विराट (8 वर्ष) व मितांशु (6 वर्ष) हैं। चारों बच्चे अभी नाबालिग हैं।

पांच भाइयों की इकलौती बहन थी दीपमाला
जहर खाकर जान देने वाली होमगार्ड नवल सिंह की पत्नी दीपमाला का मायका अमरोहा के जोया कस्बे का है। भाई मोनू ने बताया कि दीपमाला पांच भाईयों की इकलौती बहन थी। मोनू ने बताया कि बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखकर बहनोई नवल सिंह और दीपमाला मझोला थाना क्षेत्र के चाऊ की बस्ती में किराये पर मकान लेकर रह रहे थे। करीब तीन माह पूर्व दोनों में विवाद हुआ था, जिसके बाद दीपमाला मायके चली गई थी। गुरुवार को ही वह मायके से लौट कर आई थी।