DA Image
10 फरवरी, 2021|12:08|IST

अगली स्टोरी

यूपी एमएलसी चुनाव : 11 सीटों पर 199 प्रत्याशी के भाग्य का फैसला आज, भाजपा-सपा ने झोंकी ताकत 

up assembly

प्रदेश विधान परिषद की शिक्षक व स्नातक खण्ड निर्वाचन क्षेत्र की 11 रिक्त सीटों के लिए हो रहे चुनाव में मंगलवार को मतदान होगा। मतदान की सारी तैयारी पूरी हो चुकी हैं। मतदान कानपुर नगर, कानपुर देहात और उन्नाव जिले को छोड़कर प्रदेश के सभी 72 जिलों में होगा। सोमवार की शाम तक पोलिंग पार्टियां अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंच गयीं। मतदान सुबह 8 बजे से शुरू होकर शाम 5 बजे तक चलेगा। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर इस मतदान में भी कोविड-19 के प्रोटोकाल का पूरी तरह पालन करवाया जाएगा। इसके तहत मतदान कार्मिकों और वोटरों की सुरक्षा के लिए हर मतदान केन्द्र पर थर्मल स्कैनर, हैण्ड सैनेटाइजर, ग्लव्स, फेस मास्क, फेस शील्ड, पीपीई किट, साबुन, पानी आदि की समुचित व्यवस्था की गयी है।

केन्द्रीय निर्वाचन आयोग ने कोविड-19 के प्रोटोकाल के तहत प्रत्येक मतदेय स्थल पर अधिकतम एक हजार वोटरों को ही वोट डालने की अनुमति प्रदान की है। निष्पक्ष और स्वतंत्र मतदान के लिए 11 प्रेक्षक तैनात किये गये हैं। इसके अलावा 952 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 413 जोनल मजिस्ट्रेट भी तैनात किये गये हैं। हर मतदेय स्थल पर माइक्रो आब्जर्वर की भी ड्यूटी लगायी गयी है। हर मतदेय स्थल की वीडियोग्राफी भी करवाई जाएगी।

खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र 
पांच सीटें: लखनऊ, आगरा, मेरठ, वाराणसी तथा इलाहाबाद-झांसी
कुल 12,69,817 वोटर और 1808 मतदेय स्थल, कुल 114 प्रत्याशी

खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र 
छह सीटें:लखनऊ, आगरा, मेरठ, वाराणसी, बरेली-मुरादाबाद, गोरखपुर-फैजाबाद
-कुल 2, 06, 335 वोटर और 813 मतदेय स्थल, कुल  84 प्रत्याशी

पूरे दम-खम से मैदान में उतरे सपा-भाजपा प्रत्याशी
विधान परिषद की स्नातक और शिक्षक निर्वाचन खंड की 11 सीटों पर पहली दिसंबर को होने वाले चुनाव में भी पूरी तरह राजनीतिक रंग चढ़ गया है। इस चुनाव में भी सत्तारूढ़ भाजपा और सपा के प्रत्याशी पूरे दम-खम से उतरे हैं। हालांकि शिक्षक संगठनों के प्रत्याशी भी चुनाव में अपनी सशक्त मौजूदगी बनाए हुए हैं। चुनाव में 11 सीटों पर कुल 199 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। सत्तारूढ़ भाजपा के लिए यह चुनाव इसलिए अहम है क्योंकि वह विधान परिषद में भी अपना संख्या बल बढ़ाना चाहती है। यही वजह है कि भाजपा ने स्नातक निर्वाचन खंड की सभी पांच सीटों से और शिक्षक निर्वाचन खंड की छह में से चार सीटों पर सीधे तौर पर अपना प्रत्याशी उतारा है।

शिक्षक निर्वाचन खंड की एक सीट पर भाजपा ने शिक्षक संघ के प्रत्याशी को समर्थन दिया है तो एक अन्य सीट को छोड़ दिया है। इस छोड़ी गई सीट पर निर्दलीय के रूप में भाजपा के तीन नेता चुनाव मैदान में हैं। सपा ने तो सभी 11 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं। दोनों दलों की शिक्षक संगठनों के प्रत्याशियों से भिड़ंत होनी है। लखनऊ शिक्षक खंड के चुनाव में लखनऊ विश्वविद्यालय संबद्ध महाविद्यालय शिक्षक संघ (लुआक्टा) ने भी दावेदारी की है। उसके अध्यक्ष खुद प्रत्याशी हैं। पूर्व के चुनावों में ओम प्रकाश शर्मा की अगुवाई वाले उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ का दबदबा रहा है। ओम प्रकाश शर्मा खुद लंबे समय से विधान परिषद में शिक्षक विधायक दल के नेता रहे हैं। 

इनका कार्यकाल खत्म होने से खाली हुई हैं सीटें 
यह चुनाव लखनऊ शिक्षक निर्वाचन खंड से उमेश द्विवेदी, वाराणसी से चेत नारायण सिंह, आगरा से जगवीर किशोर जैन, मेरठ से ओम प्रकाश शर्मा, बरेली-मुरादाबाद से संजय कुमार मिश्रा और गोरखपुर-फैजाबाद खंड से ध्रुव कुमार त्रिपाठी का कार्यकाल छह मई 2020 को खत्म हो जाने के कारण कराया जा रहा है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP MLC election : luck of 199 candidates in 11 seats for MLC elections will be decided 1 december BJP-SP strength