ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमेरठ के एक घर में घुसा तेंदुआ, रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू, दो बच्चों समेत परिवार के पांच भी मकान में कैद

मेरठ के एक घर में घुसा तेंदुआ, रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू, दो बच्चों समेत परिवार के पांच भी मकान में कैद

मेरठ में एक बार फिर तेंदुए की दहशत फैल गई है। शनिवार सुबह तेंदुआ रिहायशी इलाके में घुसकर एक घर में घुस गया। इससे हड़कंप मचा। पुलिस और वन विभाग की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर उसे पकड़ने में जुटी।

मेरठ के एक घर में घुसा तेंदुआ, रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू, दो बच्चों समेत परिवार के पांच भी मकान में कैद
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,मेरठSat, 13 Apr 2024 05:51 PM
ऐप पर पढ़ें

मेरठ के रिहायशी इलाके में तेंदुआ घुसने से हड़कंप मच गया। तेंदुआ एक घर में घुस गया जिसके बाद लोगों में दहशत फैल गई। दरअसल शनिवार सुबह गंगानगर थाना क्षेत्र के कसेरू खेड़ा आबादी के बीच एक तेंदुआ घुस आया। पहले वह एक मंदिर परिसर में आया और तंग गली में फस गया। बाद में तेंदुआ मकान की छतों से होता हुआ दूसरी तरफ मकान में जा घुसा। इसी मकान में परिवार के चार सदस्य भी थे, जो करीब छह घंटे तक कैद रहे। मकान की दीवार तोड़कर उन्हें निकाला गया। फिलहाल तेंदुआ रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। दूसरी और तेंदुए के हमले में एक युवा घायल हो गया था जिसे उपचार के लिए दिल्ली रेफर किया गया है।

दो दिन पहले एक तेंदुए का कैंट क्षेत्र के कसेरू खेड़ा इलाके में नाले के किनारे घूमते हुए वीडियो वायरल हुआ था। शुक्रवार को इसकी सूचना वन विभाग को दी गई। डीएफओ राजेश कुमार ने वन विभाग की टीम में बनाकर तेंदुए की तलाश कराई। शनिवार सुबह नौ बजे पुलिस और वन विभाग को तेंदुए के कसेरूखेड़ा में एक मंदिर में घुसने आने सूचना पुलिस और वन विभाग को दी गई। जब तक तेंदुए की घेराबंदी की जाती तब तक वह मंदिर से निकलकर गली में होता हुआ मकान की छत से उछल कूद कर सूबेदार निरंजन सिंह के मकान में जा घुसा। इस मकान में परिवार के चार लोग मौजूद थे, उन्होंने तेंदुआ देखा तो खुद को मकान के एक कमरे में बंद कर लिया।

तेंदुए को पकड़ने के लिए मकान को जाल से कर किया गया। करीब तीन बजे पहले मकान की दीवार तोड़कर अंदर बंद परिवार के चार लोगों को निकाला गया। इसके बाद डीएफओ राजेश कुमार, वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. आरके सिंह, एसडीओ अंशु चावला, लाल कुर्ती थाना प्रभारी निरीक्षक इंदु वर्मा टीम के साथ मकान में घुसी। टीम को काफी मशक्कत के बाद भी तेंदुआ नजर नहीं आया। इसके बाद दूसरी तरफ से मकान की दीवार तोड़ी गई। वहां से भी तेंदुआ नहीं देखा।

शाम को 5:30 बजे मकान से सटे तीसरी मकान की दीवार तोड़ी। इससे पहले मकान की छत से तीन सेट काटा गया। फिलहाल मकान के अंदर तेंदुआ दिखाई नहीं देने के कारण तेंदुआ रेस्क्यू ऑपरेशन में सफलता नहीं मिल पाई। तेंदुए के हमले में अंगद नामक एक युवक घायल भी हुआ है। जिसे पहले उपचार के लिए स्थानीय अस्पताल ले जाया गया। बताया जा रहा है कि उसे मेरठ से दिल्ली के लिए रेफर कर दिया गया है। करीब 5:30 बजे तेंदुआ हरकत में आया और निकलने का प्रयास किया, लेकिन मकान जाल से घिरा होने के कारण वह अंदर ही रह गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें