ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशबेटी के घर पहुंचे परिवार ने दामाद को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, रास्ते में कर दी एक और हत्या

बेटी के घर पहुंचे परिवार ने दामाद को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, रास्ते में कर दी एक और हत्या

मथुरा में बेटी के बुलावे पर ससुराल पहुंचे घरवालों ने दामाद को पीट-पीटकर मार डाला। इतना ही नहीं बल्कि हत्या के बाद भागते आरोपियों ने बोलेरो से एक गाय को उड़ाया जिससे उसकी भी मौत हो गई।

बेटी के घर पहुंचे परिवार ने दामाद को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, रास्ते में कर दी एक और हत्या
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,मथुराFri, 21 Jun 2024 10:55 AM
ऐप पर पढ़ें

मथुरा के छाता में पति-पत्नी के विवाद में बेटी के बुलावे पर पहुंचे घरवालों ने ससुराल में दामाद की हत्या कर दी। चचेरे भाई को घायल कर दिया। बुधवार आधी रात हुई वारदात में ग्रामीणों को देख हमलावर भाग निकले। पिता ने बहू समेत छह नामजद व पांच अज्ञात पर हत्या का केस दर्ज कराया है। छाता पुलिस ने बताया, गांव तरौली जनूबी निवासी राजेन्द्र के दो बेटों वीरेंद्र और लक्ष्मण से करीब 10 वर्ष पूर्व गांव बबरौद, अछनेरा (आगरा) निवासी बहनें कमलेश व गुड़िया से शादी हुई थी। बुधवार को वीरेंद्र व पत्नी कमलेश में विवाद हुआ था। कमलेश और गुड़िया ने मायकेवाले बुला लिए। रात करीब 12 बजे पहुंचे मायकेजनों ने वीरेंद्र की कुल्हाड़ी से प्रहार कर हत्या कर दी।

हत्या के बाद भागते आरोपियों ने बोलेरो से गाय को उड़ाया
गांव तरौली जनूबी में ससुरालियों द्वारा किए गए हमले का शोर सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचने लगे। लोगों को आता देख हमलावर अपनी गाड़ी और बाइक लेकर भागे। इस दौरान तेज रफ्तर बोलेरो गाड़ी की रास्ते में आई गाय को जबरदस्त टक्कर मार दी। इससे गाय की मौत हो गई। 

ये भी पढ़ें: देवरिया में सो रहे व्यक्ति की गला रेत कर हत्या, गांव में सनसनी

दोनों बहनें हिरासत में
छाता के गांव तरौली जनूबी में आधी रात दामाद की बेरहमी से हत्या से हड़कंप मच गया। पुलिस ने बताया कि पति-पत्नी के विवाद में पत्नी कमलेश के बुलाने पर उसके भाई भूदेव, प्रभु, पिता बालो, महेश निवासीगण बबरौद, अछनेरा (आगरा) के अलावा चार अज्ञात लोग निवासी बरौली, छाता घर आ गए। आरोप है कि उन्होंने वीरेन्द्र पर कुल्हाड़ी, लाठी-डंडों से हमला कर दिया। वीरेंद्र के पिता राजेन्द्र ने कहा कि वह और उनका भतीजा पास ही सो रहे थे। उन्होंने जब बेटे को बचाने का प्रयास किया तो हमलावरों ने उन्हें भी लाठियों से पीटकर घायल कर दिया। 

पड़ोसी जागकर बाहर आए तो हमलावर बोलेरो व दो बाइकों पर आरोपी बरौली की ओर भाग गए। इस दौरान आए ग्रामीणों ने घायलों को केडी मेडिकल अकबरपुर में भर्ती कराया। बेटे वीरेन्द्र को सिटी हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने दोनों बहनों को हिरासत में ले लिया है। थाना प्रभारी निरीक्षक छाता संजय त्यागी ने बताया कि आरोपियों की तलाश को लेकर पुलिस टीमें लगाई हैं।