ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी लोकसभा चुनाव : मतदान करने के बजाय फांस-इटली, बाली की सैर पर गए हजारों लोग, नहीं किया वोट

यूपी लोकसभा चुनाव : मतदान करने के बजाय फांस-इटली, बाली की सैर पर गए हजारों लोग, नहीं किया वोट

UP Lok Sabha Elections: राजधानी लखनऊ में 70 से 80 हजार लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपने मताधिकार का प्रयोग कर सांसद चुनने की बजाय सैर सपाटे को तरजीह दी। ये सभी लोग विदेश और देश के पर्यटन पर चले गए।

यूपी लोकसभा चुनाव : मतदान करने के बजाय फांस-इटली, बाली की सैर पर गए हजारों लोग, नहीं किया वोट
Deep Pandeyज्ञान प्रकाश,लखनऊThu, 30 May 2024 10:42 AM
ऐप पर पढ़ें

पांच साल तक समस्याएं गिनाते रहे। राजनीति, नेताओं की चर्चा करते रहे। जब अपने कर्तव्य को निभाने की बारी आई तो घूमने निकल गए। 70 से 80 हजार लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपने मताधिकार का प्रयोग कर सांसद चुनने की बजाय सैर सपाटे को तरजीह दी। ये सभी लोग 17 मई से 19 मई के बीच विदेश और देश के पर्यटन स्थलों की सैर पर निकल गए। टूर पैकेज पांच से 15 दिन के हैं इसलिए यह उम्मीद करना बेकार होगा कि इनमें से किसी ने 20 मई को वोट दिया होगा।

एयर ट्रैवेल एजेंट्स एसोसिएशन यूपी-यूके चैप्टर के आंकड़े गवाह हैं कि 17 से 20 के बीच रोजाना आठ से नौ हजार लोग टूर पैकेज बुक कराने के बाद लखनऊ छोड़ गए। कोई मलेशिया गया तो कोई दुबई। किसी ने यूरोप के लिए टूर पैकेज बुक कराया। इन आंकड़ों में रोड ट्रिप यानी सड़क मार्ग से जाने वाले पर्यटकों की संख्या शामिल नहीं है। ट्रैवेल एजेंसियों के अनुसार करीब 40 से 50 हजार लोग इसी अवधि के बीच उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश या जम्मू-कश्मीर घूमने निकले हैं। यानी कुल 70 से 80 हजार लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपने मताधिकार का प्रयोग कर सांसद चुनने की बजाय सैर सपाटे को तरजीह दी। वहीं, विमानन कंपनियों के आंकड़ों के अनुसार 20 अप्रैल से 20 मई के बीच कनेक्टिंग उड़ानों से जाने वाले यात्रियों की संख्या में जबरदस्त वृद्धि दर्ज की गई है।

ऐसा इसलिए कि विदेश, नॉर्थ ईस्ट समेत कई प्रमुख स्थालों पर जाने के लिए पर्यटकों ने कनेक्टिंग उड़ानों का रुख किया। विदेश जाने वाली उड़ानें ज्यादातर दिल्ली, मुम्बई से हैं। इसके अलावा खाड़ी देशों से भी अधिसंख्य पर्यटक बिजनेस क्लास की उड़ानें बुक कराते हैं।

इन पर्यटन स्थलों के लिए निकले लोग
अजरबेजान के बाकू, मलेशिया, फ्रांस, इटली, कजाकिस्तान, बाली के लिए ज्यादा टूरिस्ट गए। ट्रैवेल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के (टीएएआई) के एसएमए शिराज के अनुसार इसके अलावा जम्मू-कश्मीर, केरल, नॉर्थ ईस्ट और हिमाचल के कई नए पर्यटन स्थलों के लिए लोगों ने पैकेज बुक कराए हैं।

कम रहा लखनऊ में मतदान
लखनऊ में इस बार 52.28 फीसदी मतदान हुआ। इसके पूर्व 2019 में यहां 54.30 फीसदी वोट पड़े थे। पांच साल पहले हुए चुनाव के मुकाबले इस बार 2.44 फीसदी कम वोट पड़े। कई मतदान केन्द्र ऐसे थे जहां दोपहर तक सन्नाटा हो गया जो कि शाम तक बना रहा। पीठासीन अधिकारी से लेकर मतदान अधिकारी और सुरक्षा कर्मी गर्मी में पसीना बहाते रहे लेकिन दोपहर के बाद इक्का दुक्का वोट ही पड़े।