ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशजैसे समुद्र मंथन हुआ, वैसे ही संविधान मंथन होने जा रहा है, अखिलेश का बीजेपी पर हमला

जैसे समुद्र मंथन हुआ, वैसे ही संविधान मंथन होने जा रहा है, अखिलेश का बीजेपी पर हमला

यूपी के बांदा में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी प्रत्याशी कृष्णा पटेल के समर्थन में जनसभा की। जैसे समुद्र मंथन हुआ था, वैसे ही संविधान मंथन होने जा रहा है।

जैसे समुद्र मंथन हुआ, वैसे ही संविधान मंथन होने जा रहा है, अखिलेश का बीजेपी पर हमला
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,बांदाThu, 16 May 2024 03:05 PM
ऐप पर पढ़ें

बांदा में अतर्रा के हिन्दू इंटर कॉलेज के मैदान में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पार्टी प्रत्याशी कृष्णा पटेल के समर्थन में चुनावी जनसभा की। कहा कि बुंदेलखंड की जनता के साथ धोखा हुआ है। भाजपा ने बुंदेलखंड को लूटने का काम किया है। यह चुनाव हमारे भविष्य ही नहीं आनेवाली पीढ़ी का चुनाव है। जैसे समुद्र मंथन हुआ था, वैसे ही संविधान मंथन होने जा रहा है। संविधान मंथन का चुनाव है। उन्होंने कहा कि एक तरफ संविधान बचानेवाले हैं। दूसरी तरफ वे ताकतें हैं, जो संविधान हटाना और बदलना चाहते हैं। चार चरण चुनाव हो चुका है। भाजपा चारों खाने चित हो चुकी है। अब तो आंसुओं की नदी भी बहने लगी है। सुनने में यह भी आ रहा है कि न केवल खतरे के ऊपर बह रहा आंसुओं का पानी, बल्कि जनता इस बार हिसाब भी करने जा रही है।

10 साल दिल्ली की सरकार और सात साल यूपी की सरकार का हिसाब-किताब लेना है। भाजपा ने वादा किया थ किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी। किसी भी किसान के फसल पैदावार की आय दोगुनी नहीं हुई। डीजल, खाद, कीटनाशक दवाइयों के दाम बढ़े हैं। जीएसटी लगाकर सबकुछ महंगा कर दिया। किसान जानते होंगे कि खाद की बोरी में चोरी की गई है। केवल पांच किलो नहीं 10 किलो की चोरी की गई। भाजपा ने किसानों को जबरन नैनो यूरिया खरीदवाई। कहा था कि किसानों की पैदावार बढ़ जाएगी। डीएपी तभी मिलती थी, जब नैनो यूरिया खरीदते थे। नैनो यूरिया से न पैदावार बढ़ाई, न ही खेत में सुधाार हुआ। सुनने में आ रहा है कि जैसे उद्योगपति भारत का पैसा लेकर भाग गए, वैसे ही नैनो यूरिया वाले भी भाग गए। लेटरल इंट्रीवाले आईएएस भी भाग गए। 

पेपर लीक नहीं हुए, नौकरी न देने के लिए कराएं गए
कहा कि आज नौजवानों के सामने कोई नौकरी का रास्ता नहीं बचा। भाजपा रोजगार नहीं दे पाई। जब कभी भी परीक्षा हुई तो पेपर लीक हो गए। परीक्षा रद कर दी गई। नौजवान जानते होंगे, दस से ज्यादा परीक्षाएं इस सरकार में रद की गईं। हाल में पुलिसभर्ती की दो दिन परीक्षा कराई। भरोसा दिया था कि पेपर लीक नहीं होगा। दो दिन परीक्षा देकर नौजवान घर लौटे। उन्हें लगा नौकरी मिल जाएगी। भविष्य सुधर जाएगा। चला कि पुलिस भर्ती पेपर लीक हो गया। पेपर लीक नहीं हुए। कराए गए हैं। इस लिए कराए हैं कि नौकरी न देनी पड़ जाए। सिर्फ नौकरी का सवाल नहीं, आरक्षण का भी सवाल है। भाजपा जानती है कि नौकरी देने में पीडीए को आरक्षण भी देना पड़ेगा। पेपर लीक और परीक्षाएं रद होने से प्रदेश के 60 लाख नौजवानों का भविष्य अंधकार में डाल दिया। इन्हीं 60 लाख बच्चों के मां-बाप को जोड़ दें तो प्रदेश में एक करोड़ 80 लाख भाजपा से नाराज हैं। नाराज लोगों का 80 लोकसभा से भाग दे तो दो लाख 25 हजार वोट भाजपा का कम हो गया।

भाजपा की सरकार आई तो पुलिस की नौकरी तीन साल कर दी जाएगी 
भाजपा ने फौज की नौकरी भी आधी-अधूरी कर दी है। यह जानबूझकर किया है। भाजपा जानती है कि फौज में गांव-गरीब और किसान का बेटा जाता है। अग्निवीर वालों को कोई सम्मान सुविधा नहीं मिलनी है। शहीद होने पर भी सम्मान नहीं मिलेगा। चार जून के बाद सरकार बनने जा रही है। अग्निवीर नौकरी हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी। कहा कि खाकी वर्दी पहने भाइयों को देखता हूं तो उनसे कहता हूं कि सावधान हो जाओ। भाजपा की सरकार आई तो आपकी नौकरी तीन साल कर देंगे। फौज की चार साल कर दी है। किसी को पता था कि फौज की नौकरी आधी-अधूरी हो जाएगी। कोई जानता था कि हवाई अड्डे, रेलवे, जहाज और मोबाइल कंपनियां बेच दी जाएंगी। नौकरी आउट सोर्स हो जाएगी। बैंकें डुबो दी जाएंगी। 

एक तरफ जान और दूसरी तरफ संविधान को खतरा
कहा कि वैक्सीन में ष्घोटाला किया। सभी को जबरन वैक्सीन लगवा दी। वैक्सीनवाली कंपनी कह रही हैं, जो वैक्सीन लगी है। उसे वापस ले लेंगे। शरीर से वैक्सीन वापस कैसे ले लेंगे। बिना चेंकिंग वैक्सीन से जान का खतरा पैदा किया है। एक तरफ जान और दूसरी तरफ सविंधान का खतरा पैदा किया है। भाजपाइयों से सावधान होने की जरूरत हे। एक वोट से दो सरकारे जाएंगी। 

मिसाइलें और बम छोड़िए, सुतली बम भी नहीं बनाया
पूरा बुंदेलखंड आजादी के इतने दिन बाद भी प्यासा है। ष्घर-ष्घर नल योजना में पैसा इमानदारी से लगा होता तो घर ही नहीं खेत में भी पानी पहुंच जाता है। भाजपा ने ऐसा पाइप बनाया है कि नल से पानी नहीं पहुंचा। पूरा पैसा भाजपाइयों की जेब में पहुंच गया। खनन को लेकर सबसे ज्यादा लूट भाजपा मचा रही है। रोजगार न मिलने से बुंदेलखंड के लोग पलायन कर रहे हैं। भाजपा ने डिफेंस कॉरिडोर बनने की बात कही है। कहीं कोई कारखाना लगा हो तो बताओ। बड़ी-बड़ी मिशाइल और बम बनाने के लिए कहा था। दीवाली का सुतली बम भी नहीं बनाया। भाजपा वाले जानते हैं कि यहां कारखाना लगा देंगे तो यहां के मजदूर दूसरे प्रदेशाों में कैसे जाएंगे। दूसरे प्रदेशों के कारखाना चलाने के लिए यहां कारखाना नहीं लगाया। धोखा दे रहे हैं। बांदा को बहुत बदनाम किया। बुंदेलखंड के लोग दुश्मनों को जानते हैं। पराजित करना जानते हैं। 

जिसके लिए वोट मांग रहे हैं, वो होर्डिंग से गायब है
भाजपा डबल इंजन की सरकार अपने आप को कहती है। जिसके लिए वोट मांग रहे हैं। वो इंजन होर्डिंग से गायब है। बांदा के लिए यहां के इंजन ने क्या दिया है। यहां जो यूनिवर्सिटी बनी है। कोई दलित-पिछड़ा नौकरी नहीं पाया है। चुनाव सिर्फ हमारे आपके भविष्य का नहीं है। आनेवाली पीढ़ी के भविष्य का है। संविधान इस लिए बदलना चाहते हैं कि जो ज्यादा आबादी में है। उन्हें सम्मान नहीं देना चाहते हैं। हम जाति जनगणना कराकर सम्मान देंगे। नौकरी देंगे। बड़े उद्योपतियों का कर्ज माफ किया। किसानों का कर्ज नहीं माफ किया। यूपी में कर्ज तले दबा सबसे अधिक बुंदेलखंड का किसान आत्महत्या करता है। बुंदेलखंड में बिजली आना तो दूर मीटर लगाकर बिल वसूल कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने मीटर लगवाए पर बिजली का कारखाना नहीं लगवाया। कहा कि बीजेपी-बीएसपी ने अंदर ही अंदर हाथ मिला लिया। यह लड़ाई संविधान बचाने की है। हम पर परिवारवाद का आरोप इसलिए लगाते हैं कि पीडीए परिवार बढ़ा हो गया है। चुनाव आगे बढ़ने के साथ जनता का गुस्सा भाजपा के साथ बढ़ रहा है। सातवें चरण के चुनाव में जनता का गुस्सा सातवें आसमान पर होगा। चार चरण में भाजपा की भाषा बदल गई। भाजपा अपनी नकारात्म राजनीति में उलझ गई है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें