ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशलोकसभा चुनाव में बीजेपी में भितरघात करने वालों पर हो सकती है कार्रवाई, तैयार कर रहे रिपोर्ट

लोकसभा चुनाव में बीजेपी में भितरघात करने वालों पर हो सकती है कार्रवाई, तैयार कर रहे रिपोर्ट

लोकसभा चुनाव का परिणाम आने के बाद अब चर्चा है कि बीजेपी विरोध करने वालों पर अनुशानात्मक कार्रवाई जरूर करेगी। चुनाव से पहले भी चार पदाधिकारियों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया था।

लोकसभा चुनाव में बीजेपी में भितरघात करने वालों पर हो सकती है कार्रवाई, तैयार कर रहे रिपोर्ट
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,अलीगढ़Tue, 11 Jun 2024 09:31 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव का परिणाम आने के बाद तीसरी बार केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार स्थापित हो गई है। अब संगठन में भितरघात व पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वालों के पंख कतरे जाने की तैयारी तेज हो गई है। अलीगढ़ लोकसभा सीट पर सतीश गौतम जैसे तैसे तीसरी बार सांसद बन गए, लेकिन विरोध करने वालों पर संगठन अनुशानात्मक कार्रवाई जरूर करेगा। चुनाव से पहले भी चार पदाधिकारियों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया था।

केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मंत्रीमंडल के शपथ ग्रहण संगठन स्तर पर विरोध, भीतरघात व मुखालफत करने वालों की रिपोर्ट तैयार की जा रही है। सांसद सतीश गौतम इस बार महज 15 हजार से अधिक वोटों से चुनाव जीते हैं। जबिक 2019 में दो लाख से अधिक मतों से चुनाव जीते थे। सांसद सतीश गौतम को टिकट मिलने से लेकर चुनाव में भारी विरोध संगठन स्तर पर उठाना पड़ा। भाजपा में बड़ा सियासी कद रखने वालों ने भी विरोध व षडयंत्र का कोई मौका नहीं छोड़ा। 

तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद 18 जून को वाराणसी आएंगे नरेंद्र मोदी, काशी वासियों का जताएंगे आभार

भीतरखाने सांसद सतीश गौतम को हराने की पूरी कोशिश की गई। इसका नतीजा सामने है कि तीन विधानसभा सतीश गौतम हार गए। केवल बरौली व अतरौली से चुनाव जीत पाए। शहर, कोल व खैर विधानसभा में भाजपा पराजित हो गई। टिकट मिलने के बाद तमाम तस्वीरे व पुराने वीडियो वायरल कराए गए। भीतरखाने नेताओं ने सतीश गौतम के चुनाव प्रचार से हाथ पीछे खींचने से लेकर सभाओं में भीड़ नहीं जुटाई। गभाना में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली में तमाम खामियां देखने को मिली थी। वहां भी भीड़ उम्मीद के मुताबिक नहीं थी।

भाजपा जिलाध्यक्ष, कृष्णपाल सिंह लाला ने कहा कि लोकसभा चुनाव में विरोध व भीतरघात किसी से छिपा नहीं है। निष्क्रियता, विरोध व पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने को लेकर एक दो दिन में समीक्षा बैठक की जाएगी। इसकी रिपोर्ट हाईकमान को भेजी जाएगी। बूथ स्तर पर पार्टी के लोग ही वोट नहीं डलवा पाए हैं।