ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसीएम योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना- नहीं हथिया पाएंगे सत्ता, सोनिया गांधी को दी सच बोलने की नसीहत

सीएम योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना- नहीं हथिया पाएंगे सत्ता, सोनिया गांधी को दी सच बोलने की नसीहत

लोकसभा चुनाव 2024 के बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बयान में कहा कि कांग्रेस का घोषणापत्र विभाजनकारी है। ये एससी, एसटी और ओबीसी में सेंध लगाने वाला है। सीएम योगी ने सोनिया गांधी पर भी निशाना साधा।

सीएम योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना- नहीं हथिया पाएंगे सत्ता, सोनिया गांधी को दी सच बोलने की नसीहत
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरWed, 08 May 2024 12:04 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 के प्रचार में जुटे सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एक बयान में कहा कि कांग्रेस का घोषणापत्र विभाजनकारी है। ये एससी, एसटी और ओबीसी में सेंध लगाने वाला है। मीडिया से बात करते हुए सीएम योगी ने कांग्रेस नेता सोनिया गांधी पर भी निशाना साधा है। सोनिया गांधी के एक बयान पर सीएम योगी ने पलटवार करते हुए कांग्रेस और सोनिया गांधी दोनों पर बयान दिया।

सीएम योगी ने सोनिया गांधी के एक बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि उल्टा चोर कोतवाल को डांटे। ये हर व्यक्ति जानता है कि बांटो और राज करो ये कांग्रेस को विरासत में प्राप्त हुआ है। अंग्रेजों की कुटिल चाल को 1947 में कांग्रेस ने सफल होने दिया और देश का बंटवारा होने दिया। आजादी के बाद जाति, क्षेत्र और भाषा के नाम पर देश के अंदर वर्ग संघर्ष कराकर आतंकवाद, नक्सलवाद और अलगाववाद उनकी देन है। यूपीए चेयरपर्सन के रूप में सोनिया गांधी ने 2004-2014 के बीच क्या किया था? कौन नहीं जानता? क्या ये सच नहीं की ओबीसी के आरक्षण पर सेंध लगाने के लिए उस समय जस्टिस रंगनाथ मिश्रा की कमेटी इन्होंने गठित की थी। कमेटी ने कहा था कि ओबीसी के आरक्षण में से 6 प्रतिशत आरक्षण मुस्लमानों को दिया जाए। भाजपा और एनडीए ने उस समय इसका विरोध किया था, इनके मंसूबे पूरे नहीं हो पाए। 

सीएम योगी ने कहा कि इन्होंने एससी, एसटी के अधिकारों पर भी घुसपैठ की कोशिश की। मुस्लमानों को जातियों को अनुसूचित जाती में शामिल करना भी कांग्रेस के समय हुआ। एनडीएन और बीजेपी ने विरोध किया। 2024 के इस चुनाव में कांग्रेस क्या कर रही है? कांग्रेस का घोषणापत्र ही विभाजनकारी है। भारत को वर्ग संघर्ण की ओर ले जाने वाला है। अनुसूचित जाति, जनजाति और पिछड़ी जाति के अधिकारों में सेंध लगाने वाला है। कांग्रेस के मंसूबे पूरे नहीं हो पाएंगे। सोनिया गांधी को सच बोलने की आदत डालनी चाहिए। चुनाव के दौरान जनता की आंखों में धूल झोंक कर अब ये सत्ता नहीं हथिया पाएंगे। कांग्रेस को सफेद झूठ नहीं बोलना चाहिए। 

मायावती की पॉलिटिक्‍स में मिसफिट आकाश आनंद, फायर ब्रांड बयान या कुछ और...,जानें क्‍यों छिना उत्‍तराधिकार

वर्ग संघर्ष की स्थिति को पैदा करने वाला है कांग्रेस का घोषणा पत्र
सीएम योगी ने कहा कश्मीर में धारा 370 कांग्रेस ने लगाई थी। ओबीसी के आरक्षण में से कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में सेंध लगाने का कार्य कांग्रेस ने किया, यह ओबीसी के अधिकारों का पूरी तरह हनन है। देश को जाति, भाषा, क्षेत्र के आधार पर बांटने की कुचेष्टा कांग्रेस ने की थी। अपने घोषणा पत्र में कांग्रेस ने जिस प्रकार की बातों का उल्लेख किया है, यह भारत की सनातन आस्था पर प्रहार तो है ही, समाज में वर्ग संघर्ष की स्थिति को पैदा करने वाला है। कांग्रेस की मंशा भारत की जनता कभी पूरा नहीं होने देगी क्योंकि विभाजनकारी राजनीति किसी के हित में नहीं है।

कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने एक बयान में कहा था कि आज देश के हर कोने में युवाओं को बेरोजगारी का सामना करना पड़ रहा है, महिलाओं को अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है, दलितों, आदिवासियों, पिछड़े वर्गों और अल्पसंख्यकों को भयानक भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है। यह माहौल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा की मंशा के कारण है। उनका ध्यान किसी भी कीमत पर केवल सत्ता हासिल करने पर है।