ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअतीक, मुख्तार अंसारी, शहाबुद्दीन ने दी कुर्बानी, सपा प्रत्याशी जियाउर्रहमान बर्क का वीडियो वायरल, केस दर्ज

अतीक, मुख्तार अंसारी, शहाबुद्दीन ने दी कुर्बानी, सपा प्रत्याशी जियाउर्रहमान बर्क का वीडियो वायरल, केस दर्ज

संभल से सपा प्रत्याशी जियाउर्रमान बर्क पर भी केस दर्ज हो गया है। जियार्रहमान ने अतीक अहमद, मुख्तार अंसारी और शहाबुद्दीन की मौत को कुर्बानी बताते हुए भाजपा का सूपड़ा साफ करने की बात कही है।

अतीक, मुख्तार अंसारी, शहाबुद्दीन ने दी कुर्बानी, सपा प्रत्याशी जियाउर्रहमान बर्क का वीडियो वायरल, केस दर्ज
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,संभलTue, 30 Apr 2024 03:53 PM
ऐप पर पढ़ें

संभल से सपा प्रत्याशई जियाउर्रहमान के खिलाफ केस दर्ज हो गया है। बर्क ने अतीक अहमद, मुख्तार अंसारी औऱ शहाबुद्दीन की मौत को कुर्बानी बताते हुए लोगों से भाजपा का सूपड़ा साफ करने की अपील की है। इसका वीडियो तेजी से वायरल हुआ तो पुलिस-प्रशासन ने संज्ञान लिया और भड़काऊ भाषण की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। बर्क ने कोतवाली क्षेत्र के चमन सराय में चुनाव प्रचार के दौरान हुई सभा में भाषण दिया था। 

जियाउर्रहमान बर्क ने रविवार शाम को शहर के मोहल्ला चमन सराय में सभा की थी। सभा में बर्क ने कहा कि यह चुनाव विधानसभा या लोकसभा का चुनाव नहीं है। यह चुनाव आम जनता का चुनाव है। पूरी कौम का चुनाव है। सब लोग चाहते हैं कि बीजेपी का सूपड़ा साफ हो। हम लोगों को बीजेपी के घमंड को तोड़ना है। इतना कहते कहते बर्क कहने लगे कि जो कुर्बानी बीजेपी के समय हुई है, आपको बताने की जरूरत नहीं है। चाहे आजम खान के पूरे परिवार को जेल में डालकर जो किया गया है। चाहे शहाबुद्दीन साहब हों, अतीक अहमद साहब हों, मुख्तार अंसारी साहब हों, जो इनके साथ हुई है, कोई भूल नहीं सकता है। आप लोगों से गुजारिश है और कसम है कि उन लोगों की कुर्बानी को जाया मत होने देना और भाजपा का सूपड़ा साफ कर देना। 

बर्क का यह बयान सोमवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो वायरल होने पर एफएसटी टीम ने संज्ञान लिया और वायरल वीडियो को भड़काऊ मानते हुए कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया है। कोतवाल पवन कुमार ने बताया कि एफएसटी टीम की तरफ से सपा प्रत्याशी जियाउर्रहमान बर्क के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने की वीडियो वायरल होने पर धारा 171 सी, 153ए और 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।