ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशसालभर पहले मामा ने फोड़ा था भांजे का सिर, नहीं गुस्सा हुआ शांत तो अब फावड़े से काट की हत्या, इस बात से था नाराज

सालभर पहले मामा ने फोड़ा था भांजे का सिर, नहीं गुस्सा हुआ शांत तो अब फावड़े से काट की हत्या, इस बात से था नाराज

कानपुर के उरई में एक मामा ने भांजे की फावड़े से काटकर हत्या कर दी। सालभर पहले भी उसने अपने भांजे का सिर फोड़ा था। मामा भांजे से नाराज था और उसी बात को लेकर दोनों के बीच आए दिन विवाद होता था।

सालभर पहले मामा ने फोड़ा था भांजे का सिर, नहीं गुस्सा हुआ शांत तो अब फावड़े से काट की हत्या, इस बात से था नाराज
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,उरईSun, 19 Nov 2023 01:03 PM
ऐप पर पढ़ें

उरई में अवैध संबंधों के शक में मामा ने भांजे को फावड़े से काटकर मौत के घाट उतार दिया। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजने के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या की एफआईआर दर्ज की। वारदात को अंजाम देने के बाद फरार हुए आरोपी को पुलिस ने सिर्फ नौ घंटे में ही गिरफ्तार कर लिया। शुक्रवार को औरैया के दौलतपुर निवासी सुनील कुशवाहा अपने मामा वीर सिंह निवासी कुआंखेड़ा थाना कदौरा के घर आया था। 

रात 11 बजे सुनील व वीर मकान के बाहर तख्त पर लेट गए और बाकी परिजन घर के अंदर सो गए। रात लगभग 12 बजे सुनील के चीखने की आवाज आई तो वीर की बेटी शालिनी दीवार फांदकर बाहर आई। देखा कि पिता सुनील पर फावड़े से वार कर रहा था। शोर मचाया तो आरोपी भाग निकला। रात को ही पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस लहूलुहान हालत में सुनील को सीएचसी लेकर गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

बताया जा रहा है कि वीर को शक था कि सुनील उसकी पत्नी संग गलत हरकतें करता है। जिस पर कई बार दोनों में विवाद भी हुआ था। पुलिस ने आरोपी की पत्नी पिंकी देवी की तहरीर पर हत्या का मामला दर्ज किया है। सीओ कालपी के मुताबिक सुनील वीर के घर में आकर शराब पीता था और उसकी पत्नी से गलत हरकतें करता था। मना करने पर मारपीट व जान से मारने की धमकी देता था, जिस पर हत्यारोपी मामा ने ऐसा कदम उठाया।

यूपी: चौथी भी बेटी हुई पैदा तो माता-पिता ने तस्करों को खुद सौंपी नवजात पुत्री

घर-परिवार में सुनील के दखल से था नाराज
भांजा सुनील हमेशा मेरे घर में रहने आ जाता था और बच्चो के सामने अश्लील फिल्म देखना व खेत पर पुत्रियों को अकेले ले जाना उसे नागवार गुजर रहा था जब भी उसे आने के लिए मना करते थे तो वो मारपीट करता था और पत्नी व बच्चे भी उसका ही पक्ष लेते थे जिस कारण समाज में उसका रहना मुश्किल हो गया था बेबसी में उसे इतना घातक कदम उठाना पड़ा उसे अपने किए पर कोई पछतावा नहीं। उक्त बात भांजे की फावड़े से काटकर की गई हत्या मामले में पकड़े गए हत्यारोपी मामा ने कही।

कदौरा थाना क्षेत्र के ग्राम कठपुरूवा में मामा वीर सिंह द्वारा चचेरे भांजे सुनील को अवैध संबंधों के शक पर फावड़े से काट कर की गई हत्या के मामले में पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपी ने पूछताछ में बताया की पत्नी द्वारा उसे न तो भरपेट खाना दिया जाता था और न ही इज्जत की जाती थी जबकि मृतक भांजे की भरपूर सेवा होती थी जिस पर उसके अंदर बदले की आग सुलग रही थी। वही ग्रामीणों ने बताया वीर सिंह की उसके ही घर में कोई इज्जत नहीं की जाती थी जबकि सुनील के आने पर घर के सभी सदस्यो को खुशी होती थी और वह ज्यादातर वक्त मामा के घर पर बीताता था।

सुनील के बड़े भाई की भी हुई थी आशनाई में हत्या
ग्राम दौलतपुर कोतवाली औरैया निवासी श्याम बिहारी के दो पुत्र रामकेश व सुनील कुमार थे जिस पर दोनों ही पुत्रों की हत्या आशनाई के चक्कर में हो गई है। जहां तीन वर्ष पूर्व मृतक के बड़े भाई रामकेश की भी गांव में आशनाई के चक्कर में हत्या हो चुकी है वही सुनील की भी हत्या हो गई है जबकि सुनील की मां के कुछ साल पहले ही देहांत हो चुका है।

पत्नी ने भांजे के साथ बड़ी लड़की की तय कर दी थी शादी
थाना क्षेत्र के ग्राम कुआंखेड़ा में मामा द्वारा भांजे फड़वे से काटकर हत्या करने के मामले में आरोपी की पत्नी पिंकी द्वारा पुत्री शालनी के साथ मृतक की शादी तय कर दी थी जो की उपेक्षा से परेशान पति के गुस्से को और भड़का दिया जिस पर इतनी बड़ी घटना हो गई।

एक साल पहले मामा भांजे का फोड़ा था सिर
ग्राम कुआखेड़ा में हुई हत्या में आरोपी व मृतक के बीच कई बार विवाद हो चुका है जबकि एक वर्ष पूर्व हुए विवाद में आरोपी ने मृतक का सर फोड़ दिया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें