ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसपा विधायक इरफान सोलंकी के आगजनी मामले में आज आ सकता है फैसला, जेल से तलब

सपा विधायक इरफान सोलंकी के आगजनी मामले में आज आ सकता है फैसला, जेल से तलब

विधायक इरफान सोलंकी के आगजनी मामले में आज फैसला आ सकता है। फैसले को लेकर एमपी/एमएलए सेशन कोर्ट ने 10वीं बार तारीख दी थी। विधायक इरफान महाराजगंज जेल से और बाकी आरोपी जिला जेल से तलब किए गए हैं।

सपा विधायक इरफान सोलंकी के आगजनी मामले में आज आ सकता है फैसला, जेल से तलब
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,कानपुरMon, 27 May 2024 07:00 AM
ऐप पर पढ़ें

कानपुर के जाजमऊ में नजीर फातिमा के प्लाट में बनी झोपड़ी में आग लगाने के मामले में सोमवार को एमपी/एमएलए सेशन कोर्ट से फैसला आ सकता है। महराजगंज जेल से विधायक इरफान सोलंकी और अन्य आरोपियों को जेल से तलब किया गया है। 12 आरोपियों में से विधायक, उनके भाई समेत पांच आरोपियों पर फैसला सुनाया जा सकता है। सात आरोपियों की चार्जशीट बाद में आने से गवाही नहीं हो सकी है।

डीजीसी क्रिमिनल दिलीप अवस्थी और एडीजीसी भाष्कर मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने विधायक इरफान सोलंकी और रिजवान सोलंकी के खिलाफ चार्जशीट और फिर आरोपित शौकत पहलवान, इजराइल आटावाला व मो. शरीफ के खिलाफ पूरक चार्जशीट जाजमऊ पुलिस ने दाखिल की थी। सोमवार को फैसला आना है। बचाव पक्ष के अधिवक्ता शिवाकांत दीक्षित ने कहा न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है।

यूपी के 2140 स्‍कूलों में फंस सकती है शिक्षकों की सैलरी, फंसा ये पेंच; जानें वजह

विधायक पर फैसले से पुलिस अलर्ट
विधायक इरफान सोलंकी पर संभावित फैसले को देखते हुए कमिश्नरेट पुलिस अलर्ट मोड पर है। कड़ी सुरक्षा के बीच इरफान को महराजगंज जेल से कोर्ट लाया जाएगा। यहां कोर्ट परिसर के आसपास लगभग 300 पुलिसकर्मियों के घेरे में उन्हें न्यायालय में पेश किया जाएगा। इस दौरान पुलिसकर्मी चप्पे चप्पे पर तैनात रहेंगे। कोर्ट परिसर के बाहर से अंदर तक अलग-अलग घेरे में पुलिसकर्मी हर गतिविधि पर नजर रखेंगे।

यह था मामला
आठ नवम्बर 2022 को जाजमऊ डिफेंस कालोनी निवासी नजीर फातिमा ने विधायक इरफान सोलंकी और उनके भाई रिजवान सोलंकी के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई थी। जिसमें आरोप लगाया कि नजीर फातिमा के प्लाट में बनी झोपड़ी में आरोपित जबरन कब्जा करना चाहते हैं। सात नवम्बर 2022 की रात आठ बजे नजीर फातिमा का परिवार शादी समारोह में गया हुआ था। उसी दौरान विधायक और उनके भाई ने नजीर फातिमा की झोपड़ी में में आग लगा दी। जिसमें उनके गृहस्थी का सारा सामान खाक हो गया था। इसमे धारा 147, 436, 506, 327, 427, 386, 504, 106 बी की रिपोर्ट जाजमऊ थाने में दर्ज की गई थी।