ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशकन्नौज: उत्तर प्रदेश का एकमात्र संसदीय क्षेत्र जिसने दिए हैं तीन मुख्यमंत्री

कन्नौज: उत्तर प्रदेश का एकमात्र संसदीय क्षेत्र जिसने दिए हैं तीन मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश में कन्नौज अकेला संसदीय क्षेत्र है, जहां से सांसद चुने गए तीन नेताओं को मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला है। कन्नौज के सांसद रहे मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री...

कन्नौज: उत्तर प्रदेश का एकमात्र संसदीय क्षेत्र जिसने दिए हैं तीन मुख्यमंत्री
Shivendra Singh तारिक इकबाल, कन्नौजSun, 23 Jan 2022 08:19 PM

इस खबर को सुनें

उत्तर प्रदेश में कन्नौज अकेला संसदीय क्षेत्र है, जहां से सांसद चुने गए तीन नेताओं को मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला है। कन्नौज के सांसद रहे मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने जबकि शीला दीक्षित दिल्ली की मुख्यमंत्री बनीं। एक ही इलाके से तीन-तीन मुख्यमंत्री देने की यह अनोखी उपलब्धि किसी दूसरी जगह कम ही देखने को मिलती है।

समाजवादी पार्टी के मुखिया रहे मुलायम सिंह यादव कन्नौज का सांसद बनने से पहले भी दूसरी जगहों से लोकसभा और विधानसभा पहुंच चुके थे। लेकिन उनके पुत्र अखिलेश यादव और कांग्रेस की दिग्गज नेता रहीं शीला दीक्षित ने अपने सियासी कॅरियर का आगाज कन्नौज से ही किया था। शीला दीक्षित पहली बार 1984 का लोकसभा चुनाव कन्नौज से लड़ीं और जीतीं। अखिलेश यादव ने मुलायम सिंह यादव के इस्तिफा से खाली हुई इस सीट पर 2000 के उपचुनाव में किस्मत आजमाया और सियासी पारी का आगाज किया।

मुलायम, शीला सांसद रहने के बाद तो अखिलेश सांसद रहते हुए बने सीएम
मुलायम सिंह यादव यहां से पहली बार 1999 का लोकसभा चुनाव लड़े थे। उस चुनाव में वह मैनपुरी से भी चुने गए थे। दोनों जगह से जीत मिली तो यह सीट खाली कर दी थी। बाद में 2003 में वह मुख्यमंत्री बने तो मैनपुरी से सांसद थे। सी तरह शीला दीक्षित 1984 में मिली जीत के बाद 1989 का अगला चुनाव हार गई थीं। उसके बाद उन्होंने दिल्ली का रुख किया और बाद में वहां की मुख्यमंत्री बनीं। जबकि अखिलेश यादव 2000 का उपचुनाव, 2004 और 2009 का चुनाव यहां से लगातार जीते। 2012 में सपा की सरकार बनी तो वह कन्नौज के सांसद थे। मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद उन्होंने यहां से इस्तिफा दिया था।

मुलायम सिंह यादव: कन्नौज का सांसद बनने के बाद तीसरी बार बने मुख्यमंत्री 
यूपी के तीन बार मुख्यमंत्री रहे मुलायम सिंह यादव कन्नौज का सांसद बनने से पहले दो बार मुख्यमंत्री रह चुके थे। कन्नौज से 1999 में लोकसभा का चुनाव जीता। उसके बाद 2003 में तीसरी बार सूबे के मुख्यमंत्री बने। हालांकि तब वह कन्नौज से इस्तिफा देकर मैनपुरी की नुमाइंदगी कर रहे थे।

शीला दीक्षित: पहले कन्नौज से सांसद, फिर दिल्ली की तीन बार सीएम
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की लगातार बार मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित ने अपना सियासी कॅरियर कन्नौज से शुरू किया था। वह 1998 से 2013 के बीच लगातार तीन दिल्ली की सीएम रहीं। यह देश में पहली बार था जब कोई महिला लगातार तीन बार मुख्यमंत्री रही हो। इस अनोखी उपलब्धि को हासिल करने से पहले वह 1984 में कन्नौज से सांसद रह चुकी थीं।

अखिलेश यादव: कन्नौज से तीन बार सांसद, फिर मुख्यमंत्री
समाजवादी पार्टी की कमान संभाल रहे अखिलेश यादव 2012 में सूबे का मुख्यमंत्री बनने से पहले कन्नौज के तीन बार सांसद रहे। यहां से हैट्रिक जीत करने वाले वह पहले सांसद हैं। 2012 में सपा की सरकार बनने पर उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तो वह कन्नौज से ही सांसद थे। सीएम बनने के बाद उन्होंने इस सीट से इस्तिफा दिया। उपचुनाव में उनकी पत्नी डिंपल यादव यहां से निर्विरोध ही सांसद चुन ली गई थीं।

epaper