ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशIIT कानपुर में एक महीने में तीन आत्महत्या, संस्थान के सिस्टम पर उठे गंभीर सवाल

IIT कानपुर में एक महीने में तीन आत्महत्या, संस्थान के सिस्टम पर उठे गंभीर सवाल

आईआईटी कानपुर में एक माह में हुईं तीन छात्र-छात्राओं की आत्महत्या के मामले ने तूल पकड़ लिया है और अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) पहुंच गया है। आयोग में याचिका दायर की गई है।

IIT कानपुर में एक महीने में तीन आत्महत्या, संस्थान के सिस्टम पर उठे गंभीर सवाल
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,कानपुरMon, 22 Jan 2024 06:04 AM
ऐप पर पढ़ें

आईआईटी कानपुर में एक माह में हुईं तीन छात्र-छात्राओं की आत्महत्या का मामला अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) पहुंच गया है। शहर के समाजसेवी ने आयोग में याचिका दायर कर सभी प्रकरणों की उच्च स्तरीय जांच करा कर दोषियों को सजा दिलाने की मांग की है। सामाजिक कार्यकर्ता पंकज कुमार सिंह ने आईआईटी कानपुर में हुईं आत्महत्याओं को लेकर आयोग के चेयरमैन को याचिका भेजी है। उसमें कहा गया कि तकनीकी छात्र-छात्राओं की आत्महत्या की घटना साधारण नहीं है। एक माह में तीन अध्ययनरत छात्र-छात्राओं ने आत्महत्या की है।

ये मौतें अप्रत्यक्ष रूप से देश को क्षति याची ने कहा कि इन छात्रों की आत्महत्याएं सिर्फ छात्रों के परिवारों की व्यक्तिगत क्षति नहीं है, बल्कि अप्रत्यक्ष रूप से देश की क्षति है। आईआईटी जैसे संस्थानों में सिर्फ मेधावियों को प्रवेश मिलता है। यह जानना जरूरी है कि इन संस्थानों के सिस्टम में ऐसी कौन सी खामी है, जिसके चलते मेधा को आत्मघाती कदम उठाने पड़ रहे हैं। याचिका में 19 सालों में यहां हुईं 15 आत्महत्याओं का हवाला भी दिया गया। प्रभावी कदम उठाए जाने से तनाव रहित माहौल बनेगा और आत्महत्या जैसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोका जा सकेगा।

यूपी के इस शहर में बदमाशों का धावा, दो घरों में डकैती, परिवार को बंधक बनाकर दो भाइयों को गोली मारी

बीएचयू छात्रा से गैंगरेप के आरोपियों पर गैंगस्टर
आईआईटी बीएचयू की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म, छेड़छाड़, धमकी के तीनों आरोपियों पर लंका इंस्पेक्टर शिवाकांत मिश्र ने गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। तीनों आरोपी कुणाल पांडेय, सक्षम पटेल और आनंद उर्फ अभिषेक चौहान जिला जेल में निरुद्ध हैं। मुकदमे में आनंद उर्फ अभिषेक चौहान को गैंग लीडर दर्शाया गया है। बाकी अन्य दो आरोपियों कुणाल पांडेय और सक्षम पटेल को गिरोह का सदस्य बताया गया है। कुणाल पांडेय और सक्षम पटेल दोनों पूर्व में भाजपा महानगर इकाई में पदाधिकारी रह चुके हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें