DA Image
27 मार्च, 2020|2:06|IST

अगली स्टोरी

यूपी : होम्योपैथिक-आयुर्वेदिक डॉक्टर कोरोना से लड़ने को तैयार

doctor

कोरोना को हराने के लिए अब होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक डॉक्टरों ने भी हाथ बढ़ाया है। प्रदेश में दोनों पद्वतियों के करीब 3200 से ज्यादा डॉक्टर हैं। इन्हें कोरोना के इलाज का प्रशिक्षण देकर इस्तेमाल किया जा सकता है। यही नहीं अस्पतालों में खाली पड़े वार्डों का भी कोरेंटाइन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

प्रदेश में करीब सात होम्योपैथिक व सात आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज हैं। इसके अलावा प्रदेश भर में डिस्पेंसरी हैं। होम्योपैथिक विभाग में करीब 1400 डॉक्टर व शिक्षक कार्यरत हैं। 36 पीजी की छात्र हैं। बड़ी संख्या में इंटर्नडॉक्टर हैं। वहीं आयुर्वेद विभाग में 1550 डॉक्टर तैनात हैं। सैकड़ों की संख्या में पैरामेडिकल स्टाफ कार्यरत है। 

अधिकारियों का कहना है कि लॉकडाउन व ओपीडी बंद होने से डॉक्टरों के पास अधिक काम नहीं है। ऐसे में कोरोना से निपटने के लिए यदि आयुष विभाग के डॉक्टरों को प्रशिक्षण दिला दिया जाए तो इमरजेंसी में और बेहतर सेवाएं देने में मदद मिलेगी। इसके अलावा कॉलेजों में भवन खाली हैं। जिसमें मरीज कम या फिर नहीं भर्ती हैं। उनमें इमरजेंसी सुविधाएं मुहैया कराकर कोरेंटाइन वार्ड के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

50 लाख का प्रस्ताव भेजा
गोमतीनगर स्थित राजकीय होम्योपैथिक कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अरविंद कुमार वर्मा के मुताबिक परिसर में करीब छह करोड़ रुपये की लागत से चार मंजिल का भवन तैयार है। इमरजेंसी वार्ड के लिए इस भवन का निर्माण कराया गया है। पांच माह से भवन खाली है। इसका इस्तेमाल कोरेंनटाइन वार्ड के रूप में किया जा सकता है। इसमें 300 से ज्यादा बेड आ सकते हैं। वहीं डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ भी कोरोना मरीजों के इलाज में सहयोग के लिए तैयार है। इसके लिए 50 लाख रुपये का प्रस्ताव शासन को भेजा जा चुका है। ताकि जरूरी संसाधन कॉलेज को उपलब्ध कराया जा सके।

जिला आयुर्वेद ऑफिसर को दिए गए निर्देश
आयुर्वेद विभाग के निदेशक डॉ. एसएन सिंह के मुताबिक एकजुट होकर हम महामारी कोरोना से निपट सकते हैं। विभाग पूरी तरह से तैयार है। सभी जिलों के आयुर्वेद ऑफिसर को निर्देशित किया जा चुका है वह जिलाधिकारी व सीएमओ से निर्देश लेकर काम करें। इसके अलावा बनारस के आयुर्वेद कॉलेज में 50 बेड का कोरेंनटाइन वार्ड बनाया गया है। जिस भी कॉलेज में जरूरत होगी उसमें विभाग का पूरा सहायोग मिलेगा। डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ की टीम तैयार है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP: Homeopathic-Ayurvedic doctors ready to fight Corona