Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशUP Gram Panchayat Sahayak Bharti: कई पदों पर आई आपत्ति, रोका गया रिजल्ट

UP Gram Panchayat Sahayak Bharti: कई पदों पर आई आपत्ति, रोका गया रिजल्ट

वरिष्ठ संवाददाता ,बरेलीAmit Gupta
Sun, 12 Sep 2021 06:57 PM
UP Gram Panchayat Sahayak Bharti: कई पदों पर आई आपत्ति, रोका गया रिजल्ट

इस खबर को सुनें

यूपी पंचायत सहायक की नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी हो गई है। बरेली जिले में 1193 में 37 ग्राम पंचायतों में मेरिट में आने वाले अभ्यर्थी को लेकर आपत्ति दर्ज कराई गईं हैं। जिला पंचायती राज विभाग ने 37 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायकों का अनुमोदन रोक दिया है। डीपीआरओ ने आपत्तियों का निस्तारण कर दोबारा प्रस्ताव भेजने की जिम्मेदारी एडीओ पंचायत को दी है।

बरेली की 1193 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायकों की नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है। मेरिट की क्रास चेकिंग के बाद चयनित अभ्यर्थियों की सूची फाइनल कर दी गई है। ब्लॉक में समारोह आयोजित कर पंचायत सहायकों को नियुक्ति सांसद-विधायकों के जरिए वितरित किए जाएंगे। 37 ग्राम पंचायतों में फिलहाल पंचायत सहायकों की नियुक्ति प्रभावित हो गई है। मेरिट में पहला स्थान हासिल करने वाले अभ्यर्थियों को लेकर आपत्तियां आईं हैं। एडीओ पंचायत आपत्तियों का मौके पर निस्तारण कराएंगे। उसके बाद ही पंचायत सहायकों की तैनाती हो सकेगी। बता दें कि पंचायत सहायकों को ग्राम सचिवालय के संचालन की जिम्मेदारी होगी। डीपीआरओ धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि आपत्तियों के निस्तारण के बाद ही 37 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक की नियुक्ति की जाएगी।

पीलीभीत में प्रधान, सचिव पर धोखाधड़ी का आरोप 

जिले के अलग-अलग ब्लाकों में पंचायत सहायक की भर्ती के नाम पर धोखाधड़ी और अवैध वसूली के कई मामले सामने आए है। अब बरखेड़ा ब्लाक क्षेत्र में धोखाधडी की शिकायत पहुंची। इसमें एक आवेदन ने ग्राम प्रधान और सचिव पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है।

बरखेड़ा क्षेत्र के कोविला गांव के राजवीर पुत्र रामबहादुर ने मुख्य विकास अधिकारी से की शिकायत में कहा कि पंचायत सहायक की मेरिट लिस्ट में सर्वाधिक होने के चलते पहले स्थान पर था। आरोप है कि अब प्रधान, सचिव ने किसी महिला को प्रथम स्थान पर दिखा दिया है। जबकि वह महिला ललौरीखेड़ा ब्लाक क्षेत्र के बरहा की रहने वाली है। पीड़ित ने कह कि आवेदन के अंतिम दिन तक किसी भी महिला का आवेदन नहीं आया था। प्रधान सचिव ने पिछली तिथि दिखाकर महिला का आवेदन लेकर उसे प्रथम स्थान पर दिखा दिया। पीड़ित ने मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की मांग की। इधर, डीपीआरओ पीके यादव ने कहा कि मामला हमारे संज्ञान में नहीं है। शिकायत आती है तो उसकी जांच कराकर कार्रवाइ की जाएगी।

बदायूं में पंचायत सहायक की तैनाती के विरोध में आए ग्रामीण

ब्लाक आसफपुर की ग्राम पंचायत दौलतपुर में पंचायत सहायक का चयन व प्रस्ताव खुली बैठक में नहीं करने का मामला सामने आया है और विरोध शुरू हो गया है। पंचायत सहायक के चयन के मामले में गांव वालों ने आरोप लगाते हुये प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। ब्लाक की ग्राम पंचायत दौलतपुर के ग्रामीणों ने ब्लाक पर प्रदर्शन कर बीडीओ को ज्ञापन सौंपा है। जिसमें गांव वालों का आरोप है कि संबंधित अधिकारियों ने गोपनीय ढंग से ग्राम पंचायत मोलागड़ के व्यक्ति का पंचायत सहायक के पद पर चयन कर दिया है। गांव वालों ने आपत्ती लगाते हुये चयनित पंचायत सहायक के निरस्तीकरण की मांग की है। सुरेंद्र पाल भारती, रनवीर सिंह, सूरजपाल, दीपक चौहान, प्रमोद, सिपाही लाल, कपिल, मदनलाल, राकेश, रामस्वरूप, करन सिंह, अमित कुमार, नन्हें सिंह, वीरपाल, नन्हीं, पूजा, सीमा मौजूद थीं।

epaper

संबंधित खबरें