ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशयूपी के डिप्टी सीएम ने आगरा और मथुरा को दिया 484 करोड़ का तोहफा

यूपी के डिप्टी सीएम ने आगरा और मथुरा को दिया 484 करोड़ का तोहफा

आगरा और मथुरा को बुधवार को 484 करोड़ के 395 विकास कार्यों की सौगात मिली। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सर्किट हाउस में आयोजित कार्यक्रम में दोनों जिलों को तोहफा देने के बाद ऐलान किया कि...

यूपी के डिप्टी सीएम ने आगरा और मथुरा को दिया 484 करोड़ का तोहफा
Shivendra Singh वरिष्ठ संवाददाता, आगराWed, 16 Jun 2021 09:25 PM
ऐप पर पढ़ें

आगरा और मथुरा को बुधवार को 484 करोड़ के 395 विकास कार्यों की सौगात मिली। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सर्किट हाउस में आयोजित कार्यक्रम में दोनों जिलों को तोहफा देने के बाद ऐलान किया कि ग्रामीण क्षेत्र की सड़कें अब 3 की जगह 5 मीटर चौड़ी होंगी। वहीं 250 की आबादी वाले गांवों को मुख्य मार्गों से जोड़ने के लिए करीब 5000 सड़कें बनाई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने अधिकारियों को 15 दिन में योजनाओं के क्रियान्वयन के निर्देश दिए।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर में मृत लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए परिवारजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की। उन्होंने अपील की कि कोरोना के प्रति सजग व सावधान रहें। कोविड-प्रोटोकॉल का पालन करें। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अब ग्रामीण क्षेत्र के मार्गों, जो 05 किमी. लंबे या उन मार्गों पर कोई पर्यटन, धार्मिक स्थल या सार्वजनिक स्थल हो या फिर कहीं आबादी अधिक है, का चौड़ीकरण किया जायेगा। 3 की जगह 5 मीटर चौड़ी सड़कें बनाई जाएंगी। प्रथम चरण में ग्रामीण क्षेत्र की 5 किमी या उससे लम्बी सड़कों को प्राथमिकता पर पूर्ण किया जायेगा।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश 250 की आबादी वाले गांव या उससे अधिक आबादी वाले गांवों को मुख्य मार्गों से जोड़ने वीली करीब की लगभग 5000 सड़कों को चिह्नित किया है। इनके चौड़ीकरण और निर्माण पर करीब 2.5 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। जल्दी ही टेंडर की प्रक्रिया शुरू होगी।

इस अवसर पर राज्यमंत्री डा. जीएस धर्मेश, चौधरी उदयभान सिंह, महापौर नवीन जैन, सांसद प्रो. एसपी सिंह बघेल, हरद्वार दूबे, विधायक हेमलता दिवाकर, रामप्रताप चौहान, योगेन्द्र उपाध्याय, पक्षालिका सिंह, जितेन्द्र वर्मा, महेश गोयल, पुरूषोत्तम खण्डेलवाल, पूरन प्रकाश और कारिन्दा सिंह आदि मौजूद रहे।

प्रतिभाशाली छात्रों के घरों तक बन रही है सड़क
उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अलग-अलग क्षेत्रों के प्रतिभाशाली बच्चों, जिनका स्थान टॉप-20 में है, उनके घर तक सड़क डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम गौरव पथ के नाम से बनाने का कार्य किया जाता है। जो खिलाड़ी देश के लिये पदक जीतकर लाता है। राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय पदक प्रदेश के लिये जीतकर लाये हैं, उसके घर तक सड़क मेजर ध्यानचन्द विजयपथ के नाम से बनाने का कार्य शुरू हुआ है। इसी प्रकार से देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए जो भी वीर सैनिक शहीद होते है, उनके सम्मान में उनके घर तक सड़क जय हिन्द वीरपथ के नाम से बनाने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि ऐसे लोगों को चिह्नित करें और सड़क बनाएं।

कार्यकर्ताओं की बात गंभीरता से सुनें अधिकारी
चुनावी वर्ष में प्रदेश सरकार विकास योजनाओं की बड़ी फेहरिस्त तैयार कर रही है तो वहीं कार्यकर्ताओं की भी याद आने लगी है। सरकार में अपने काम न होने से नाराज कार्यकर्ताओं को मनाने के लिए नेतृत्व का नजरिया बदलने लगा है। बुधवार को सर्किट में मंच से उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अधिकारियों को सख्त हिदायत दी। उन्होंने कहा कि अधिकारी कार्यकर्ताओं की बात को गंभीरता से सुनें। उनकी समस्याओं का समाधान कराएं। उन्होंने प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों को संदेश देने के साथ-साथ लोक निर्माण विभाग और निर्माण निगम के अधिकारियों को से कहा कि काम जल्द से जल्द शुरू हों।

epaper