DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › यूपी : 55 हजार रोडवेज कर्मियों की सालों से लंबित मांगों पर जल्द होगा निर्णय
उत्तर प्रदेश

यूपी : 55 हजार रोडवेज कर्मियों की सालों से लंबित मांगों पर जल्द होगा निर्णय

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊPublished By: Deep Pandey
Sat, 10 Jul 2021 07:10 AM
यूपी : 55 हजार रोडवेज कर्मियों की सालों से लंबित मांगों पर जल्द होगा निर्णय

वर्षो से लंबित 55 हजार रोडवेज कर्मियों की मांगों पर जल्द निर्णय होगा। एमडी धीरज साहू के साथ कर्मचारी संगठन से हुई वार्ता के बाद मांग पत्रों पर जल्द निर्णय करने की अपनी सहमति दे दी है। एमडी ने ज्ञापन को मुख्यालय के जीएम को भेजकर मांगों पर सुझाव मांगा है। ताकि लंबित मांगों का एजेंडा बनाकर आगे की प्रक्रिया पूरी कराई जा सके।

सेंट्रल रीजनल वर्कशाप कर्मचारी संघ के महामंत्री जसवंत सिंह के साथ एमडी से वार्ता में कई मुद्दों को रखा गया। जिसमें 2001 तक के संविदा कर्मचारियों के नियमित करने, 50 फीसदी यात्री लोड फैक्टर की अनिवार्यता को खत्म करना। नियमित कर्मचारियों के बकाए महंगाई भत्ते को वेतन से जोड़कर देना, कार्यशालाओ में स्पेयर पार्ट्स की कमी को दूर करना मुख्य रूप से शामिल रहा। ्र्र

एमडी ने मांगों पर चिंता जाहिर की 

प्रबंध निदेशक ने रोडवेज कमियों की लंबित मांगों पर चिंता जाहिर की है। उन्होंने आगामी सप्ताह में सभी समस्याओं का निस्तारण किए जाने का आश्वासन दिया। जहां 55 हजार संविदा और नियमित कर्मियों की मांगों पर जल्द ही सामाधान की उममीद जग गई है। एमडी के वार्ता करने वालों में सेंट्रल रीजनल वर्कशॉप कर्मचारी संघ प्रांतीय अध्यक्ष ब्रिजेश कुमार, प्रांतीय महामंत्री जसवंत सिंह, क्षेत्रीय मंत्री मौजूद थे।   
 

संबंधित खबरें