ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी: सेप्टिक टैंक में उतरे तीन सफाईकर्मी समेत चार की मौत, जहरीली गैस से घुटा दम

यूपी: सेप्टिक टैंक में उतरे तीन सफाईकर्मी समेत चार की मौत, जहरीली गैस से घुटा दम

यूपी में सेप्टिक टैंक की सफाई के दौरान जहरीली गैस की चपेट में आकर तीन सफाई कर्मियों सहित चार लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में सफाई करवा रहे मकान मालिक का इकलौता बेटा भी शामिल है।

यूपी: सेप्टिक टैंक में उतरे तीन सफाईकर्मी समेत चार की मौत, जहरीली गैस से घुटा दम
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,चंदौलीThu, 09 May 2024 08:55 AM
ऐप पर पढ़ें

यूपी में चंदौली के पीडीडीयू नगर में मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के लाठ नंबर दो स्थित न्यू महल मे बुधवार रात सेप्टिक टैंक सफाई के दौरान जहरीली गैस की चपेट में आकर तीन सफाई कर्मियों सहित चार लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में मकान मालिक का इकलौता बेटा भी शामिल है। इसके बाद तीन को जिला अस्पताल और एक को ट्रामा सेंटर ले गए। जहां चिकित्सकों ने सभी को मृत घोषित कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस आगे की कारवाई में जुट गई। 

जानकारी के मुताबिक पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर के लाठ नंबर दो निवासी भरतलाल जायसवाल के घर पर बुधवार की रात लगभग 12 बजे घटना हुई। कालीमहाल निवासी सफाईकर्मी सेप्टीक टैंक की सफाई कर रह थे। सफाईकर्मी 35 वर्षीय विनोद रावत, 42 वर्षीय कुंदन, 23 वर्षीय लोहा सेप्टिक टैंक सफाई का कार्य कर रहे थे। लोगों के अनुसार टैंक लगभग 12 फुट गहरा था। तीनों सफाईकर्मी आधा टैंक साफ कर चुके थे। इस  दौरान तीनों मजदूर जहरीली गैस की चपेट में आते गए और बेहोश होकर एक-एक करके टैंक में गिर गए। 

Video: माइक नहीं मिला तो गाड़ी पर चढ़कर प्रियंका गांधी गरजीं, मोबाइल की रोशनी में जनसभा

सफाईकर्मियों को टैंक में गिरता देख मकान मालिक का 23 वर्षीय बेटा अंकुर जायसवाल उन्हें बचाने में जुट गया। इस दौरान अंकुर भी गैस की चपेट में आ गया और बेहोश होकर टैंक में गिर गया। घर वालों की चीख पुकार सुनकर मौके पर पहुंचे लोगों ने किसी प्रकार चारों को टैंक से बाहर निकला। मकान मालिक और अन्य लोग इसके बाद एक को ट्रामा सेंटर और तीन लोगों को जिला चिकित्सालय ले गए। जहां डॉक्टरों ने सभी को मृत घोषित कर दिया। पुलिस को घटना की जानकारी दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना के बाद कालिमहाल सभासद प्रतिनिधि नितिन गुप्ता ने सफाईकर्मियों को मुआवजा दिए जाने की मांग जिला प्रशासन से की है।