DA Image
7 जून, 2020|12:59|IST

अगली स्टोरी

यूपी बोर्ड परीक्षा 2020: केन्द्र पर जूते पहनकर दे सकेंगे परीक्षा

यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटर परीक्षा 2020 में परीक्षार्थियों को जूत पहनकर परीक्षा कक्ष में बैठने की अनुमति मिलेगी। माध्यमिक शिक्षा परिषद ने सुझाव दिया है कि परीक्षा कक्षों में प्रवेश के पहले ही परीक्षार्थियों के जूते मोजे उतरवाकर चेक कर लिए जाएं। परीक्षा के दौरान जूते मोजे पहनने दें। इससे  न तो परीक्षार्थियों को कोई असुविधा होगी और न हो परीक्षा की पवित्रता एवं शुचिता पर कोई सवाल उठेगा। 

केन्द्रों पर रहेगी विशेष नजर : संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए जाएंगे। कंट्रोल रूम में परीक्षा की निगरानी सीसी कैमरों की मदद से की जाएगी। 15-16 केंद्रों की कंप्यूटर अथवा स्क्रीन पर निगरानी के लिए राजकीय विद्यालय के दो शिक्षक तैनात किए जाएंगे। 

धारा 144 होगी लागू  : बोर्ड ने साफ किया है कि परीक्षा केंद्रों पर सीसी कैमरे, राउटर और वाइस रिकार्डर अवश्य होना चाहिए। वेब कास्टिंग द्वारा पारदर्शिता पूर्ण नकल विहीन परीक्षा के लिए केंद्रों की निगरानी की जाएगी। छात्रों का सिटिंग प्लान अनुक्रमांक के आधार पर क्रमानुसार मिश्रित बनाया जाए। इसके अलावा,  केंद्रों के आस पास बाहरी लोगों को इकट्ठा न होने दिया जाए। 100 मीटर की परिधि में धारा 144 का पालन कराया जाएगा।

डीआईओएस ने मांगी मिशन टॉपर की स्थिति 

राजधानी के होनहार छात्र-छात्राओं को यूपी मेरिट में पहुंचाने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक के स्तर पर मिशन टॉपर की शुरुआत की गई थी। इसके तहत मेधावी छात्रों की पहचान करना, प्री बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन, मॉडल पेपर से तैयारी, काउंसलिंग सेशन से लेकर कमजोर बच्चों के लिए उपचारात्मक शिक्षण की व्यवस्था की जानी थी। डीआईओएस ने दिसम्बर के पहले सप्ताह में इसके लिए निर्देश जारी किए थे। रविवार को पत्र जारी कर डीआईओएस ने सभी स्कूलों से स्थिति का ब्योरा मांगा है। यह जानकारी 13 जनवरी तक उपलब्ध करानी होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP board exam 2020 students Will be able to give exam by wearing shoes at centers