ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशअवधपुरी के गांवों में अब होंगे परिवहन के साधन, अयोध्या मंडल के 1550 छूटे गांवों तक जाएंगी बसें

अवधपुरी के गांवों में अब होंगे परिवहन के साधन, अयोध्या मंडल के 1550 छूटे गांवों तक जाएंगी बसें

अयोध्या मंडल के 1550 गांवों को मुख्य मार्ग से जोड़कर परिवहन के साधन से लैस किया जाएगा और जिला मुख्यालस से जोड़ा जाएगा। रोडवेज 100 नए मार्गों पर बसें चलाएगा। संचालन को राज्यपाल की मंजूरी मिली।

अवधपुरी के गांवों में अब होंगे परिवहन के साधन, अयोध्या मंडल के 1550 छूटे गांवों तक जाएंगी बसें
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,अयोध्याMon, 05 Feb 2024 08:49 AM
ऐप पर पढ़ें

देश की आजादी के अमृतकाल में रामनगरी के गांवों में भी तमाम सुविधाएं मिलनी शुरू हो चुकी हैं। अवधपुरी में 1550 ऐसे गांव हैं जहां आजादी के 75 वर्ष बाद भी परिवहन के साधन नहीं हैं। हालांकि अब अयोध्या मंडल के ऐसे गांवों को मुख्य मार्ग से जोड़कर परिवहन के साधन से लैस किया जाएगा और जिला मुख्यालस से जोड़ा जाएगा। रोडवेज बसों के संचालन के लिए प्रस्तावित गांव जहां परिवहन के साधन नहीं हैं, को जोड़ने के लिए राज्यपाल की हरी झंडी मिल गई है। जल्द ही परिक्षेत्र के 100 नए मार्गों पर रोडवेज की बसें फर्राटा भरते नजर आएंगी।

परिवहन निगम अयोध्या परिक्षेत्र के अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या व अकबरपुर डिपो क्षेत्र में 1550 गांव परिवहन सेवा से आजादी के 70 वर्षों में अछूते हैं। प्रदेश सरकार ने अयोध्या मंडल में असेवित गांवों तक रोडवेज की बस चलाने के लिए अक्तूबर माह में परिवहन विभाग और परिवहन निगम के अफसरों से सर्वे कराया था। सर्वे रिपोर्ट के आधार पर 1550 ऐसे गांव हैं जहां अभी तक रोडवेज की सेवा उपलब्ध नहीं है। इन असेवित गांव में अधिकतर ऐसे हैं जहां से जिला मुख्यालय के लिए अभी भी परिवहन के साधन नहीं है और जहां साधन है तो टेम्पो- टैक्सी या अन्य डग्गामार वाहनों ही एकमात्र सहारा है। 

अब असेवित गांवों के भाग्य राममंदिर निर्माण के साथ जग गए है, क्योंकि राममंदिर की आभा के अनुरूप अयोध्या को सुंदर व सुविधायुक्त बनाने के लिए सरकार भी सजग है। इसलिए असिवेत गांवों से प्रस्तावित मार्गों पर रोडवेज बसों के संचालन के लिए राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने हरी झंडी दे दी है। परिवहन निगम को मुख्यालय का फरमान मिल गया है। जल्द ही सभी असेवित गांवों से रोडवेज बसें फर्राटा भरने लगेंगी।

ज्ञानवापी-आदिविश्वेश्वर मामले में सुनवाई आज, तहखाने में पूजा रोकने की अर्जी भी सुनेगा कोर्ट

डग्गामार वाहनों पर लगेगा अंकुश
परिवहन निगम अयोध्या परिक्षेत्र में कुल 344 बसें संचालित हो रही हैं, लेकिन बसों को संचालन गांवों तक नहीं हो सका था। अब असेवित गांवों तक रोडवेज बसों के संचालन से वाहनों की डग्गामारी पर अंकुश लगेगा, क्योंकि रोडवेज की बसें संबंधित डिपो के जिला मुख्यालय से 50 किमी के दायरे में चलाई जाएंगी। ऐसे में स्थानीय डग्गामार वाहनों के संचालन पर अंकुश लगेगा और रोडवेज के राजस्व में आमदनी भी बढ़ेगी।

आरएम अयोध्या परिक्षेत्र, विमल राजन ने कहा कि असेवित गांवों तक रोडवेज बसों के संचालन की मंजूरी मिल गई है। अभी 52 सीटर बसों का संचालन किया जाएगा। बसों के संचालन से पहले एक बार रूटों को सर्वें करके जमीनी हकीकत जानी जाएगी। जल्द ही संचाल की योजना बनाकर बसें यात्रियों के लिए उपलब्ध कराई जाएंगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें