ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशबांग्लादेश से लाकर यूपी में चलाया जा रहा था नकली नोट, एटीएस ने दो तस्करों को दबोचा, हजारों के फर्जी करेंसी बरामद

बांग्लादेश से लाकर यूपी में चलाया जा रहा था नकली नोट, एटीएस ने दो तस्करों को दबोचा, हजारों के फर्जी करेंसी बरामद

यूपी एटीएस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। शनिवार को वाराणसी से एटीएस ने जाली नोट की तस्करी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 97,500 रुपये की जाली करेंसी भी बरामद हुई।

बांग्लादेश से लाकर यूपी में चलाया जा रहा था नकली नोट, एटीएस ने दो तस्करों को दबोचा, हजारों के फर्जी करेंसी बरामद
Pawan Kumar Sharmaवार्ता,लखनऊSat, 27 Jan 2024 05:03 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी पुलिस के आंतकवाद निरोधक दस्ता यानी एटीएस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। शनिवार को वाराणसी से एटीएस ने जाली नोट की तस्करी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 97,500 रुपये की जाली करेंसी भी बरामद हुई। जानकारी के मुताबिक तस्कर बांग्लादेश से नकली नोट लाकर पश्चिम बंगाल और यूपी समेत कई अन्य राज्यों में चलाते थे।

यूपी के पुलिस महानिदेशक (कानून-व्‍यवस्‍था) प्रशांत कुमार ने एक बयान में कहा कि बांग्लादेश से जाली भारतीय मुद्रा को पश्चिम बंगाल के सहयोगियों के माध्‍यम से फरक्का, मालदा के रास्‍ते उत्तर प्रदेश में लाकर अलग-अलग जिलों में तस्करी किया जाता था इस गिरोह के दो सदस्यों प्रतापगढ़ निवासी दीपक कुमार और चंदन सैनिक को वाराणसी से शनिवार सुबह गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के कब्जे से 97,500 रुपये की जाली मुद्रा और पश्चिम बंगाल आने जाने के फ्लाइट और रेल टिकट बरामद किये हैं।

बयान में कहा गया कि एटीएस को सूचना मिली थी कि राज्य के कुछ लोग जाली भारतीय मुद्रा की तस्करी करने वाले पश्चिम बंगाल के गिरोह के संपर्क में है और बांग्लादेश में छपने वाली जाली मुद्रा यहां लाकर उत्तर प्रदेश के जिलों में तस्करी करते हैं। एटीएस के अनुसार दीपक कुमार और चंदन सैनिक तस्करी के कई मामलों में आरोपी हैं। अभियुक्त दीपक कुमार पूर्व में गांजा तस्करी के मामले में मांधाता थाने से और चंदन सैनिक दो बार गांजा तस्करी एवं वाहन चोरी के आरोप में जेल जा चुका है।