ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशयोगी सरकार ने 33 हजार 700 करोड़ का अनुपूरक बजट किया पेश, नई योजनाओं के लिए 14000 करोड़ का प्रस्ताव

योगी सरकार ने 33 हजार 700 करोड़ का अनुपूरक बजट किया पेश, नई योजनाओं के लिए 14000 करोड़ का प्रस्ताव

यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सोमवार को वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने वित्तीय वर्ष 2022-2023 के लिए 33700 करोड़ रुपए का अनुपूरक बजट पेश किया। नई योजनाओं के लिए 14 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे

योगी सरकार ने 33 हजार 700 करोड़ का अनुपूरक बजट किया पेश, नई योजनाओं के लिए 14000 करोड़ का प्रस्ताव
Deep Pandeyलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊMon, 05 Dec 2022 01:22 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सोमवार को वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने वित्तीय वर्ष 2022 2019 के लिए 33700 करोड़ रुपए का अनुपूरक बजट पेश किया। बजट में नई योजनाओं के लिए 14000 करोड़ रुपए का प्रस्ताव किया गया है। 

अनुपूरक बजट में फरवरी में होने वाले ग्लोबल इन्वेस्टर सम्मिट के लिए भी प्रबंध किया गया है। नगर विकास विभाग की स्वच्छ भारत मिशन, अमृत योजना, स्मार्ट सिटी व प्रधानमंत्री आवास योजना प्रस्ताव है। पीडब्ल्यूडी ने सड़कों के चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण के लिए करीब 2000 करोड़ रुपये मांगे हैं। वहीं सिंचाई विभाग के कंप्यूटराइजेशन के लिए भी राशि मिलने की उम्मीद है। सरकार की घोषणा के तहत युवाओं के लिए निशुल्क टैबलेट व स्मार्ट फोन के लिए भी बजट प्रस्तावित होगा। इसके अलावा अयोध्या में अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट व अन्य सुविधाओं के लिए भी अनुपूरक बजट के माध्यम से धन की व्यवस्था की जाएगी

बजट पेश करने से पहले सदन में सपा नेता मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि दी गई। वहीं सदन में अनुपूरक बजट पेश करने से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास पर बैठक हुई। मंत्री परिषद की बैठक में बजट को मंजूरी दी गई।

वहीं यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सोमवार को सपा सदस्यों ने विधानसभा परिसर में चौधरी चरण सिंह प्रतिमा के पास जमकर हंगामा किया। प्रदर्शन कर रहे सपाइयों ने सरकार पर आरोप लगाए। सपाइयों ने कानून व्यवस्था और महंगाई को लेकर भाजपा सरकार को घेरा। सपा सदस्यों ने आरोप लगाया कि सरकार सरकारी तंत्र का दुरुपयोग कर रही है। सपाइयों ने कहा कि सरकार जनता का पैसा का दुरुपयोग कर रही है। स्लोगन लिखे तक नारों को लेकर सपाइयों ने योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।