ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशUP Assembly Election 2022: रुझानों में बीजेपी आगे, राकेश टिकैत बोले- जनता नाराज है कुछ असर तो दिखाई देगा

UP Assembly Election 2022: रुझानों में बीजेपी आगे, राकेश टिकैत बोले- जनता नाराज है कुछ असर तो दिखाई देगा

यूपी सहित पांच राज्यों के लिए मतगणना जारी है। विभिन्न पार्टियां अपनी-अपनी जीत का दावा कर रही हैं। हालांकि शुरुआती रुझानों में बीजेपी आगे चल रही है। अबतक बीजेपी को 183 सीटों पर बढ़त मिल चुकी है। वहीं...

UP Assembly Election 2022: रुझानों में बीजेपी आगे, राकेश टिकैत बोले- जनता नाराज है कुछ असर तो दिखाई देगा
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊThu, 10 Mar 2022 10:11 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

यूपी सहित पांच राज्यों के लिए मतगणना जारी है। विभिन्न पार्टियां अपनी-अपनी जीत का दावा कर रही हैं। हालांकि शुरुआती रुझानों में बीजेपी आगे चल रही है। अबतक बीजेपी को 183 सीटों पर बढ़त मिल चुकी है। वहीं 70 सीटों पर सपा, सात पर बसपा और कांग्रेस पांच सीटों पर आगे चल रही है। इसी बीच भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने बिना नाम लिए बीजेपी पर हमला बोला है।

टिकैत का कहना है कि इनसे जनता नाराज है तो इसका कुछ तो असर दिखाई देगा। उन्होंने आजतक से बात करते हुए कहा, 'ये चोरी भी करते हैं और बेईमान भी हैं। गुंडे भी हैं। सारी चीजें हैं।  हमने यही कहा था कि अपनी मर्जी से वोट करो। जनता नाराज है और कह रही है कि ये नहीं जीतेंगे। कुछ तो असर दिखाई देगा। ये जिला पंचायत चुनाव की तरह बेईमानी करेंगे। ये गिनती शुरू होने से पहले ही कह रहे हैं कि हम ही जीतेंगे।'

यूपी इलेक्शन LIVE अपडेट्स देखने के लिए यहां क्लिक करें 

403 सीटों पर जारी है मतगणना

यूपी की 403 विधानसभा सीटों पर सात चरणों में मतदान हुआ था जिनकी गिनती जारी है। इससे पहले सातवें चरण के मतदान के खत्म होने के बा सभी चैनलों के एग्जिट पोल सामने आए थे। लगभग सभी में दोबारा योगी सरकार बनती हुई दिखाई गई थी। हालांकि सपा का कहना है कि सूबे में वही सरकार बनाएगी।

क्या किसान आंदोलन का होगा असर

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के चलते पंजब, उत्तर प्रदेश और हरियाणा सहित कई राज्यों के किसानों ने बड़ी संख्या में आंदोलन किया था। लगभग एक साल तक चले किसान आंदोलन के बाद केंद्र सरकार ने इन्हे रद्द कर दिया था। इस आंदोलन को सफल बनाने में भाकियू के राकेश टिकैत ने अहम भूमिका निभाई थी। ऐसे में किसी आदोलन का असर पश्चिमी यूपी के नतीजों पर पड़ने की उम्मीद जताई जा रही है।

सपा-रालोद गठबंधन का किया था समर्थन

भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने सपा और रालोद के गठबंधन का समर्थन किया था। मुजफ्फरनगर के किसान भवन में हुई बैठक के दौरान भाकियू नेता ने मंच से कहा कि वह गठबंधन को अपना समर्थन देते हैं। उन्होंने जनता से गठबंधन प्रत्याशियों को जिताने की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि इस चुनाव को अच्छी तरह से लड़ो, ये आप लोगों के प्रतिष्ठा की बात है। इसके अलावा उन्होंने गठबंधन के दो प्रत्याशियों को सिंबल पत्र भी दिए थे।

epaper