DA Image
1 अप्रैल, 2020|1:44|IST

अगली स्टोरी

यूपी : अमेठी में तटबंध पार करने को बेकरार गोमती, कछार के गांवों पर बढ़ा खतरा

बीते तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश का असर अब गोमती नदी पर भी दिखने लगा है। अमेठी में गोमती अपने तटबंध की सीमा को पार करने के लिए बेकरार हो गयी है। बढ़ते जलस्तर से गोमती के कछार पर बसे गांवों पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है।

लगातार हो रही बारिश से गोमती का जल स्तर बढ़ने लगा है। गोमती का पानी तिराई के खेतों को अपने आगोश में लेने लगा है। गोमती नदी में बढ़ते जलस्तर को देख कछार पर स्थित गांवों के लोगों की धड़कनें बाढ़ की आशंका से बढ़ने लगी हैं। कछार पर बसे गांव निजामुद्दीनपुर का वह घाट जहां मूर्ति विसर्जन होता है, पानी के आगोश में पूरी तरह से समा चुका है। गोमती किनारे बसे गांवों के लोग बाढ़ के खतरे को भांप एहतियातन ऊंचाई वाले स्थानों की तरफ अपनी गृहस्थी को विस्थापित करने में लग गए हैं। हालांकि अभी नदी में पानी का स्तर खतरे के निशान से नीचे है। तहसीलदार घनश्याम भारतीय ने बताया कि प्रशासन तटबंधों पर नजर बढ़ाये हुए है। बाढ़ चौकियां स्थापित की जा चुकी हैं। आपातकाल की स्थिति दिखते ही बाढ़ चौकियों को सक्रिय कर दिया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP: amethi mein tatabandh paar karane ko bekaraar gomati kachhaar ke gaanvon par badha khatara