ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशपत्नी के आत्महत्या करने की सूचना पर पति ने लगाई फांसी, सड़क किनारे पेड़ से झूलता मिला शव

पत्नी के आत्महत्या करने की सूचना पर पति ने लगाई फांसी, सड़क किनारे पेड़ से झूलता मिला शव

यूपी के अलीगढ़ में पत्नी की आत्महत्या की खबर मिलते ही एक पति ने भी आत्महत्या कर ली। पति का शव सड़क किनारे एक पेड़ से झूलता मिला। घर वालों के फोन पर पत्नी की आत्महत्या के बाद फोन नहीं उठाया।

पत्नी के आत्महत्या करने की सूचना पर पति ने लगाई फांसी, सड़क किनारे पेड़ से झूलता मिला शव
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,अलीगढ़Fri, 09 Feb 2024 10:30 AM
ऐप पर पढ़ें

अलीगढ़ में एक साल पूर्व शादी के मंडप में सात फेरे लेने वाले पति-पत्नी ने कुछ घंटों के अंतराल में आत्महत्या कर ली। बुधवार रात को पहले पत्नी ने थाना गभाना के गांव मढ़की में स्थित सुसराल में फांसी लगा ली। इसकी सूचना मिलने पर पति ने घर पहुंचने से पहले ही खेरेश्वर हाईवे के किनारे पेड़ पर फंदा डाल फांसी लगा ली। आत्महत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है।

पुलिस के अनुसार यतीश पुत्र ओमवीर (22) निवासी मढ़की, गभाना की शादी एक वर्ष पूर्व चंडौस थाना क्षेत्र के गांव ताजपुर निवासी देविका (20) वर्ष के साथ हुई थी। देविका के माता-पिता नहीं होने के चलते उसका पालन-पोषण मामा महेश व राकेश ने ही कर शादी कराई थी। पति यतीश शहर में एक निजी कंपनी में होम डिलीविरी का कार्य करता था। छह फरवरी को देविका आपने मायके में भाई की शादी समारोह में शामिल होने गई थी।

बुधवार को समारोह में शामिल होने के बाद लौटकर वापस सुसराल आ गई थी। इसी दौरान देविका के सास- सुसर रिश्तेदारी में गमी हो जाने के चलते गए हुए थे। पति शहर में नौकरी के लिए चला गया था। इसी दौरान शाम को देविका ने फंदे पर लटकर अपनी जान दें दी। आस-पास रह रहे परिजन जब यतीश के घर गए तो उन्होंने देविका का शव लटकता देखा तो उनके होश उड़ गए। सूचना दिए जाने पर सुसरालीजन व मायके पक्ष के लोग आ गए।

घर का टैक्स जमा नहीं किया तो मकान नहीं स्कूटी कर दी सीज, अब हुआ ये फैसला

पत्नी की मौत की सूचना मिलने के बाद नहीं उठा यदीप का फोन
परिजनों के अनुसार देविका के आत्महत्या करने की सूचना पति यदीप को फोन कर दी गई। बस यही आखिरी बात परिजनों की यदीप से हुई थी। इसके बाद यदीप का फोन नहीं उठा। उधर ससुरालीजन व मायके पक्ष के लोगों ने सहमति से बिना पुलिस को सूचना दिए देविका के शव का अंतिम संस्कार करा दिया। बुधवार शाम परिजन देविका का अंतिम संस्कार करने के बाद घर लौट आए। 

करीब चार घंटे बाद बुधवार रात्रि करीब 10 बजे लोधा पुलिस द्वारा परिजनों को सूचना दी गयी कि यतीश ने खेरेश्वर हाइवे राजमार्ग किनारे ही एक पेड़ पर फंदा डालकर आत्महत्या कर ली है। यह सुनकर परिजनों पर तो दुखों का पहाड़ टूट गया। परिजन थाने पहुंचे, जहां से शव हाउस पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को प्राप्त हुआ। गुरुवार को परिजनों ने यदीप का भी अंतिम संस्कार करा दिया। 

इकलौता बेटा था, मौत के बाद राज दफन
परिजनों के अनुसार यदीप परिजनों का इकलौता बेटा था। शादी के बाद से ही उसकी आदत में काफी बदलाव आ गया था। हालांकि वह किस वजह से परेशान था, इसकी जानकारी कभी परिजनों को नहीं दी थी। परिजनों ने सपने में भी नहीं सोचा था बेटे-बहू का परिवार बसते ही इतनी जल्दी खत्म हो जाएगा। मामले में इंस्पेक्टर सुधीर कुमार ने बताया कि तहरीर किसी भी पक्ष से नहीं मिली है।

एसपी सिटी, मृणांक शेखर पाठक ने कहा कि थाना गभाना व लोधा क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर पति-पत्नी ने आत्महत्या की है। पत्नी ने सुसराल में तो पति ने रास्ते में ही फासी लगाकर आत्महत्या की। घटना के पीछे पृथम दृष्टया गृहकलह सामने आ रही है। की वजह तलाशी जा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें