ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशरमजान में नमाजियों के लिए रात में खुलेगा ताजमहल, तरावीह के लिए मिली अनुमति, ये होगा समय

रमजान में नमाजियों के लिए रात में खुलेगा ताजमहल, तरावीह के लिए मिली अनुमति, ये होगा समय

रमजान के महीने में ताजमहल स्थिति मस्जिद में नमाजियों को तरावीह करने की अनुमति है। इसके लिए रात में ताजमहल खोला जाएगा। जानें ताजमहल रात में खुलने का समय और तरावीह के लिए तय किए गए नियम।

रमजान में नमाजियों के लिए रात में खुलेगा ताजमहल, तरावीह के लिए मिली अनुमति, ये होगा समय
taj mahal
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,आगराTue, 12 Mar 2024 10:07 AM
ऐप पर पढ़ें

पूरे देश में सोमवार की शाम रमजान का चांद देखा गया। मंगलवार को पहला रोजा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को रमजान की पूर्व संध्या पर लोगों को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि सभी को रमजान की शुभकामनाएं। वहीं आगरा में रमजान के महीने में ताजमहल स्थिति मस्जिद में नमाजियों को तरावीह करने की अनुमति दी गई है। इस बार इंतजामिया कमेटी के पांच लोगों को छोड़कर अन्य नमाजियों के मोबाइल ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

अधीक्षण पुरातत्विवद डॉ. राजकुमार पटेल ने आदेश जारी कर कहा है कि रमजान के महीने में रात 8:30 से 11 बजे तक ताजमहल को तरावीह के लिए खोला जाएगा। इसके लिए ताजमहल मस्जिद इंतजामिया कमेटी के अध्यक्ष सैय्यद इब्राहीम जैदी ने पत्र दिया था। जिसके आधार पर नमाजियों को तरावीह करने के लिए अनुमति प्रदान कर दी गई है। 

ये भी पढ़ें: धूप-छांव के बीच बढ़ रही गर्मी, यूपी में इस दिन होगी बारिश, मौसम विभाग ने की भविष्‍यवाणी

तरावीह करने के लिए जाने वाले नमाजियों को ताज के पूर्वी गेट से प्रवेश दिया जाएगा और इसी द्वार से वह बाहर निकलेंगे। ताजमहल के वरिष्ठ संरक्षण सहायक प्रिंस वाजपेयी ने बताया कि तरावीह के लिए जाने वाले नमाजियों को अपने साथ आधार कार्ड लाना होगा। इस दौरान द्वार पर तैनात एएसआई कर्मचारी द्वारा नमाजी का मोबाइल नंबर, पता और आधार कार्ड नंबर नोट करेगा।

उसके बाद ही प्रवेश करने की अनुमति मिलेगी। नमाजी स्थानीय ही होना चाहिए। उन्होंने बताया कि सोमवार को तरावीह के लिए 58 नमाजी ताजमहल के अंदर गए। वाजपेयी ने बताया कि रमजान के महीने में ताजमहल रात में 8:30 से 11 बजे तक खुलेगा, लेकिन पूर्णिमा के दौरान पांच दिन रात में आम सैलानी दीदार नहीं कर सकेंगे।